जीवन की सफलता सत्यता में है। सत्यता का नाम धर्म है। जीवन की सफलता के लिए अत्यन्त सावधान होकर प्रत्येक कर्म करना पड़ता है, यथा - मैं क्या देखूॅं, क्या न देखूॅं, क्या सुनॅूं, क्या न सुनूॅं, क्या जानॅंू, क्या न जानूॅं, क्या करुॅं अथवा क्या न करूॅं। क्योंकि...
महाभारत युद्ध एक युग की समाप्ति की बेला पर लड़ा गया था. संसार में फैले पाप और अनाचार की समाप्ति कर, धर्म की पताका लहराने हेतु इस युद्ध का होना अनिवार्य था. इसलिए योगेश्वर श्रीकृष्ण ने स्वयं इस युद्ध की पटकथा लिखी थी. पांडवों के बड़प्पन से श्रीकृष्ण परिचित...
सहस्त्राब्दियों से विकास और विनाश देखती काशी ने कभी मोक्ष तीर्थ, तो कभी आनंद कानन के रूप में इतिहास के इति और आरंभ से साक्षात्कार किया. वाराणसी और बनारस के नाम से विख्यात इस नगर के बारे में कथा प्रचलित है कि भगवान शिव के त्रिशूल पर बसी काशी...
भारत में प्राचीन काल से जादू, टोना, भूत-प्रेत आदि की बातें होती आ रही हैं. कई लोग मानते हैं कि उनके जीवन में आने वाली समस्याएं काला जादू की वजह से ही है. क्‍या वाकई में ये सच है या सिर्फ़ झूठी बातें हैं. आज भी काला जादू एक...
केरल के तिरुवनन्तपुरम में स्थित पद्मनाभस्वामी मंदिर काफ़ी प्रसिद्ध है. यह मंदिर पूरी तरह से भगवान विष्णु को समर्पित है. यह भारत के प्रमुख वैष्णव मंदिरों में से एक है. देश-विदेश के कई श्रद्धालु इस मंदिर में आते हैं. इस मंदिर के गर्भगृह में भगवान विष्णु की विशाल मूर्ति...
कोई भी बैंक हो, अपनी सिक्योरिटी को लेकर के काफी चौकन्ना रहता है. यहां पर जनता के लाखों, करोड़ों रुपयों के साथ ही बेहद ज़रूरी कागजात भी रखे होते हैं. ऐसे में उनकी सुरक्षा के चौकस इंतज़ाम तो होने ही चाहिए. लेकिन देश में यूको बैंक की एक ऐसी...
बीता हुआ दौर और समय किसे अच्छा नहीं लगता. हम अक्सरहा बीते दिनों को लेकर नॉस्टैलजिक हो जाते हैं. हम अपने पुरखों से हमेशा ही सुनते रहे हैं कि कैसे उनके जमाने में 1 रुपये में किलो भर शुद्ध देसी घी मिल जाया करता था. कैसे दादा ने दादी...
डा.एल.एन.वैष्णव दमोह/ मान्यताओं की पूर्ति के साथ ही लोगों के संकटों का हरण होने पर भक्तोंं की भारी भीड लगातार यहां उमडती देखी जा सकती है। संकट मोचक पवन पुत्र के दरबार में लगातार यूं तो प्रतिदिन श्रृद्धालुओं की भीड होती है परन्तु यह मंगलवार,शनिवार के साथ विशेष पर्वों पर...
इस दुनिया में भगवान को मानने वाले एक से बढ़ कर एक भक्त हैं, जो अपने आराध्य को मनाने के लिए क्या-क्या नहीं करते. अगर आप सावन के महीने में कांवड़ यात्रा को देख लें, तो यात्रा के दौरान आपको एक से बढ़ कर एक ऐसे दृश्य देखने को...
कुछ नियम ऐसे होते हैं, जिसे हर किसी को मानना पड़ता है, भले ही वह कोई खास व्यक्ति हो या फिर आम. जैसे सृष्टि के नियम से न सिर्फ़ इंसान बंधा होता है, बल्कि भगवान भी उतने ही बंधे होते हैं और उन नियमों का पालन उन्हें भी करना...
कृष्ण को पूर्णावतार कहा गया है। कृष्ण के जीवन में वह सबकुछ है जिसकी मानव को आवश्यकता होती है। कृष्ण गुरु हैं, तो शिष्य भी। आदर्श पति हैं तो प्रेमी भी। आदर्श मित्र हैं, तो शत्रु भी। वे आदर्श पुत्र हैं, तो पिता भी। युद्ध में कुशल हैं तो...
रामायण और महाभारत के बाद और भी कई पुराण हैं, जिनके बारे में बहुत कम लोग जानते हैं. भारत दुनिया का आध्यात्मिक गुरू रहा है. माना जाता है गरुण पुराण में इतनी शक्ति है कि ये मृत शरीर में भी प्राण का संचार कर सकता है. यही करण है...
वास्तुशास्त्र के अनुसार कुछ चीज़ें हैं, जिनकी आपके घर में मौजूदगी आपको वित्तीय लाभ होने से रोकती हैं. मसलन आपके घर में मौजूद कुछ चीज़ें ही आपको अमीर बनाने से रोकती हैं. अगर आप ऐसा नहीं चाहते तो जल्द ही इन्हें अपने घर से बाहर निकाल दें. 1. कबूतरों का...
अकसर ये माना जाता है कि प्राचीन भारत में जो धार्मिक मान्यताएं रही हैं, वही आज प्राय: किसी खोज या आविष्कार का प्रतिनिधित्व करती रही हैं. आज भी हम एक ऐसे ही प्राचीन आविष्कार की बात करेंगे, जिसका नाता आज के आविष्कार से है. भारत में जितने भी धर्म...
हर भारतीय परंपरा के पीछे कोई न कोई Scientific Reason ज़रूर होता है. अक्सर नए लोग परम्पराओं को अंधविश्वास समझ कर नकार देते हैं. परम्पराएं मात्र अन्धविश्वास पर बनी होती हैं, ऐसा नहीं है. इन तथ्यों को जान कर आपको भी यकीन हो जायेगा कि परम्पराएं और मान्यताएं Scientific...
सनातन धर्म में ईश्वर का वास कण-कण में माना गया है. संसार के संहारक शिव को लिंग के रूप में पूजने की व्यवस्था है. उसी तरह संसार के पालनकर्ता विष्णु को शालीग्राम रूप में पूजा जाता है. दूसरे शब्दों में कहें तो विष्णु का पूजन जिस विशेष पत्थर के...
सदियों से विभिन्न धार्मिक ग्रंथ विज्ञान को चुनौती देते आ रहे हैं. ग्रंथों में लिखे तथ्य आज भी लोगों को चौंका देते हैं. ऐसा ही एक तथ्य आपका विश्वास हमारे धार्मिक ग्रंथों की ओर और मजबूत कर देगा. हनुमान चालीसा में लिखी है धरती से सूरज के बीच की दूरी- 17वीं...
बुद्ध भगवान के दर्शन की चाह रखने वालों के लिए हम लेकर आये हैं एक अच्छी जानकारी. चीन की सबसे पवित्र जगहों में से एक लेशान बुद्ध दुनिया के सबसे ऊंचे बुद्ध की प्रतिमा है. इस प्रतिमा की ऊंचाई 233 फ़ीट है और इसको बनाने में 90 साल लगे हैं....
जीने की तमन्ना लिये हर साल लाखों की संख्या में लोग गांवों से शहर की ओर आते हैं। लेकिन इस पृथ्वी पर एक शहर ऐसा जहां लोग मरने की इच्छा लेकर आते हैं। जी हां यह शहर है तीनों लोकों से न्यारी काशी। जिस देश में बनारस और वर्ल्‍ड मैप...
मृत्यु जीवन का अन्तिम पड़ाव होता है. यह दुनिया का शाश्वत सत्य है कि जो आया है वो जाएगा. सभ्यताओं के विकास के साथ-साथ इन्सान ने इस अन्तिम पड़ाव की यात्रा के लिए दाह-संस्कार की अलग-अलग विधियों को अपनाया. समय के साथ धर्म की अवधारणा का जन्म हुआ.  Source: nithyananda दुनिया के...
- Advertisement -

Get in touch

450FollowersFollow
0FollowersFollow
1,339FollowersFollow

Recent Posts

Most Popular

मैं वो हूँ जो स्कूल में 0.5 मार्क्स को रोया है: डॉक्टर सुभाष शल्य

एक मामूली सा डाॅक्टर हूँ, बेशक कोई भगवान नही डाॅक्टर का डाॅक्टर होना मगर इतना भी आसान नही इस दर्जे की खातिर मैने बचपन को खोया...

बॉडी बनाने के लिए दरोगा के बेटे ने लिया घोड़ों का इंजेक्शन, फिर हुआ...

नई दिल्ली। जवानी में बॉडी बनाने का अरमान सभी पालते हैं। लेकिन दिल्ली के एक लड़के ने बॉडी बनाने के लिए कोच के कहने पर...

महेंद्रगढ जिले में नही है प्रतिभाओ की कोई कमी : मनीष राजपुत

 संदीप सेठ और ख़ालड़ा फेन  जनसेवा ग्रुप के प्रमुख मनीष राजपुत ने किया गौतम बौद्ध कराटे अकेडमी के प्रतिभावान खिलाड़ियों को सम्मानित   महेंद्रगढ़ (विनीत...

अहिर रेजिमेंट का गठन  जल्द से जल्द करें सरकार – कुलदीप यादव

महेंद्रगढ़ (विनीत पंसारी) सरताज जनसेवा ग्रुप के PRO कुलदीप यादव ने माननीय प्रधानमंत्री के नाम एक ज्ञापन अहिर रेजिमेंट के गठन के लिये  महेंद्रगढ़...

छात्र संघ चुनाव मे अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने महेन्द्रगढ में लहराया जीत का...

महेन्द्रगढ ( मंजीत डाबला ) अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के निरंतर संघर्ष से 22 वर्षों के बाद हरियाणा में छात्रसंघ चुनाव हुए इसी कड़ी...