हकेंविवि में हिंदी पखवाड़े की धूम ,कई प्रतियोगिताएं आयोजित

0
36

महेंद्रगढ़ / विनीत पंसारी 

हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय(हकेंवि), महेन्द्रगढ़ के राजभाषा अनुभाग व विभिन्न विभागों के सहयोग से आगामी 24 सितम्बर तक हिन्दी पखवाड़ा-2018 मनाया जा रहा है। इस पखवाड़े के दौरान विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन लगातार जारी है। विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. आर.सी. कुहाड़ के मार्गदर्शन में विश्वविद्यालय लगातार हिंदी के प्रचार-प्रसार की दिशा में अग्रसर है और न सिर्फ हिंदी पखवाड़ा बल्कि विश्वविद्यालय साल भर हिंदी के कार्यालयीन प्रयोग को बढ़ावा देने के लिए कार्यशालाओं व प्रतियोगिताओं का आयोजन करता रहता है।

हिंदी पखवाड़े के अंतर्गत 12 सितम्बर को स्वरचित कविता पाठ प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। पखवाड़े के समन्वयक प्रो. रणवीर सिंह ने बताया कि जब प्रतिभागी अपनी-अपनी कविता सुना रहे थे, तो ऐसा लग रहा था, जैसे कोई कवि सम्मेलन हो। इसी तरह 13 सितम्बर को शिक्षणेतर कर्मचारियों के लिए तत्क्षण वक्तव्य प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। पखवाड़े के समन्यवयक प्रो. रणवीर सिंह ने इस प्रतियोगिता में भाग लेने वाले प्रतिभागियों की सराहना करते हुए कहा कि एकाएक विषय पर बिना किसी तैयारी के पाँच मिनट तक बोलना प्रशंसनीय है। इस प्रतियोगिता में कुल आठ विषय रखे गए थे जिसमें मेरे प्रिय लेखक, मेरी प्रिय पुस्तक, भाषा और संस्कृति का अंतर्संबंध, हिन्दी को राष्ट्रभाषा कैसे बनाया जाए, हिन्दी, अनुवाद का महत्व, कार्यालयों को अंग्रेजी से मुक्त कैसे किया जाए और आपको हिंदी क्यों अच्छी लगती है शामिल रहे। प्रतिभागियों ने इस प्रतियोगिता में बड़े उत्साह से भाग लिया। स्वरचित कविता पाठ प्रतियोगिता में निर्णायक मंडल के सदस्यों मंे डॉ. सिद्धार्थ शंकर राय, सुश्री अर्चना यादव एवं डॉ. रीनू शामिल रहे। इस प्रतियोगिता में नरेश कुमार नेे प्रथम पुरस्कार, मोनिका शर्मा एवं आशा खर्कवाल को द्वितीय पुरस्कार, ऋतु सिंह को तृतीय पुरस्कार तथा आलोक कुमार ने चतुर्थ स्थान प्राप्त किया। इसी तरह तत्क्षण वक्तव्य प्रतियोगिता के निर्णायकों में प्रो. राजेश कुमार मलिक, प्रो. अमर सिंह एवं प्रो. नीरजा धनखड़ शामिल रहे।

इस प्रतियोगिता में गौरव ने प्रथम, पवन कुमार ने द्वितीय और रामवीर गुर्जर ने तृतीय पुरस्कार प्राप्त किया। कार्यक्रम समन्वयक ने बताया कि 14 सितम्बर को हिन्दी दिवस के उपलक्ष्य में केन्द्रीय पुस्तकालय और पुस्तकालय एवं सूचना विज्ञान विभाग के सहयोग से ‘पुस्तकालय विज्ञान में हिन्दी का प्रयोग एवं उसका महत्व’ विषय पर कार्यशाला आयोजित की जायेगी। आगामी 18 सितम्बर को विश्वविद्यालय के स्कूली छात्रों हेतु निबंध प्रतियोगिता, 19 सितम्बर को स्लोगन एवं कहानी लिखो प्रतियोगिता, 20 सितम्बर को विवि के विद्यार्थियों के लिए निबंध प्रतियोगिता आयोजित है। दिनांक 24.09.2018 को समापन एवं पुरस्कार वितरण समारोह आयोजित किया जाएगा।  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here