Archive | LIFE STYLE

आपकी राशि के ​हिसाब से ये देश आपके लिए ही हैं!

आपकी जन्म राशि और वर्ल्ड टूरिज्‍़म में क्या कनेक्शन होता है कभी सोचा है आपने? दिमाग़ पर ज़ोर मत डालिए. हम आपको सब बताएंगे. राशियों के हिसाब से अगर कहीं घूमने का प्लान बनाया जाये, तो मस्ती डबल हो जायेगी.

यहां राशियों के हिसाब से कुछ ऐसे विदेशी डेस्टिनेशन हम आपको बता रहे हैं, जहां जाकर आप वहीं बस जाना चाहेंगे. 

1. कन्या 

Source: Theaussienomad

कन्या राशि वालों को नई जगहों की सैर करना अच्छा लगता है. बिना रुके-थके घूमने वाले इस राशि के लोगों के लिए 'रोम' घूमना सबसे ज़्यादा अच्छा साबित होगा. ये ख़ूबसूरत शहर इस राशि वालों के लिए कभी न भूलने वाला अनुभव साबित होगा. 

2. तुला

Source: Escapehere

LIBRA राशि के लोग बहुत मिलनसार और सामाजिक होते हैं. शौक़ के लिए ये लोग बहुत क्रेज़ी भी होते हैं. इस राशि के लोगों के लिए सबसे बेहतरीन जगह है स्पेन. यहां के लोगों का स्वाभाव बहुत दोस्ताना होता है. यहां के ख़ूबसूरत बीच, बेहतरीन पहाड़ियां और ख़ुशगवार मौसम यात्रा को हमेशा के लिए यादगार बना देगा.

3. वृश्चिक

Source: Radiologyintl

इस राशि के लोग बहुत महत्वाकांक्षी होते हैं. ये लोग चाहते हैं कि रातों-रात इनके सारे अरमान पूरे हो जाएं. ये लोगों से घुलने-मिलने में सहज नहीं महसूस करते हैं, साथ में ये भी चाहते हैं कि इनकी प्राइवेसी में कोई तांक-झांक न करे. इस राशि के लोगों के लिए सबसे अच्छी जगह है Venice.

4. धनु 

Source: Zoom

इस राशि के लोगों की घूमने में बहुत दिलचस्पी होती है. नई जगहों पर जाना, वहां की संस्कृति को समझना इस राशी के लोगों का पसंदीदा काम होता है.

इनके लिए सबसे बेहतरीन जगह है 'मिस्र'. वहां की विविधता, ख़ूबसूरती और संस्कृति में ये ख़ुद को भूल जाएंगे.

5. मकर

Source: Christophers

इस राशि के लोग बहुत मेहनती होते हैं. ऐसे लोगों में लीडरशिप का टैलेंट कूट-कूट के भरा होता है. इस राशि के लोगों के नखरे भी शाही अन्दाज़ वाले होते हैं. उन्हें इतिहास जानने का शौक़ होता है. ऐसे में इस राशि के लोगों के लिए Prague से बेहतरीन कोई शहर नहीं है.

6. कुंभ 

Source: Tctechcrunch

इस राशि के लोग अलग-अलग देशों का इतिहास जानने में बहुत रुचि रखते हैं. इन्हें 'बर्लिन' बहुत पसंद आएगा.

7. मीन

Source: Telegraph

इस राशि के लोगों के सपने बहुत बड़े होते हैं. इन्हें प्राकृतिक सौंदर्य बहुत आकर्षित करता है. ऐसे लोग धार्मिक और आध्यात्मिक प्रवृत्ति के होते हैं. इस राशि के लोगों को 'जापान' ज़रूर घूमना चाहिए. वहां इन्हें आध्यात्मिकता के साथ-साथ ख़ुद को जानने का भी मौका मिलेगा, जो इन्हें बेहद पसंद आएगा.

8. मेष

Source: Media

इस राशि के लोग घुमक्कड़ी में बहुत यक़ीन रखते हैं. ऐसे लोग अकसर नई जगहों पर जा कर ख़ुद को एक्सप्लोर करना चाहते हैं. ऐसे लोगों के लिए 'दुबई' से बेहतर कोई जगह नहीं है.

9. वृषभ

Source: Abovethelaw

इस राशि के लोग छुट्टियों को बहुत पसंद करते हैं. ये बीयर, वाइन और अच्छे खाने के शौक़ीन होते हैं. इन्हें शॉपिंग बहुत पसंद होती है. ऐसे लोगों को Sonoma County, California ज़रूर घूमना चाहिए.

10. मिथुन 

Source: Media

इस राशि के लोग बहुत सोशल होते हैं. इन्हें भीड़-भाड़ बहुत पसंद होती है. अलग-अलग लोगों से मिलना उनकी संस्कृति को समझना इस राशि के लोगों का पसंदीदा काम होता है. इनके लिए 'लंदन' सबसे बेहतरीन शहर है. 

 

11. कर्क

Source: Letstravelmag

इस राशि के लोग बहुत पारिवारिक होते हैं. ये चाहते हैं जहां जाएं, वहां उनके साथ पूरा परिवार भी साथ चले. ऐसे लोगों के लिए 'Greece' से बेहतरीन जगह कोई नहीं है.

 

12. सिंह

Source: Nickstravelbug

इस राशि के लोगों को संगीत और विलासिता बहुत पसंद होती है. इन लोगों को ऐसे ही शहर पसंद आते हैं, जहां की संस्कृति बहुत समृद्ध रही हो. ऐसे में इनके लिए 'Paris' से बेहतरीन जगह कहीं नहीं मिलेगी.

हमने आपकी राशि के हिसाब से इतने बेहतरीन फ़ॉरेन डेस्टिनेशन बता दिए हैं, तो फिर देर किस बात की है. चुनिए अपनी राशि के हिसाब से डेस्टिनेशन और टूरिस्ट वीज़ा के साथ निकल पड़िए सैर-सपाटे की ओर क्योंकि घूमेंगे नहीं तो कैसे समझेंगे दुनिया को?

 

Article Source: Allwomenstalk

Posted in LIFE STYLE, TRAVELComments (0)

73 साल के बद्री 72 दिनों में 22,200 किलोमीटर की रोड ट्रिप कर सबको अपना Fan बना चुके हैं

हम में से ज़्यादातर लोग शायद 22,200 किलोमीटर गाड़ी चला कर दुनिया घूमने के बारे सोच भी न सकें, लेकिन एक 73 साल के व्यक्ति ने ऐसा सोचा भी और किया भी. वो लन्दन तक गाड़ी चला कर पहुंचे और इस बीच कई जगहों पर घूमे.

 

73 वर्षीय बद्री बलदावा और उनकी 63 वर्षीय पत्नी पुष्पा ने 10 साल की पोती निशी के साथ मुंबई से लंदन का सफ़र सड़क से पूरा किया. उन्होंने अपने फ़ेसबुक अकाउंट पर इस सफ़र की तस्वीरें शेयर की हैं.


वो मार्च 23 को अपनी बीएमडब्लू एक्स 5 पर रवाना हुए थे और 19 देशों को पार करते हुए 72 दिनों में लंदन पहुंचे. इसकी प्लानिंग वो 2016 से कर रहे थे. 23 मार्च को गोरेगांव स्पोर्ट्स क्लब से वो रवाना हुए थे.


बद्री बलदावा ने कहा कि मुंबई से लंदन जाने के लिए कोई और रास्ता नहीं था. अगर वो पाकिस्तान और अफगानिस्तान होते हुए जाते, तो उनकी सुरक्षा की कोई गारंटी नहीं थी. तिब्बत के रास्ते उत्तर की ओर नहीं जा सकते थे, क्योंकि चीन इसकी इजाज़त नहीं देता.


बलदावा, स्टील निर्यातक और पेशे से चार्टर्ड एकाउंटेंट हैं. वो अपने परिवार के साथ मुंबई में रहते हैं. वो पहले भारतीय दंपति हैं, जिसने 90 डिग्री नार्थ पोल के साथ-साथ माउन्ट एवेरस्ट जैसी जगहें घूमी हैं.


 

इस ट्रिप के दौरान वो भारत को और करीब से जान पाए. गंगा के घाटों से लेकर चेरापूंजी तक उन्होंने घूमा. एक समय ऐसा भी आया था जब उन्होंने चार दिनों में चार देशों को पार किया. 2 जून को वो लन्दन पहुंचे.

 मुंबई की इस जोड़ी ने दुनिया को दिखा दिया है कि सपनों को पूरा करने में उम्र कभी बाधा नहीं बनती. 

 

Source:Topyaps

Posted in INDIA, LIFE STYLE, TRAVELComments (0)

Travel Websites, जिनकी मदद से आप घर बैठे कर सकते हैं अपने सफ़र की सारी Planning

सफ़र पर निकलने से पहले सबसे बड़ी चिन्ता इस बात की रहती है कि टिकट कैसे लेंगे, कैसे जाएंगे और जाने के बाद कहां रुकेंगे? इसके अलावा अपने बज़ट के हिसाब से होटल का पता लगाना भी एक बड़ा सिरदर्द होता है. इन सब बातों से जो लोग भी परेशान हैं, उनके लिए ट्रैवल वेबसाइट्स हैं. इन ट्रैवल वेबसाइट्स पर जाकर टिकट से लेकर होटल की बुकिंग बहुत ही आसानी से की जा सकती है.

आज हम आपको 15 ऐसी ही ट्रैवल वेबसाइट्स के बारे में बताएंगे, जो आपके सफ़र को बेहद आसान बना सकती हैं.

1. Ticketgoose


Ticketgoose, उन लोगों के लिए काफ़ी बेहतरीन है, जो ज़्यादा लम्बे सफ़र पर नहीं जाते हैं और बस से यात्रा करना पसंद करते हैं. ये वेबसाइट बस सेवा मुहैया करवाती है. इससे टिकट बुक करना काफ़ी आसान है. गोवा, चेन्नई, बेंगलुरु और कोच्चि जैसे शहरों में Ticketgoose अपनी बस सेवा देती है.

2. Expedia


अगर आपको लगता है कि आपको सफ़र में वो नहीं मिला, जिसका वादा किया गया था, तो ये वेबसाइट आपके अतिरिक्त पैसों को लौटा देगी. ये Expedia की सबसे बड़ी ख़ूबी है. Expedia बेहतरीन ऑनलाइन ट्रैवल बुकिंग कम्पनी है, जो किफ़ायती दामों पर हवाई जहाज़ और बस की टिकट उपलब्ध करवाती है.

3. MakeMyTrip


MakeMyTrip वेबसाइट पर International ट्रैवल पर आकर्षक ऑफ़र और छूट मिलती है. इस वेबसाइट का एक ब्लॉग भी है, जहां पर ये मौसम के अनुसार बेहतरीन पर्यटन स्थलों की जानकारी देते हैं. MakeMyTrip से आप यात्रा के लिए टिकट के साथ-साथ होटल भी बुक कर सकते हैं. इसे भारत की सबसे बेहतरीन ट्रैवल वेबसाइट माना जाता है.

4. IRCTC


IRCTC (Indian Railway Catering and Tourism Corporation) दुनिया की सबसे बड़ी रेल सेवाएं देने वाली वेबसाइट्स में से एक है. ये अपने यात्रियों के लिए काफ़ी किफ़ायती और आकर्षक दरों पर टिकट पेश करती है. IRCTC के माध्यम से आप न केवल ट्रेन, बल्कि हवाई जहाज़ और Luxury ट्रेन की टिकट भी बुक कर सकते हैं. IRCTC की वेबसाइट आम लोगों के बीच काफ़ी लोकप्रिय है.

5. Veena World


Veena World वेबसाइट Veena Patil Hospitality Pvt. Ltd. के द्वारा संचालित की जाती है. इस वेबसाइट से आप हवाई जहाज़ से लेकर बस तक के टिकट की Booking कर सकते हैं. Veena World वेबसाइट से ऑनलाइन और ऑफ़लाइन दोनों तरह से टिकट बुक की जा सकती है.इसका ऑफ़िस मुम्बई में है.

6. Indian Holiday


जैसा की नाम से ही पता चलता है कि Indian Holiday, भारत की ट्रैवल वेबसाइट है. इस वेबसाइट को भारत सरकार के पर्यटन मंत्रालय से भी मान्यता प्राप्त है. Indian Holiday 20 सालों से ट्रैवल के क्षेत्र में अपनी सेवाएं दे रही है. ये वेबसाइट मुख्य रूप से पर्यटन स्थलों के लिए अपनी सेवाएं मुहैया करवाती है.

7. Thomas Cook


Thomas Cook एक इन्टरनेशनल ट्रैवल कम्पनी है, जो दुनिया के कई देशों में अपनी सेवाएं प्रदान करती है. इस वेबसाइट के ज़रिए आप हवाई जहाज़ से लेकर क्रूज़ यात्रा का मज़ा ले सकते हैं. इस वेबसाइट पर टिकट के साथ-साथ हनीमून के लिए होटल भी बुक किए जा सकते हैं. Thomas Cook वेबसाइट अपने ग्राहकों को समय-समय पर आकर्षक छूट भी देती है.

8. TravelGuru


TravelGuru एक बेहतरीन वेबसाइट है, जिससे दुनिया भर में किफ़ायती दामों में होटल बुक किए जा सकते हैं. ये ट्रैवल वेबसाइट समय-समय आकर्षक ऑफ़र भी निकालती है और भाग्यशाली लोगों को तय कीमत से आधे में होटल बुकिंग मिल जाती है.

9. Incredible India


Incredible India, भारत सरकार की आधिकाारिक पर्यटन वेबसाइट है. इस वेबसाइट पर भारत के प्रमुख दर्शनीय स्थलों के बारे में जानकारी दी गई है. इसके अलावा इस वेबसाइट से वीज़ा, हवाई टिकट से लेकर बस के टिकट तक की जानकारी ली जा सकती है. अपनी इन ख़ूबियों की वजह से Incredible India दुनिया की सबसे ज़्यादा ट्रैफ़िक वाली वेबसाइटों में से एक है.

10. Goibibo


Goibibo, एक बेहद लोकप्रिय ऑनलाइन ट्रैवल वेबसाइट है. ये वेबसाइट कई तरह के आकर्षक ऑफ़र की मदद से ग्राहकों को लुभाती है. Goibibo का मुख्य कार्यालय गुरूग्राम (पहले गुड़गांव) में है और यहां से वेबसाइट पूरी दुनिया में अपने ग्राहकों को होटल की सुविधायें उपलब्ध करवाती है.

11. ClearTrip


ट्रैवल करने वाले लोगों के लिए ClearTrip एक बेहतरीन ट्रैवल वेबसाइट है क्योंकि इसके माध्यम से हवाई जहाज़ के टिकट से लेकर होटल तक आसानी से बुक हो जाता है. ये वेबसाइट अपने ग्राहकों को सारी सेवाएं काफ़ी कम दामों में मुहैया करवाती है, जिसकी वजह से लोगों के बीच ClearTrip ख़ासी लोकप्रिय है.

12. Travelchacha


Travelchacha वेबसाइट की मदद से आप अपनी यात्रा को काफ़ी आसान बना सकते हैं. ये वेबसाइट आपको अपनी छुट्टी को बेहतर ढंग से मनाने के विकल्प देती है. इसके माध्यम से देश-विदेश में कहीं भी टिकट और होटल बुक कर सकते हैं.

13. Travelogy India


जो लोग भारत में या फिर भारत के नज़दीकी देश जैसे भूटान और नेपाल में यात्रा के लिए टिकट और होटल बुक करना चाहते हैं, उनके लिए Travelogy India अच्छी ट्रैवल वेबसाइट साबित हो सकती है. ये ट्रैवल कम्पनी आकर्षक दामों में अपने ग्राहकों को अच्छी सुविधाएं मुहैया करवाती है.

14. Ezeego1


Ezeego1 भी एक अच्छी ट्रैवल वेबसाइट है, जो लोगों को सस्ती दरों पर हवाई जहाज़ के टिकट और होटल को बुक करवाने में मदद करती है. ये वेबसाइट हमेशा कोई न कोई स्पेशल ऑफ़र देती रहती है, जिसका फ़ायदा उठा कर लोग अपने सफ़र को सस्ता और यादगार बनाते हैं.

15. Yatra


Yatra वेबसाइट अपने ग्राहकों को किफ़ायती दामों पर हवाई जहाज़, ट्रेन और बस के टिकट बुक करवाने का ऑफ़र देती है. इस वेबसाइट की मदद से आप अपने सफ़र को काफ़ी आसान और सस्ता बना सकते हैं. Yatra वेबसाइट के द्वारा समय-समय पर देश-विदेश का सफ़र करने पर काफ़ी आकर्षक ऑफ़र दिए जाते हैं.

ये सभी ट्रैवल वेबसाइट्स काफ़ी विश्वसनीय और लोकप्रिय हैं. इन वेबसाइट्स की मदद से लोगों का टिकट की लम्बी लाइन में खड़े रहने वाला कीमती समय बच जाता है. इसके अलावा लोगों को ट्रैवल वेबसाइट्स की मदद की वजह से अब होटल ढूंढने के लिए भी धक्के नहीं खाने पड़ते हैं. आप भी अगर कहीं घूमने का प्लान बना रहे हैं, तो इन वेबसाइट्स की मदद से अपनी टिकट और होटल बुक करके निश्चिन्त हो जाइए.

 

Article Source: Walkthroughindia & Indiatravelblog

Posted in INDIA, LIFE STYLE, TRAVELComments (0)

रंग-रूप के कारण इस मॉडल का मज़ाक बना था, अब लोग इसकी तुलना ‘Barbie’ से कर रहे हैं!

हम ऐसी दुनिया में रहते हैं, जहां लोग भगवान की भी आलोचना करते हैं. दुनिया में शायद ही ऐसा कोई हो, जिसके आलोचक न हों. लोग जैसे-जैसे नाम कमाते जाते हैं, उनकी बुराई भलाई करने वाले लोग बढ़ते जाते है. इन आलोचनाओं को अपनी ताकत बनाने का हुनर अगर आप सीख जाएं, तो शायद आप दुनिया में कोई भी मनचाहा मुकाम हासिल कर सकते हैं.

'Australia’s Next Top Model' के 2013 सीज़न में दक्षिण सूडानी-ऑस्ट्रेलियाई मॉडल Duckie Thot सबसे आगे थीं. इस प्रतियोगिता को जीतने के बाद ​भी Duckie के लिए कामयाबी के रास्ते नहीं खुले. सोशल मीडिया में Duckie के रंग, वज़न और बालों का ख़ूब मज़ाक उड़ाया गया और बुरा-भला कहा गया. यहां तक कि US Top Model की पूर्व प्रतिभागी Winnie Harlow ने भी उसे 'Cauliflower Head', यानि फूलगोभी का सिर कहा था.

ये बातें Duckie ने 2016 में 'Teen Vogue' के एक इंटरव्यू में बताईं. उसने बताया कि वो इस सब से टूट चुकी थी. बाद में उसे एक मेंटर Charlotte Dawson मिली, जिसके साथ भी ऐसा ही कुछ हुआ ​था. Dawson ने Duckie को काफ़ी प्रोत्साहित किया. हालांकि 2014 में Dawson ने आत्महत्या कर ली, लेकिन Duckie को उसका खोया हुआ आत्मविश्वास दोबारा दे गई.


अब Duckie Thot तीन साल बाद दोबारा सोशल मीडिया पर आई है और इस बार पूरे धमाके के साथ. Duckie के Instagram पर तीन लाख फॉलोअर्स हैं और फ़ैंस ने उसे ‘Barbie’ का खिताब भी दिया है. 






 







 

Source- Boredpanda

Posted in LIFE STYLEComments (0)

आप प्रतिदिन 2000 से भी कम रुपयों में घूम सकते हो इन 20 देशो में

अगर आप ऐसा सोचते हैं कि विदेश घूमना महंगा है तो दोबारा सोचने की ज़रूरत है, क्योंकि ऐसे बहुत सारे देश हैं जो अपने देश के ही कई शहरों से सस्ते हैं.

1) Nepal


नेपाल हमारे पड़ोस में ही है. ऊंचे-ऊंचे पर्वतों और घने जंगलों का ये देश बहुत गरीब होने के बावजूद प्रकृति के बहुत से खज़ानों को ख़ुद में समेटे हुए है. नेपाल में आप Trekking जैसे कई Adventurous Sports का मज़ा लेने के साथ ही Natural Tours का भी लुत्फ़ उठा सकते हैं.

यहां ज़रूर जाएं- नेपाल में आप पारसा Wildlife Sanctuary, भक्तपुर, शिवपुरीगार्जुन नेशनल पार्क, पशुपतिनाथ मंदिर, दक्षिणकाली मंदिर, लुंबिनी, मनोकामना मंदिर आदि जगहों पर घूमने जा सकते हैं.

2) Vietnam


वियतनाम यानि की जन्नत का जीता-जागता रूप. इस देश पर भी कुदरत की मेहर है. यहां आप, Yatch और Boat Cruise का मज़ा ले सकते हैं. यहां जाकर लोकल मार्केट की सैर करना न भूलें.

यहां ज़रूर जाएं- ऐतिहासिक Ho Chi Minh शहर, Ha Long Bay, Mekong Delta, यहां के दर्शनीय स्थल हैं. इसके अलावा धान की खेती से पटे पहाड़ देखकर भी आपका मन खुश हो जाएगा.

3) Bhutan


इस देश ने Happiest Country of The World का ख़िताब हासिल किया है. हिमालय की गोद में बसा ये देश, सबसे ज़्यादा पॉकेट फ्रेंडली देश है. और भारतीय यहां बिना पासपोर्ट के भी जा सकते हैं. हिमालय की चोटियों के दर्शन के अलावा, इस देश की संस्कृति भी आपका दिल जीत लेगी.

यहां ज़रूर जाएं- यहां पर Phuentsholing, Thimpu, Dochula Paas जैसे कई जगह हैं घूमने के लिए.

4) Sri Lanka


भारतीय यात्रियों का इस देश से ज़रा ज़्यादा लगाव है, रामायण वाले कनेक्शन के कारण. पर रामायण से जुड़े सुबूत के अलावा भी यहां बहुत कुछ है. लंका जाके रावण के परिवार को ढूंढने की कोशिश करने की ज़रूरत नहीं है. खा-पीकर वापस आ जाना.

यहां ज़रूर जाएं- Colombo, Kandy, Yapahuwa Kurunegala, Kirinda आदि कहीं भी जा सकते हो. नाम याद करने में थोड़ी कठिनाई होगी, पर घूमने के लिए इतना तो कर ही सकते हो.

5) Laos


ऐसा देश जहां ऊंचे-ऊंचे पहाड़ होने के साथ-साथ, बौद्ध संस्कृति और फ्रेंच Architecture का समागम भी देखने को मिले, ऐसा ही देश है Laos.

यहां ज़रूर जाएं- साइकिल उठाइए और निकल पड़िए इस देश की गलियों में. यहां Luang Prabang, That Luang Vang Viengm Wat Sisaket, Buddha Park जैसे कई दर्शनीय स्थान हैं.

6) Thailand


इतिहास और मॉर्डनाइज़ेशन का Perfect Blend है ये देश. यहां की मॉर्डन बिल्डिंग जितने ख़ूबसूरत हैं, उतने ही ऐतिहासिक महल भी.

यहां ज़रूर जाएं- Thailand में Bangkok, Phuket, Pattaya जैसे कई शहर हैं घूमने के लिए. थायलैंड जाकर सफ़ेद हाथी देखना मत भूलना.

7) Singapore


सिंगापुर एक Diverse देश है जहां आप बहुत कुछ Explore कर सकते हैं. अगर आपका हाथ तंग है तो भी आप यहां जाकर बहुत खुश हो जाएंगे.

यहां ज़रूर जाएं- सिंगापुर जाने के बाद, Marina Bay, Sentosa Island, Universal Studios, Botanical Garden आदि जगह पर घूम सकते हैं.

8) Malaysia


घूमने के लिए भारतीयों के Favorite Destinations में से एक है ये देश.यहां के ख़ूबसूरत Beaches आपकी सारी थकान दूर कर देंगे.

यहां ज़रूर जाएं- Malaysia जाकर आप Kuala Lumpur, Miri, Petronas Tower, Pangkor आदि जगह जा सकते हैं. Beaches पर ज़रा अपनी नज़रों पर कन्ट्रोल रखियेगा.

9) Indonesia


दुनिया के सबसे बड़े Archipelago States में से एक है इंडोनेशिया. Archipelago, यानि की एक द्वीपों की एक श्रृंखला. इस के साथ यहां घूमना अपने देश के कई राज्यों से सस्ता है.

यहां ज़रूर जाएं- इंडोनेशिया में आप Jakarta, Malang, Bandung, Yogyakart जैसे स्थानों पर घूम सकते हैं. इंडोनेशिया की संस्कृति की झलक आपको यहां ज़रूर दिखेगी.

10) Maldives


Maldives के महंगे Resorts के बारे में सुनकर लोगों को लगता है कि ये बहुत महंगी जगह है, पर असल में घूमने के लिये ये बहुत ही सस्ती जगह है. Proper Planning और Research से आप यहां आराम से घूम सकते हैं.

यहां ज़रूर जाएं- Maldives के समुद्री तट बेहद ख़ूबसूरत हैं. आप यहां जाकर Velligandu Beach Island, Atoll Transfer, Alimatha Island, Hukuruu Miskiiy जैसी जगहों पर घूम सकते हैं.

11) Seychelles


Seychelles, 115 द्वीपों का समूह है. ख़ूबसूरत नज़ारों और प्रकृति के सौंदर्य के बीच आप कम पैसों में ही बहुत अच्छा महसूस करेंगे.

यहां ज़रूर जाएं- यहां पर आप Curieuse Island, Cousin Island, Aride Island, Mahe Island आदि जगहों पर घूम सकते हैं.

12) Cambodia


Cambodia यानि कि विश्व प्रसिद्ध अंगकोर वाट मंदिर का देश. बजट ट्रैवेलर्स के लिए तो ये जगह बेस्ट है. प्राकृतिक सुंदरता और सांस्कृतिक विरासत का बेस्ट कोम्बो है ये देश.

यहां ज़रूर जाएं- Cambodia में आप अंगकोर वाट मंदिर, Silver Pagoda, Koh Ker, Bayon Temple, Tonle Sap, Preah Vihear आदि जगह घूम सकते हैं.

13) Philippines


Philippines में ऐसे कई प्राकृतिक ख़ज़ाने हैं, जो बाकि दुनिया से छिपे हुए हैं.

यहां ज़रूर जाएं- Philippines जाकर Palawan, El Nido, Iloilo, Cordilleras जाना मत भूलियेगा.

14) Turkey


अपनी सांस्कृतिक विरासत के लिए ये देश पूरी दुनिया में मशहूर है. यहां के लोग जितने दोस्ताना हैं, ये देश भी घूमने के लिए उतना ही बजट-फ्रेंडली है.

यहां ज़रूर जाएं- तुर्की में आप Istanbul, Antalya, Cappadocia, Troy, Pamukkale जैसी जगहों पर घूम सकते हैं.

15) Myanmar


यहां की ख़ूबसूरती ने आज इस देश को Travelers की पसंदीदा जगहों में से एक बना दिया है.

यहां ज़रूर जाएं- यहां पहुंचकर Yangoon, Bagan, Mandalay, Golden Rock Pagoda आदि जगहों पर जाना न भूलें.

16) Lebanon


दुनिया के सबसे पुराने देशों में से एक है, लेबनान. अगर आपके हाथ ज़रा तंग है, तो ये देश आपके लिये Perfect है.

यहां ज़रूर जाएं- लेबनान में कई ऐतिहासिक जगहें हैं. यहां पर आप Tripoli, Batroun, Deir el Qamar जैसी जगहों पर घूम सकते हैं.

17) Hong Kong


हॉन्ग कॉन्ग में एक तरफ़ जहां ऊंची-ऊंची इमारतें हैं, वहीं दूसरी तरफ़ प्रकृति की ख़ूबसूरती भी है. बच्चे हों या बड़े, यहां सबके लिए कुछ न कुछ ज़रूर मिलेगा.

यहां ज़रूर जाएं- यहां जाकर आप Lantau Island, Stanley Market, Nathan Road, Happy Valley जैसी जगहों पर घूम सकते हैं.

18) UAE


नौकरी की खोज में तो यहां हज़ारों लोग आते ही हैं, पर इस देश में घूमने के लिए भी लाखों सैलानी आते हैं.

यहां ज़रूर जाएं- ये रेगिस्तान में पला-बढ़ा देश है. यहां पर आप Burj Khalifa, Ferrari World, Dubai, Abu Dhabi जैसी बहुत सी जगहें घूम सकते हैं.

19) Kenya


Animal Lovers के लिए बेस्ट डेस्टिनेशन है. यहां वो हर कुछ मिल जाएगा जो एक ट्रैवेल को चाहिए. फ़ूड से लेकर Sight Seeing तक, सब बेहद उम्दा हैं यहां.

यहां ज़रूर जाएं- केन्या में आप Masai Mara National Reserve, Mount Kenya, Lamu Island जैसी जगहों पर घूम सकते हैं.

20) Taiwan


Taiwan को 'Formosa' भी कहते हैं. यहां के बेहद ख़ूबसूरत नज़ारे और लज़ीज़ खाना आपको ज़रूर पसंद आएंगे.

यहां ज़रूर जाएं- Taipei, Taroko National Park, Anping, Caoling जैसी जगहों पर घूमने जा सकते हैं.

तो इंतज़ार किस बात का है, गोवा के लिये जो पैसे जमा कर रहे थे उनमें थोड़े से पैसे और जोड़कर विदेश ही घूमकर आइए.

Source: Thrillophilia

Posted in LIFE STYLE, TRAVEL, WORLDComments (0)

इन ख़ूबसूरत Islands पर जाने के लिए आपको वीज़ा की ज़रुरत नहीं

अगर आप उबलती गर्मी से परेशान हो चुके हैं और वाटर पार्क में जाना आपको पसंद नहीं है, तो चलिए! चलते हैं प्रकृतिक वाटर पार्क की ओर. जी हां! हम बात कर रहे हैं Islands की.

Islands पर प्रकृति हमेशा मेहरबान रही है. भीड़-भाड़ से अलग दूर समुद्र में बसी ये जगहें, आपको धरती पर जन्नत के होने का एहसास कराएंगी. धरती का आख़िरी  कोना और फिर दूर-दूर तक समंदर का किनारा. उगते सूरज को क़रीब से देखना और फिर देर शाम डूबते हुए सूरज को अलविदा कहना, Islands से बेहतर ये नज़ारा कहीं और देखने को नहीं मिल सकता. 

कुछ Islands जहां पर्यटकों का गर्मी भर डेरा जमा रहता है, वहां हम आपको ले चलते हैं.

1. Majuli Island 


Majuli Island, ब्रम्हपुत्र नदी पर बसा है. ये नदियों पर बसे दुनिया के सबसे बड़े Islands में से एक है. इसके अलावा आप यहां के ख़ूबसूरत वनों में घूम सकते हैं, बोटिंग कर सकते हैं और असमिया व्यंजनों के मज़े ले सकते हैं. घूमने के लिए यहां बाइक भी रेंट पर मिलती है. इस Island से सूरज का उगना और डूबना देखते ही बनता है. यहां आकर आपको असम की संस्कृति से जुड़ाव महसूस होने लगेगा. यहां देश के अन्य आइलैंड्स की तरह भीड़-भाड़ नहीं होती.

कैसे यहां पहुंचें?

यहां आने के लिए पहले आपको गुवाहाटी से जोरहाट आना पड़ेगा. गुवाहाटी से जोरहाट आने में बस से सात घंटे लगते हैं. प्लेन से भी यहां आया जा सकता है. जोरहाट, गुवाहाटी से 328 किलोमीटर दूर है.

जोरहाट से Majuli के लिए बोट चलती है.

2. Daman Island


दमन 1961 तक पुर्तगालियों के कब्ज़े में रहा है, इसलिए यहां आपको विदेशियों वाली फ़ील आ सकती है. पुरानी इमारतें, नदियां, झरने और समंदर के ख़ूबसूरत नज़ारे दमन को बेहद ख़ास बानाते हैं. यहां दमनगंगा, मोती बीच, देविका बीच, जैमपोरे बीच पर पर्यटकों की भीड़ लगी रहती है.

कैसे यहां पहुंचें?

दमन आने के लिए मुंबई और नज़दीक शहर हैं. यहां से दमन जाने के लिए आप कभी भी उड़ान भर सकते हैं. यहां से मुंबई की दूरी 180 KM है और सूरत की 110 KM. आप बस से भी यहां आराम से आ सकते हैं.

3. Diu Island


दीव में पुर्तगाली संस्कृति की झलक मिलती है. ये छोटा आइलैंड बेहद ख़ूबसूरत है. रेतीले मैदान, विशाल समुद्र तट, सुनसान सड़कें और ऐतिहासिक इमारते दीव की पहचान हैं. यहां भी गुजराती और पुर्तगाली संस्कृति का कॉकटेल दिखता है.

घूमने लायक जगहों में दीव फ़ोर्ट, गंगेश्वर मंदिर, नागोवा बीच, घोगला बीच, Chapel of Our Lady of Rosary, Zampa Gateway, Diu Museum, Dinosaur Park, Gomatimata Beach ख़ास हैं.

कैसे यहां पहुंचें? 

दीव मुंबई से 271 किलोमीटर की दूरी पर है. सूरत से दीव की दूरी 202 किलोमीटर है. यहां आने के लिए हवाई जहाज़ बेहतर विकल्प है. दीव से 12 किलोमीटर की दूरी पर उना रेलवे स्टेशन है. अहमदाबाद और वेरावल से यहां तक लिए ट्रेन की सुविधा उपलब्ध है.

4. Divar Island

 

बहुत दिनों तक इस Island पर किसी की नज़र नहीं पड़ी थी. मांडवी नदी में बसे इस आइलैंड पर प्रकृति मेहरबान है. गोवा में गांव के मज़े लेने हों तो यहां ज़रूर आयें. घूमने लायक जगहों में Lady Of Compassion Church, European Houses और Portuguese landmarks हैं. यहां 'दिल चाहता है' मूवी के कुछ सींस फ़िल्माए गए थे.

कैसे यहां पहुंचें?

पुराने गोवा के Viceroy’s Arch से हर दस मिनट पर यहां के लिए बोट मिलती है. यहां रुकने के लिए बेहतरीन होटल्स हैं, जहां आप मज़े कर सकते हैं.

5. St Mary’s Islands


कर्नाटक का ये आइलैंड चार हिस्सों में बंटा है, जिनके नाम हैं, Coconut Island, North Island, South Island और Daryabahadurgarh Island. बहुत कम लोगों को पता है कि Vasco De Gama ने St Mary’s Islands के रस्ते से ही भारत में कदम रखा था. ये जगह Wild Life Photography के लिए बेस्ट है.

यहां पर बिखरी सफ़ेद रेत पूरे आइलैंड को ख़ूबसूरत बना देती है. अरब सागर पर स्थित ये Island भारत के सबसे ख़ूबसूरत Islands में से एक है, लेकिन यहां बहुत कम लोग घूमने आते हैं.

यहां कैसे पहुंचें?

यहां पहुंचने के लिए बोट एकमात्र विकल्प है. मालपे से बोट मिलती है 15 मिनट में पहुंचा देती है. यहां आने से पहले खाने-पीने का सामान बांध लें. इस निर्जन Island में कोई नहीं रहता है. रहने के लिए भी यहां कोई सुविधा उपलब्ध नहीं है.

6. Lakshadweep Island


अरब सागर में बसा लक्ष्यद्वीप भारत के Main Land से कटा हुआ है. प्रकृति ने इसे अपने हाथों से सजाया है. नारियल और पाम के ख़ूबसूरत जंगल इस आइलैंड को और आकर्षक बानाते हैं. चारो तरफ़ पानी, ख़ूबसूरत मछलियां, दूर तक फैली रेत इसे और ख़ास बानाते हैं. भारत सरकार यहां के पर्यटन को और विकसित करने के लिए प्रयासरत है.

कैसे यहां पहुंचें?

समुद्री और हवाई दोनों रस्ते हैं यहां पहुंचने के लिए. Cochin से यहां पहुंचना आसान है. Agatti यहां का इकलौता एयरपोर्ट है. Cochin से यहां का हवाई जहाज़ से आप सिर्फ़ आधे घंटे में पहुंचा जा सकता है.

7. Barren Island


अंडमान और निकोबार का बैरन द्वीप ज्वालामुखी राजधानी पोर्ट ब्लेयर से 140 किलोमीटर दूर उत्तर-पूर्व में है. करीब डेढ़ सौ साल तक शांत रहने के बाद ये ज्वालामुखी 1991 में फिर सक्रिय हो गया था. इसके बाद से इसमें रह-रहकर गतिविधि देखी गई है. बैरन आइलैंड अंडमान का सबसे पुराना हिस्सा है. यहां दक्षिणी एशिया का इकलौता जीवित ज्वालामुखी है. लावा चट्टानों और ख़ूबसूरत जंगलों से सजा ये आइलैंड दैवीय लगता है. पोर्ट ब्लयेर से यहां की दूरी 140 किलोमीटर है.

कैसे पहुंचें?

अपने नाम की ही तरह यह आइलैंड निर्जन है. यहां कोई नहीं रहता. पोर्टब्लेयर से आप यहां आकर एक दिन के भीतर लौट सकते हैं. यहां घूमने के लिए वन विभाग से Special Inner Line Permit लेनी पड़ती है.

8. Grand Island


मछली मारने के लिए इससे बेहतर जगह कोई नहीं है. ये आइलैंड गोवा से बहुत नज़दीक है. ख़ूबसूरत बीच और दूर तक फ़ैली हुई हरियाली इस जगह को आकर्षक बानाते हैं. नाव से घूमने का शौक हो तो यहां आप आ सकते हैं.

यहां लोग Wreck dive, Shelter Cove Dive, Bounty Bay Dive और Sail Rock Dive करने आते हैं. इसके यहां Dolphin Points भी हैं जहां आप डॉलफ़िन की कलाकारियां देख सकते हैं.

कैसे यहां पहुंचें?

गोवा से यहां 20 से 25 मिनट में बोट से पहुंचा जा सकता है. यहां खाने-पीने की कोई सुविधा नहीं है इसलिए अपने साथ नाश्ता-पानी बांध कर चलना पड़ता है.

9. Great Nicobar Island


निकोबार आइलैंड भारत का सबसे बड़ा Island है. निकोबार की ख़ूबसूरती आपको यहां से जाने नहीं देगी. यहां के जंगलों में पाए जाने वाले वनस्पति और जीव कहीं और नहीं मिलते. प्रकृति यहां के कोने पर मेहरबान है. यहां आप तैराकी, बोटिंग, और Lazy Dipping  कर सकते हैं.

कैसे पहुंचें?

पोर्ट ब्लेयर से  Boat या  Helicopter के माध्यम से आप यहां पहुंच सकते हैं. 

घूमने के लिए इतनी सारी जगहें हैं तो घर बैठ कर वक़्त क्यों ख़राब करना, ये ख़ूबसूरत Islands जब आपका इंतज़ार कर रही हैं.

 

Article Source: Traveltriangle

Posted in LIFE STYLE, TRAVELComments (0)

कश्मीर की 10 ख़ूबसूरत जगहों को देखने के बाद, यहां से वापस नहीं आना चाहेंगे

दुनिया में कई तरह के लोग होते हैं. किसी को पढ़ने का शौक होता है, तो किसी को मूवी देखना अच्छा लगता है. किसी को शॉपिंग पर जाना अच्छा लगता है, तो किसी को घर में सुकून से बैठना. मतलब दुनिया में जितने लोग, उतनी ही तरह के उनके शौक. ऐसे ही कई लोगों को घूमना बहुत पसंद होता है, जो लोग घूमने के शौकीन होते हैं, उन्हें बस किसी नई जगह के बारे में पता भर चल जाए, फिर क्या बैग पैक कर निकल पड़ते हैं, दुनिया की सैर पर.

अगर आप भी देश-दुनिया घूमने के शौकीन हैं और आपको देश-दुनिया की ख़ूबसूरती देखना अच्छा लगता है, तो हम आपके लिए लाए हैं कश्मीर की 10 ऐसी जगहें, जो ख़ूबसूरती के मामले में जन्नत से कम नहीं है.

1. Verinag


Image Source : makemytrip

 

वेरीनाग अनंतनाग से लगभग 26 किलोमीटर और श्रीनगर से लगभग 78 किलोमीटर दूर है. वेरीनाग में एक झरना है, जिसे झेलम नदी का स्रोत माना जाता है. नीले पानी के कारण, झरने की सुंदरता दोगुनी बढ़ जाती है. यह स्थान कश्मीर के शानदार पर्यटन स्थलों में एक है. पर्वतों के मध्य स्थित यह स्थान देवदार के वृक्ष और सदाबहार पौधों से घिरा हुआ है. अपने बेहतरीन और आकर्षक निर्माण के कारण, पयर्टक इसे देखने के लिए बार-बार यहां आते हैं.

2. Pahalgam


Image Source : blog

 

पहलगाम जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग ज़िले का एक छोटा सा कस्बा है. पहलगाम कश्मीर के सबसे ख़ूबसूरत हिल स्टेशनों में एक है. समुद्र तल से 2130 मीटर की ऊंचाई पर स्थित पहलगाम लिद्दर नदी और शेषनाग झील के मुहाने पर बसा है. मुगलों के शासनकाल के दौरान, ये केवल चरवाहों का गांव था. बर्फ़ से ढके पहाड़ों में ट्रेकिंग करने का अनोख़ा मजा है.

3. Dras


द्रास को लद्दाख का गेटवे भी कहा जाता है. यह भारत के सबसे ठंडे शहरों में से एक है. द्रास जाने पर पर्यटक द्रास वार मेमोरिअल ज़रूर देखें, जिसको उन सिपाहियों को श्रद्धांजलि देने के लिए स्थापित किया गया था, जिन्होंने कारगिल युद्ध के दौरान देश की रक्षा करते हुए, अपनी जान गंवा दी थी.

4. Leh


Image Source : smallbudgetbigtrips

 

लेह नगर, पूर्वी जम्मू-कश्मीर राज्य के उत्तरी भारत में स्थित है. हिमालय की हसीन वादियों में बसे लेह के आकर्षण में हज़ारों पर्यटक खीचे चले आते हैं. लेह को अपने आकार के कारण 'दुनिया की छत' भी कहा जाता है. लेह में पर्वत और नदियों के अलावा भी कई ऐतिहासिक इमारतें भी हैं. यहां बड़ी संख्या में ख़ूबसूरत बौद्ध मठ हैं, जिनमें बहुत से बौद्ध भिक्षु रहते हैं. लेह जाकर आप लद्दाखी संस्कृति और परंपरा से जुड़ी चीज़ें ख़रीद सकते हैं.

5. Sonamarg

Image Source : angelinalewis

समुद्र सतह से 2740 मीटर की ऊंचाई पर स्थित, सोनमर्ग जम्मू और कश्मीर राज्य में स्थित सबसे लोकप्रिय स्थलों में से एक है. सोनमर्ग की ख़ूबसूरती देखने के बाद आपका यहां से वापस आने का दिल नहीं करेगा. वसंत ऋतु में यह सुंदर फूलों से ढंक जाता है, जो सोने की तरह सुनहरा दिखाई देता है, इसीलिए इसे 'सोने के मैदान' का भी कहा जाता है.

6. Zanskar

Image Sourec : ecopackindia

जांस्कर लद्दाख के कारगिल से कुछ दूरी पर स्थित है. एडवेंचर के ल‌िए अच्छी जगह मानी जाती है. इस कस्बे कुल आबादी 700 के आसपास है.

7. Pangong


Image Source : wikiwand

 

भारत-चीन सीमा पर स्थित Pangong झील को आप धरती पर जन्नत भी कह सकते हैं. आमिर खान की फ़िल्म 3 Idiots की शूटिंग भी यहीं की गई थी, जिसके बाद से यहां आने वाले पर्यटकों की संख्या में काफ़ी इज़ाफ़ा हुआ है. Pangong झील एक समुद्र की तरह 150 किमी लंबी है.

8. Nubra Valley


Image Source : makemytrip

 

नुब्रा घाटी एक तीन भुजाओं वाली घाटी है, जो लद्दाख घाटी के उत्तर-पूर्व में स्थित है. यह क्षेत्र लद्दाख के बाग के नाम से जाना जाता है. गर्मियों के दौरान पर्यटकों को गुलाबी और पीले जंगली गुलाबों को देखने का मौका मिलता है, जो कि इस क्षेत्र में उगते हैं.

9. Jammu

Image Source : mapsofindia

जम्मू शहर, जम्मू-कश्‍मीर राज्‍य की शीतकालीन राजधानी है. इस शहर को मंद‌िरों के शहर नाम से भी जाना जाता है. इस शहर की स्‍थापना 8वीं सदी में राजा लोचन ने की थी. जम्मू में डोगरा राजवंश के महल और संग्रहालय देखने लायक है.

10. Kokernag

 
Image Source : ideatoursandtravels

 

कोकरनाग अनंतनाग से 25 किलोमीटर और श्रीनगर से 80 किलोमीटर दूर स्थित है. यहां कई छोटे-छोटे सरोवर हैं और इन सरोवरों को एकत्रित रूप से 'कोकर' नाम से जाना जाता है. कोकरनाग ऐतिहासिक दृष्टि से भी काफ़ी महत्त्वपूर्ण है. इसका ज़िक्र आइन-इ-अकबरी में भी किया गया है.

Posted in TRAVELComments (0)

‘Queen of Darkness’ कहलाने वाली इस मॉडल ने साबित किया कि गोरापन ही नहीं है ख़ूबसूरती की पहचान

Nyakim Gatwech एक मॉडल है. लेकिन मॉडल शब्द सुनते ही जो छवि लोगों के मन में बनती है, वो वैसी बिलकुल नहीं है. दक्षिण सूडान की रहने वाली Nyakim को ‘Queen of Darkness’ कहा जाता है. आजकल वो US में रह कर अपने मॉडलिंग करियर को संवार रही है.






Nyakim के Instagram पर 50,000 से ज़्यादा Followers हैं. लोग उसे Follow करते हैं, क्योंकि वो हर किसी को खुद से प्यार करने का सन्देश देती है. वो अपने आप को सकारात्मक नज़रिए से देखने और खुद पर गर्व करने को लेकर खुल कर बात करती है. उसकी यही बात उसे ख़ूबसूरत बनाती है.






Nyakim ने इससे जुड़ा एक वाकया भी शेयर किया. एक बार एक Uber ड्राइवर ने उसे गोरा बनने के लिए अपनी स्किन को ब्लीच करने की सलाह दी, लेकिन इससे दुखी होने के बजाय उसने हंस कर उसे बता दिया कि वो ऐसा कभी नहीं करेगी.



 





शायद यही आत्मविश्वास है, जिसके कारण वो अपनी हर तस्वीर में दमकती हुई नज़र आती है. उसके कई Fans उसकी स्किन टोन को 'कला सोना' भी कहते हैं. 

Posted in LIFE STYLEComments (0)

फ़िल्मों में लाखों-करोड़ों के कपड़े पहनते हैं स्टार, लेकिन इसके बाद उनका क्या होता है, जानते हैं?

बॉलीवुड सालों से अपनी छाप आम जनता पर छोड़ता आ रहा है. ​हीरो के हेयर स्टाइल से लेकर हीरोइन के कपड़ों तक, हर चीज़ फैंस कॉपी करते हैं. ब्लैक एंड वाइट सिनेमा लेकर अब तक कुछ नहीं बदला, बस अगर कुछ बदला है, तो वो अपने चहते सितारों के प्रति फै़ंस का दीवानापन.

हर साल बॉलीवुड की बहुत सारी फ़िल्में बनती और रिलीज़ होती हैं. कई फ़िल्में काफ़ी मंहगे बजट की होती हैं, ज़ाहिर सी बात है कि फ़िल्म में यूज़ होने वाले Costume भी काफ़ी मंहगे होते हैं. कई बार तो फ़िल्मों से ज़्यादा उसके Costume चर्चा में रहते हैं. कई फ़िल्मों के Costume तो इतने अच्छे होते हैं कि फ़िल्म हिट हो न हो, लेकिन फ़िल्मी सितारों के कपड़े ज़रूर हिट हो जाते हैं.


कभी सोचा है कि आख़िर, जिन फ़िल्मी कपड़ों की दिवानगी हमारे सिर चढ़कर बोलती है. फ़िल्म रिलीज़ होने के बाद वो कपड़े जाते कहां हैं? आपको ये जानकर हैरानी होगी कि फ़िल्मों में यूज़ होने वाले लाख़ों-करोड़ों रुपये के Costume, एक अंधरे कमरें में बंद कर दिए जाते हैं. सुनने में आपको थोड़ा नहीं बल्कि बहुत अजीब लग रहा होगा, लेकिन हकीकत यही है.


वहीं इस मामले में यशराज फ़िल्म की Stylist आयशा खन्ना ने बयान देते हुए कहा था, 'स्टार्स द्वारा इन कपड़ों को पहनने के बाद, इन्हें ट्रंक में बंद करके रख दिया जाता है. प्रोडक्शन हाउस कपड़ों पर फ़िल्म के नाम का लेबल लगाते हैं और फिर उन्हें भूल जाते हैं.' इनमें से कुछ ड्रेसेस ऐसी भी होती हैं, जिन्हें बाद में उसी प्रोडक्शन हाउस के जूनियर आर्टिस्ट Mix & Match कर, दूसरी फ़िल्मों में इस्तेमाल करते हैं. इन कपड़ों को पूरे कॉम्बीनेशन के साथ इस्तेमाल किया जाता है, जिससे दर्शकों को इस बात का पता ना चले कि ये कपड़े पहले भी इस्तेमाल किये जा चुके हैं.

आयशा ने बताया, 'एश्वर्या राय ने जो Costume 'कजरा रे कजरा रे तेरे करे करे नैना' में पहनी हुई है, वही Costume बैंड बाजा बारात के Background डांसर ने भी पहनी हुई है. लेकिन इस बात को आजतक कोई नोटिस नहीं कर पाया.

 

ऐसा नहीं है कि सभी कपड़ों को प्रोडक्शन हाउस की पेटी में बंद कर रख दिया जाता है. कभी-कभी कुछ सितारे इन कपड़ों को अपने पास भी रख लेते हैं. वो भले ही इन कपड़ों को सार्वजनिक स्थलों पर इस्तेमाल न करें, लेकिन सुनहरी यादों के तौर पर वो इन्हें अपने पास सहज़ रख लेते हैं. वहीं कई बॉलीवुड कलाकार ऐसे भी हैं, जो अपने किरदार को पर्सनल टच देने के लिए, अपने ख़ुद के कपड़े इस्तेमाल करना पसंद करते हैं.

कई बार फ़िल्म के स्टार्स, ज़रूरतमंदों की मदद के लिए इन कपड़ों को नीलाम कर देते हैं. रजनीकांत और ऐश्वर्या राय ने रोबोट फ़िल्म में पहने, अपने कपड़ों को एक NGO के फंड के लिए नीलाम कर दिया था. वहीं फ़िल्म ‘मुझसे शादी करोगी’ के गाने, 'जीने के हैं चार दिन' में डांस करते हुए, सलमान ने जिस तौलिये का इस्तेमाल किया था. उसे 1 लाख 42 हज़ार रुपये में नीलाम कर दिया गया था. इस तौलिये की ऑनलाइन नीलामी से मिले पैसों को NGO को दे दिया गया था. 'लगान' में आमिर खान द्वारा इस्तेमाल किए गए Bat को भी 1,56,000 रुपये में बेच दिया गया था.

Posted in INDIA, LIFE STYLEComments (0)

Scuba Diving करने के लिए अब आपको वेस्ट दिल्ली के इस मॉल में जाना होगा

एडवेंचर स्पोर्ट्स का शौक़ काफ़ी लोगों को होता है. फ़िल्मों को देख कर तो इसकी दीवानगी और बढ़ गई है. कई लोग ये शौक पूरा करने के लिए ट्रैवल भी करते हैं. लेकिन दिल्ली वालों के लिए एक खुशख़बरी है. अब उन्हें Scuba Diving के लिए कहीं दूर जाने की ज़रूरत नहीं.

 

 

Source: indiaeve

पश्चिमी दिल्ली के फ़ेमस Pacific Mall में Scuba Diving की शुरुआत हुई है. Scuba Diving के लिए यहां एक ट्यूब बनाया गया है, जहां समुद्री जीवन को दिखाने की कोशिश की गई है. ये ट्यूब एक स्विमिंग पूल के अंदर है.

Pacific Mall में Scuba Diving करने के लिए आपको 3 हज़ार रुपये खर्च करने पड़ेंगे. ये Scuba Diving पूरे एक घंटे की होगी, जिसमें आपको हर वो अनुभव कराने की कोशिश की जाएगी, जो आपको असली Scuba Diving में मिलते हैं.

Source: pinterest

Scuba Diving करने से पहले आपको 15 मिनट की क्लास भी दी जाएगी और आपके साथ एक इंस्ट्रक्टर भी Scuba Diving के दौरान रहेगा. इसे करने के लिए आपको स्विमिंग आनी ज़रूरी नहीं.

अगर आपको एक घंटा ज़्यादा लगता है, तो आप 1500 रुपये दे कर 30 मिनट तक Scuba Diving का आनंद ले सकते हैं.

Source: pinterest

तो देर किस बात की, गर्मियों की छुट्टी में दिल्ली से बाहर नहीं जा पा रहे हैं, तो मलाल मत कीजिए, क्योंकि अब आपके पास दिल्ली में ही छुट्टियों को मज़ेदार बनाने का एक सुनहरा मौका है. लेकिन ध्यान रहे है कि ये मौज सिर्फ़ आप 18 जून तक ही ले सकते हैं. 

Posted in INDIA, LIFE STYLEComments (0)

दस घंटे सोना, मोजे न पहनना, क्या ऐसी ही आदतें थीं Albert Einstein के जीनियस दिमाग का राज़?

दुनिया के सबसे बुद्धिमान लोगों का रहन-सहन अकसर आम लोगों से कुछ जुदा ही होता है. यही कारण है कि शुरू में लोग उन्हें अजीब भी समझने लगते हैं. आप Benjamin Franklin का उदाहरण ले सकते हैं. वो कभी-कभी बिना कपड़ों के खुली हवा में 'Air Baths’ लेते थे.

आज हम आपको Albert Einstein की कुछ अजीब आदतों के बारे में बता रहे हैं:

दस घंटे की नींद


अमेरिका में लोग औसतन 6.8 घंटे की नींद लेते हैं, लेकिन Einstein अपनी नींद से कभी समझौता नहीं करते थे. वो हर दिन कम से कम दस घंटे सोते थे.

वॉक पर जाना


चाहें जो भी हो, वो अपनी डेली वॉक कभी मिस नहीं करते थे. Darwin जैसे वैज्ञानिक भी दिन में कम से कम 45 मिनट वॉक ज़रूर करते थे. ये साबित हो चुका है कि चलने से मेमोरी और क्रिएटिविटी बढ़ती है.

Spaghetti खाना


उन्होंने एक बार कहा था कि इटली में उन्हें सबसे ज़्यादा गणितज्ञ, Levi-Civita और खाने में Spaghetti पसंद है. दिमाग को काम करने के लिए लगातार एनर्जी चाहिए होती है, इसलिए दिमाग के ठीक से काम करने के लिए अच्छा खाना बेहद ज़रूरी है.

पाइप पीना

Einstein को स्मोक करने की आदत थी. वो पाइप पीते थे. उनका मानना था कि इससे शांतचित रहने में मदद मिलती है. कई बार तो वो सड़क से सिगरेट बट्स उठा कर बचा-कुचा तम्बाकू अपने पाइप में भर लिया करते थे.

मोजे न पहनना

 

जी हां, उन्हें मोज़े पहनना बिलकुल पसंद नहीं था. ये काम वो बचपन से ही छोड़ चुके थे. हालांकि, ऐसे कोई प्रमाण नहीं हैं कि इससे दिमाग को कोई फ़ायदा मिलता है. उन्हें बन-ठन के रहने में कोई दिलचस्पी नहीं थी. 

 

Source: BBC

 

Posted in LIFE STYLEComments (0)

मेट्रो का निर्माण करने वाले श्रमिकों को दावत खिलाकर Thanks कहा कोच्चि मेट्रो ने

दावत, ख़ुशी का प्रतीक है, इसलिए अकसर शुभ अवसर पर लोगों को भोजन खिलाया जाता है. कोच्चि में मेट्रो के निर्माण में, बाहर से काम करने आए सभी श्रमिकों को केले के पत्ते पर पारम्परिक भोजन कराया गया.


 केरल में मेट्रो की शुरुआत, एक बुनियादी परिवर्तन है. जिससे आवागमन में आसानी होगी और ट्रैफ़िक की समस्या भी कम होगी. कोच्चि मेट्रो ने इस भोज के माध्यम से उन सभी के प्रति अपना आभार प्रकट किया, जिन्होंने कोच्चि मेट्रो के निर्माण में अपना योगदान दिया है.


इस भोज में मेट्रो के शीर्ष अधिकारियों के अलावा, MD Elias George भी शामिल हुए. सब लोगों ने एक पंक्ति में बैठकर भोजन करके, महीनों के कड़े परिश्रम के बाद मिली सफ़लता का जश्न मनाया.


और बिना मनोरंजन के भोजन का मज़ा कहां आता है. इसलिए बॉलीवुड के गाने पर जमकर डांस करने के साथ-साथ सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन हुआ. एक बोर्ड भी लगाया गया, जिसमें कोच्चि मेट्रो के निर्माण में योगदान देने वाले लोगों का नाम लिखा हुआ था.



केरल ने कई चीज़ों में बाकी जगहों के लिए उदाहरण पेश किया है. जिसमें महिला सशक्तिकरण सबसे उल्लेखनीय है. यहां काम करने वालों में, महिलाएं की संख्या काफ़ी ज़्यादा है, जिनमें महिला ट्रेन ड्राइवर तक शामिल हैं. केरल पूर्वाग्रहों को बदलते हुए, ट्रांसजेन्डर्स को भी काम पर रख रहा है.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, शनिवार को कोच्चि मेट्रो का उद्घाटन करेंगे और उसके बाद Palarivattom से लेकर Pathadipalam तक यात्रा भी करेंगे.

 


Article Source: Facebook/KochiMetro

Posted in INDIA, LIFE STYLEComments (0)

100 साल पहले Black and White के ज़माने में भी कलरफुल थी दुनिया, ये 100 तस्वीरें हैं सबूत

जब भी पुरानी फ़ोटोज़ के बारे में सोचा जाता है तो स्वाभाविक रूप से लोगों के दिमाग में Black and White तस्वीरें ही आती हैं. लोग इस बात पर शायद विश्वास ही नहीं पाएंगे कि 20वीं सदी की शुरुआत में भी बेहद प्रभावशाली, रंगीन फ़ोटो खींची जाती थी. दो फ़्रांसीसी भाईयों Auguste और Louis Lumière ने ऐसी 1907 में ऐसी तकनीक खोज ली थी, जिसकी सहायता से बेहतरीन रंगीन फ़ोटो खींची जा सकती थी.

आइए अब आपको दिखाते हैं 20वीं सदी की शुरुआत में खींचे गए कुछ बेहतरीन कलर फ़ोटोग्राफ़्स.

1. समुद्र के किनारे, Christina की मनमोहक तस्वीर. (1913)


2. फूलों के साथ महिला की ये ख़ूबसूरत तस्वीर पेरिस की है. (1914)


3. 1911 में खींची गई इस तस्वीर में, दो बहनें गुलाब के फूलों को इकठ्ठा कर रही हैं.


4. डॉगी को गोद में लिए, सोच में डूबी हुई आंटी. (1910)


5. सपनों में खोई इस सुन्दरी की तस्वीर को 1909 में कैमरे में क़ैद किया गया था.


6. पेरिस के Moulin Rouge की एक ख़ूबसूरत तस्वीर. (1914)


7. Eiffel Tower की बेहतरीन फ़ोटो (1914)


8. अपने लड़ाकू विमान से हमले की तैयारी करते हुए बच्चे की प्यारी तस्वीर. (1915)


9. प्रकृति के मनोरम दृश्यों के साथ, Heinz और Eva की तस्वीर. (1925)


10. हाथियारों के बगल में, गोद में गुड़िया लिए लड़की तस्वीर शायद दुनिया को शान्ति का सन्देश दे रही है. (1917)


11. शायद ये मोहतरमा अपने सपनों के राजकुमार के ख़्यालों में खोई हुई हैं. (1912)


12. Louis Lumière की खींची हुई पहली कलर फ़ोटो. (1907)


13. चार्ली चैपलिन की Black and White फ़िल्मों के ज़माने में ली गई फ़ोटो. (1914)


14. विश्वास नहीं होता कि 100 साल पहले भी इस तरह की तस्वीर खींची जा सकती थी. (1914)


15. पारम्परिक परिधान, वास्तव में ख़ूबसूरती को बढ़ा देते हैं. (1908)


16. पेरिस के एक बाज़ार का दृश्य, जिसकी भीड़ आज के ट्रैफ़िक जैम की याद दिला रही है. (1914)


17. शायद अंकल, किताब से ऊब कर ख़्यालों की दुनिया में चले गए हैं. (1908)


18. पेरिस में ली गई Air Balloons की तस्वीर. (1914)


19. Van Besten की अपने गार्डन में Painting बनाते हुए ली गई एक बेहतरीन तस्वीर. (1912)


20. उस दौर में ली गई सबसे बेहतरीन तस्वीर में से एक. (1910)


21. इस ख़ूबसूरत तस्वीर को देखकर लग रहा है कि जैसे 20 मेगापिक्सल वाले आधुनिक कैमरे से खींची गई हो. (1908)


22. ख़ूबसूरत फ़ैमिली फ़ोटो. (1913)


23. Christina शायद आसमान को दिखाना चाहती हैं कि एक चांद धरती के पास भी है. (1913)


24. पारम्परिक परिधान में मां, अपने बच्चों के साथ कुछ ज़्यादा ही ख़ूबसूरत लग रही है. (1914)


25. एक मां, अपनी बुनी हुई शॉल और दूसरे परिधानों के साथ. (1913)


26. Mosina पुल की एक सुन्दर तस्वीर. (1913)


27. समुराई योद्धा के वेश में फ़ोटो खिंचवाता हुआ, एक प्यारा बच्चा. (1912)


28. Lanchester 38HP, जो उस समय की एक रॉयल गाड़ी थी. (1913)


29. फूलों के बीच, बच्चा भी एक प्यारा फूल लग रहा है. (1910)


30. बड़ी बहन की गोदी में भी, मां की गोदी जैसी ही नींद आती है. (1908)


31. Louis Lumière की बेटी, अपने खिलौनों के साथ. (1913)


32. रेगिस्तान की एक ख़ूबसूरत तस्वीर, 'रेगिस्तान के जहाज़' के साथ. (1913)


33. फूलों की बनी हुई छतरी के नीचे, पढ़ाई करने का अपना ही मज़ा है. (1912)


34. 'इसमें से आवाज़ कहां से आती है?'. शायद यही पता लगाने की कोशिश कर रही है ये बच्ची. (1912)


35. ये सुन्दर तस्वीर क्योटो, जापान की है. (1912)


36. कब्रिस्तान, जहां पर फ्रेंच सैनिकों को दफ़नाया गया है. (1916)


37. बाज़ार, जहां ख़ुशियां छोड़कर ज़्यादातर चीज़ें मिल जाती हैं. (1912)


38. इतने बड़े सन्तरे अगर पेड़ पर लगने लगे, तो आदमी को हेलमेट भी नहीं बचा पाएगा. (पेरिस, 1914)


39. फ्रांस के मेट्रो स्टेशन के बाहर की एक तस्वीर. (1914)


40. फूल तो दोनों प्यारे लग रहे हैं. (1908)


41. पेरिस का Porte Saint Denis, एक स्मारक और दर्शनीय स्थल भी. (1914)


42. फव्वारों का एक मनोरम दृश्य, जो निश्चित तौर आंखों को ठंडक पहुंचा रहा है. (1910)


43. बगीचे में फूलों के बीच, सोच में डूबी हुई एक सौन्दर्य की प्रतिमूर्ति. (1908)


44. टूटे हुए पुस्तकालय के सामने, दोपहर का भोजन करता हुआ फ़्रांसीसी सिपाही. (1917)


45. मिस्र के पिरामिड की ख़ूबसूरती को बख़ूबी व्यक्त कर रही है ये तस्वीर. (1913)


46. मंगोलिया के बौद्ध लामा. (1913)


47. Mrs. Warburg की टोपी, फूलों से बख़ूबी मैच कर रही है. (1915)


Posted in LIFE STYLEComments (0)

देहरादून के आस-पास की इन जगहों में है ख़ूबसूरती के साथ-साथ ढेर सारा Fun

देहरादून, एक ऐसा शहर जो मशहूर है अपनी ख़ूबसूरती के लिए. यहां घूमने के लिए पर्यटन स्थलों की कमी नहीं है. यहां 'आसन बैराज', 'गुच्चुपानी', 'बुद्धा टेंपल' जैसी कई फ़ेमस जगहें हैं. अगर आप देहरादून के रहने वाले हैं, तो यहां आप एक दिन में भी आराम से घूम सकते हैं और शायद घूमे भी होंगे. लेकिन, देहरादून के आस-पास कई और ख़ूबसूरत जगहें हैं, जहां आप अपना वीकेंड प्लान कर सकते हैं. इन जगहों पर जाने के लिए आपको हवाई यात्रा भी नहीं करनी होगी, बल्कि By Road ही आप अपनी फ़ैमिली या दोस्तों के साथ यहां जा सकते हैं. 

1. सहस्त्रधारा (उत्तराखंड)

Source: Euttaranchal

दूरी- 16 किलोमीटर, समय- 48 मिनट

सहस्त्रधारा, देहरादून से आगे पहाड़ों में घने जंगलों के बीच स्थित है. यहां बलदी नदी और गुफ़ाएं काफ़ी मशहूर हैं. यहां औषधीय गुणों वाला झरना भी बहता है.

क्या-क्या कर सकते हैं यहांः

ट्रैकिंग, Nature Walk, जंगल सफ़ारी.

मशहूर पर्यटन स्थल:

Source: Euttaranchal

ओज़ोन पार्क, वॉटरफ़ॉल, सिल्वर फ़ॉल, द कलिंगा वॉर मेमोरियल.

2. राजाजी नेशनल पार्क (उत्तराखंड)

Source: Haridwarrishikeshtourism

दूरी- 60 किलोमीटर, समय- 2 घंटे

भारत के प्रमुख Wildlife Sanctuary में गिने जाने वाले इस पार्क में जानवरों और पक्षियों की सैकड़ों प्रजातियां हैं. पर्यटकों के लिये पार्क 15 नवम्बर से 15 जून के बीच खुला रहता है. एशियाई हाथी, चीता, भालू, कोबरा, जंगली सुअर, सांभर, भारतीय खरगोश, जंगली बिल्ली और कक्कड़ जैसे जानवर इस पार्क में पाये जाते हैं. पर्यटक अपने 34 किमी लम्बे जंगल सफ़ारी के दौरान पहाड़ियों की सुन्दरता, घाटियों और नदियों के ख़ूबसूरत दृश्यों का आनन्द ले सकते हैं.

3. धनौल्टी (उत्तराखंड)

Source: Blogspot

दूरी- 60 किलोमीटर, समय- 2.5 घंटे

उत्तराखंड के मनमोहक हिल स्टेशनों में शुमार धनौल्टी काफ़ी शान्तिपूर्ण स्थल माना जाता है, जिस कारण यहां पर्यटकों की भीड़ हमेशा रहती है. ठंडी और शांत हवाएं, लंबी जंगली ढलानें, मनमोहक मौसम, बर्फ़ से ढके पहाड़ यहां ख़ास हैं, जो इस जगह को बेहद सुकूनभरा बनाती हैं. यहां आने का सबसे अच्छा समय मार्च से जून का है.

क्या-क्या कर सकते हैं यहांः

Source: Tripadvisor

ट्रैकिंग, स्केटिंग, बोटिंग, Sky Walk, Sky Bridge, Valley Crossing, केबल कार, Zip Swing, Zip Line, Rappelling, कैंपिंग, रॉक क्लाइंबिंग, पैराग्लाइडिंग, Mountain Biking, ATV Quad Biking.

मशहूर पर्यटन स्थल:

Source: Exploreouting

सुरकंडा देवी मंदिर, देवगढ़ किला, इको पार्क्स, Joranda Falls, माताटीला डैम.

 

4. कनातल (उत्तराखंड)

Source: Gangavalleyadventure

दूरी- 76 किलोमीटर, समय- 3 घंटे

बर्फ़ और हरियाली से भरी पहाड़ियों से घिरा हुआ कनातल का नज़ारा मनमोहक होता है. वैसे तो यहां साल भर घूमा जा सकता है, लेकिन सबसे सही समय मई से जुलाई तक का है.

क्या-क्या कर सकते हैं यहांः

Source: Tripadvisor

 

कैम्पिंग, हाइकिंग, Nature Walik, जंगल सफ़ारी, Valley Crossing, Rappelling, रॉक क्लाइंबिंग.

मशहूर पर्यटन स्थल:

कोड़िया जंगल, चंबा, पंत रिसर्च इंस्टीट्यूट.

5. चमोली (उत्तराखंड)

Source: Kannadigaworld

दूरी- 126 किलोमीटर, समय- 3 घंटे

चमोली, धार्मिक स्थलों, मंदिरों और हिंदू धार्मिक कहानियों से जुड़े होने की वजह से मशहूर है. इसे 'देवताओं का घर' कहा जाता है. यहां आपको करीब से प्रकृति की खूबसूरती देखने को मिलेगी. यहां बारि‍श के मौसम को छोड़कर किसी भी मौसम में घूमा जा सकता है.

क्या-क्या कर सकते हैं यहांः

Source: Behindcity

 

ट्रैकिंग, Skiing, Cycling, Mount Climbing, Nature Walk.

मशहूर पर्यटन स्थल:

Source: Indialine

बद्रीनाथ, गोपेश्वर, पंच प्रयाग, फूलों की घाटी, वसुंधरा वॉटरफ़ाल.

6. चकराता (उत्तराखंड)

Source: Holidify

दूरी- 88 किलोमीटर, समय- 3 घंटे

चकराता एक छोटा और सुंदर सा पहाड़ी नगर है, जहां आप पहाड़ों की ख़ूबसूरती का लुत्फ़ उठा सकते हैं. चकराता को शांति पसंद लोगों के लिए उनके 'सपनों का नगर' कहा जाता है. यहां आप साल में कभी भी घूमने जा सकते हैं.

क्या-क्या कर सकते हैं यहांः

Source: Mytripdesire

कैम्पिंग, राफ़्टिंग, ट्रैकिंग, Sun Set Point, Waterfall Rappelling, रॉक क्लाइंबिंग, हॉर्स राइडिंग.

मशहूर पर्यटन स्थल:

Source: Googleusercontent

Tiger Falls, कलसी, लखामंडल, चिलमिरी नेक, Kimona Waterfall.

7. नई टिहरी (उत्तराखंड)

Source: Gangavalleyadventure

दूरी- 111 किलोमीटर, समय- 3.5 घंटे

चारों तरफ से पहाड़ों से घिरी ये जगह बेहद सुंदर और आकर्षक है. प्राकृतिक ख़ूबसूरती लिए ये जगह यहां के धार्मिक स्थलों के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध है. गर्मी की छुट्टियां बिताने के लिए ये सबसे अच्छी जगह है.

क्या-क्या कर सकते हैं यहांः

Source: Gangavalleyadventure

Water Skiing, Jet Skiing, Water Jorbing, Kayaking, राफ़्टिंग, Para Sailing, बोटिंग, ट्रैकिंग, योग.

मशहूर पर्यटन स्थल:

Source: Ytimg

टिहरी डैम, सेम मुखेम मंदिर, चन्द्रबदनी मंदिर.

8. लैंसडाउन (उत्तराखंड)

Source: Baadalmusings

दूरी- 158 किलोमीटर, समय- 4.5 घंटे

लैंसडाउन, उत्तराखंड के ख़ूबसूरत पर्यटन स्थलों में से एक है. दूसरे हिल स्टेशनों के मुकाबले यहां पर प्रकृति को उसके अनछुए रूप में देखा जा सकता है. मार्च से लेकर नवंबर महीने के बीच, यहां का मौसम बहुत सुहावना हो जाता है, जो यहां घूमने का सही समय है.

क्या-क्या कर सकते हैं यहांः

Source: Wikimedia

 

कैंपिंग, बोट राइड, Snow Viewpoint, Sun Set Point, Nature Walk, जंगल सफ़ारी.

मशहूर पर्यटन स्थल:

Source: Tourtravelworld

भुल्ला झील, टिप एन टॉप, दरवान सिंह रेजीमेंटल म्यूज़ियम, Bird Sanctuary, वॉर मेमोरियल लैंसडाउन.

9. परवानू (हिमाचल प्रदेश)

Source: Holidify

दूरी- 180 किलोमीटर, समय- 4.5 घंटे

परवानू, हिमाचल प्रदेश का प्रवेश द्वार है. यहां कई पहाड़ियां और बगीचे हैं, जो पर्यटकों को आकर्षित करते हैं. गर्मियों के दौरान यहां का तापमान ठीक रहता है, पर्यटक इस मौसम में आराम से घूम सकते हैं.

क्या-क्या कर सकते हैं यहांः

Source: Wikimedia

केबल कार राइड, ट्रैकिंग.

मशहूर पर्यटन स्थल:

Source: Tricityevents

पिंजोर, टिंबर ट्रेल, कैक्टस गार्डेन, गुरुद्वारा नाडा साहिब, गुरखा किला.

10. उत्तरकाशी (उत्तराखंड)

Source: Rediff

दूरी- 145 किलोमीटर, समय- 5 घंटे

धार्मिक पर्यटन के लिहाज से उत्तरकाशी का ख़ासा महत्व है. यहीं से भारत की जीवनदायिनी गंगा और यमुना नदियां निकलती हैं. यह पवित्र स्थल फ़ैमिली ट्रिप के लिए बेहतरीन जगह है. मार्च से अप्रैल और जुलाई से अक्‍टूबर यहां जाने का सबसे अच्छा समय है.

क्या-क्या कर सकते हैं यहांः

Source: Himalayanbuzz

ट्रैकिंग, फ़िशिंग, कैंपिंग, Nature Walk, Mountain Biking, Mountaineering.

मशहूर पर्यटन स्थल:

Source: Adventures365

विश्वनाथ मंदिर, मनीरी, सात ताल, गोमुख, नेहरु पर्वतारोही संस्थान.

11. श्रीनगर (उत्तराखंड)

Source: Srinagargarhwal

दूरी- 152 किलोमीटर, समय- 5 घंटे

उत्तराखंड का श्रीनगर प्राचीनता और आधुनिकता के मिश्रण की एक ख़ूबसूरत मिसाल है. ये शहर चारों ओर घाटियों से घिरा हुआ है और इसकी प्रकृति का लुत्फ़ अलकनंदा नदी के किनारे से उठाया जा सकता है. यहां पूरे साल सैलानी घूमने के लिए आते रहते है.

क्या-क्या कर सकते हैं यहांः

Source: Balajiyatratravels

ट्रैकिंग, जंगल सफ़ारी.

मशहूर पर्यटन स्थल:

Source: Euttaranchal

मलेथा, गोला बाज़ार, कीर्तिनगर, केशोराय मठ, विष्णु मोहिनी मंदिर.

12. पौड़ी (उत्तराखंड)

Source: Mygola

दूरी- 155 किलोमीटर, समय- 5 घंटे

देवदार के जंगलों से ढका हुआ और कंडोलिया पहाड़ी के उत्तरी ढलानों पर स्थित पौड़ी बेहद ख़ूबसूरत जगह है. पौड़ी घूमने का सबसे सही समय मार्च से नवंबर तक रहता है क्योंकि इस दौरान मौसम ख़ुशनुमा बना रहता है.

क्या-क्या कर सकते हैं यहांः

Source: Vresorts

ट्रैकिंग, फ़िशिंग, जंगल सफ़ारी.

मशहूर पर्यटन स्थल:

Source: Gangavalleyadventure

कंडोलिया, Chaukambha View Point, खिर्सू, अडवानी, तारा कुंड.

13. चोप्ता (उत्तराखंड)

Source: Chopta

दूरी- 200 किलोमीटर, समय- 6 घंटे

हिमालय की गोद में बसा चोप्ता एक ख़ूबसूरत पहाड़ है, जो हरी-भरी घासों और सदाबहार जंगलों से ढका हुआ है. इसे 'मिनी स्विट्जरलैंड' भी कहा जाता है. यहां आने का सबसे अच्छा समय अप्रैल से नवम्बर का है.

क्या-क्या कर सकते हैं यहांः

Source: Magpieecotourism

कैंपिंग और ट्रेकिंग (चोप्ता-तुंगनाथ-चंद्रशिला ट्रेक), Skiing, राफ़्टिंग, Mountain Biking, पैराग्लाइडिंग, योग, पहाड़ों पर क्राफ़्टिंग, क्लाइंबिंग, Sun Set.

मशहूर पर्यटन स्थल:

 

 

Source: Euttaranchal

देवरी ताल, चन्द्रशिला, तुंगनाथ मंदिर, उखीमठ, Kanchula Koral Musk Deer Sanctuary.

Posted in LIFE STYLE, TRAVELComments (0)

इस जगह पर जाने से लड़कियां बन जाती हैं PORN STAR!

नई दिल्ली। हमेशा कई लोग अलग-अलग जगहों पर पार्टी करने के लिए जाते हैं काम की थकान और खुद को रिफ्रेश करने के लिए। लेकिन एक ऐसी भी जगह है जहां के लिए हम आपसे कहें कि अगली बार पार्टी के लिए नई जगह पर जाने से पहले एक बार जरूर सोचना। 

स्पेन में एक ऐसी जगह है जहां लोग तो आते हैं पार्टी करने लेकिन उनकी आबरू और भविष्य दोनों खतरे में पड़ जाते है। क्योंकि दुनिया में एक जगह ऐसी भी है जहां जाने से लड़कियां पॉर्न स्टार बनती जा रही हैं। आपको यकीन नहीं हो रहा है ना लेकिन ये सच है। 

यहां आने वाली हर एक खूबसूरत और हॉट लड़कियों पर पॉर्न फिल्म प्रोड्यूसर की नजर रहती है। जवान लोग अक्सर इस आईलैंड पर छुट्टियां बिताने आते हैं। स्पेन के आईलैंड माजोर्का में स्थित प्रसिद्ध हॉलीडे रिसॉर्ट मैग्लफ में आने वाली ब्रिटिश महिलाओं को पॉर्न फिल्म मेकर अपना शिकार बना रहे हैं। 

डच, पूर्वी यूरोप और जर्मनी के कई पॉर्न फिल्म प्रोड्यूसर्स यहां स्थित बार के बाहर घूमते देखे गए हैं। महिलाओं को पॉर्न में काम करने के लिए यह लोग उनके पकड़े जाने का डर भी दूर कर देते हैं। वह बताते हैं कि उनकी यह पॉर्न फिल्म सिर्फ सब्सक्रिप्शन वाली विदेशी साइटों पर ही डाली जाएंगी। ये प्रोड्यूसर्स महिलाओं को कैमरे के आगे एक शारीरिक सम्बंद वाले सीन करने के लिए 500 पौंड की रकम भी देते हैं।

Posted in LIFE STYLE, WORLDComments (0)

गुजरात का दीव: खूबसूरत और सुकून भरी जगह


दीव अपने खूबसूरत सी बीचेज, चर्च और नैचरल ब्यूटी के लिए दुनियाभर में पॉप्युलर हैं। अरब सागर में एक द्वीप के रूप में बसा यह टूरिस्ट प्लेस गुजरात के एक छोर पर स्थित है। यकीन मानिए, यहां बीच पर मस्ती करने का अलग ही मजा है। दीव में घूमने के लिए बहुत कुछ है। हम आपको कुछ खास चीजों के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें आप मिस करना नहीं चाहेंगे…

दीव फोर्ट
दीव फोर्ट तीन साइड से समुद्र और चौथी साइड से एक छोटी नहर से घिरा है। नहर की तरफ से ही किले का ऐंट्री गेट भी है। 16वीं सदी में बने इस किले में आप उस जमाने की तोपें और तलवारें आज भी देख सकते हैं। आसपास की जगहों पर घूमने के लिए यहां से बोटिंग की भी सुविधा है।

चक्रतीर्थ बीच
कहा जाता है कि जालंधर दैत्य को मारने के लिए भगवान विष्णु ने यहीं से चक्र चलाया था। इसलिए इसका नाम चक्रतीर्थ पड़ा। यह बीच इतना शांत है कि आपको लहरों की आवाज के अलावा यहां कुछ नहीं सुनाई देगा। यहां से आसपास की छोटी- छोटी पहाड़ियां बेहद सुंदर दिखती हैं। अगर आप रात में यहां पर आ जाएं, तो लहरों की आवाज पहाड़ियों से टकराती हुई एक अलग तरह का अहसास दिलाती है। बीच के किनारे लाइन पर लगे नारियल के पेड़ भी मन मोहते हैं। यहां पर एक शिव मंदिर है, जहां से सनराइज देखने का भी अपना मजा है।

पनीकोटा
कालेपानी के नाम से जानी जाने वाली यह इमारत फोर्ट के बिल्कुल सामने है। नजदीक से देखने के लिए यहां से बोट की भी सुविधा है। सेंट पॉल चर्च को अब म्यूजियम में बदल दिया गया है। यहां पर आपको क्रिश्चियन कल्चर की झलकर दिखातीं मूर्तियां, शिलालेख और उस वक्त की कला के कई क्रिएटिव नमूने देखने को मिलेंगे।

गंगेश्वर मंदिर
गंगेश्वर मंदिर फुदम गांव में एक झुकी हुई चट्टान के नीचे एक छोटी सी गुफा में स्थित है। माना जाता है कि वनवास के दौरान भटकते हुए पांडव इस गुफा में रुके थे और उन्होंने यहां पर पांच शिवलिंग स्थापित किए थे। आप इस मंदिर को हमेशा नहीं देख सकते, क्योंकि अक्सर समुद्र का पानी बढ़ने पर यह गुफा पानी में डूब जाती है।

जालंधर बीच
यह बेहद शांत बीच है। जहां आप घंटों बिता सकते हैं, लेकिन बिना कोई आवाज सुने। सबसे खास बात यह है कि यहां पर समुद की लहरें भी बेहद शांत हैं। अगर बीच के बाद मंदिर जाने का मन हो, तो एक पहाड़ी पर बने जालंधर मंदिर और देवी चंदिका मंदिर जा सकते हैं।

जामपोर बीच
अगर आपकी हॉबी स्विमिंग और वॉटर स्पोर्ट्स हैं, तो इस बीच पर जरूर आएं। किसी फेस्टिवल के दौरान इस बीच को खूब लाइट्स से सजाया जाता है। यहां पर पाम के ढेर सारे पेड़ हैं, जो लगातार सी विंड से लहराते रहते हैं।

देवका बीच
अगर आपके साथ बच्चे हैं, तो देवका बीच जाना कतई न भूलें। यह बीच काफी लंबा है। यहां का एम्यूजमेंट पार्क और म्यूजिकल फाउंटेन मन मोह लेते हैं। बच्चों के लिए भी यहां पर बहुत कुछ है। यहां पर पानी के अंदर बड़े और छोटे सभी तरह के स्टोंस हैं, इसलिए इस बीच पर स्विमिंग करना अवॉइड करें।

गोमटीमाला बीच
यह खूबसूरत और शांत बीच है। यहां पर कई वॉटर स्पोर्ट्स होते हैं। स्विमिंग के लिए भी यहां पर सिक्यॉरिटी रखी गई है। यह दीव शहर से 27 किलोमीटर की दूरी पर है। शांति और सुकून पाने के लिए यह जगह बेस्ट है।

नागोआ बीच
दीव से केवल 20 मिनट की दूरी तय कर आप इस बीच पर पहुंच सकते हैं। यह वीरान और अलग- थलग है। यहां पर पाम के पेड़ों की लंबी लाइन ऐसी लगती है कि मानो पेंटिंग लगाई गई हो।

कैसे पहुंचें?

-मुंबई से यहां के लिए सीधी फ्लाइट की सुविधा है।

-यहां का सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन देलवाड़ा।

-रोड से दीव के लिए द्वारका, वेरावल, सोमनाथ, भावनगर, राजकोट और अहमदाबाद से नियमित बस सेवाएं हैं।

IN English 

Diu Tourist Places

Diu Toursim
Diu is situated at the extreme south of Saurashtra peninsula, this is a small island and one among the sea ports of western India. Diu is not part of Gujarat State Administration. It is under Diu Union Territory covering an area of 40 sq KMs. 

It is connected by road and it is also connected by air with daily flight from Mumbai. 

The best time to visit Diu is during winter months staring from October to March. The clean environment and beaches attracts several tourist from all parts of world.

Fort of Diu

Diu Fort
The Portuguese fortress of Diu is a formidable and imposing structure in the extreme south east point of the island. The fort has an area of 56736 sq meter in which it had facilities for the storage of all kinds of arms and ammunitions, ration and water which could withstand siege of the fort for longer duration. There are many underground escape channels inside the fort at Diu. This fort is considered to be the most important Portuguese fort situated in Asia. 

The fort was constructed by Nuno-Da-Cunha in the year 1536. It was later reconstructed by Viceroy D.Joao-De-Castro in the year 1546. 

There are two gateways to enter into this historic citadel. The landing pier and the gateway is protected by the St. George Bastion which is considered to be the oldest part of the fort. The bastion was guarded by Capt.Nannel-De-Souza-De-Supulvedaa who later this fortification till the sea. 

This Fort is protected by sea on 3 sides and on the land side was a moat cut through the solid rock. The fort was also highly guarded by cannons on all sides which are still placed inside the fort. The land side of the fort has an imposing double line of bastions facing towards the city of Diu.Three of them are on the outer line of the fort whereas the other four are towards the inner line. All these Bastions have been given the names of famous Christian Saints. 

The Gujarat Army under the Nawab Khwaja Safar and his son Rumikhan attacked the Diu Fort from the land side.

Layout of the Fort

The southern wall of the fort faces the sea. The St Luzia Bastain (1650 AD) from extreme point of castle to the eastern side. In between the Bastain of St.Luzia and main Bastain at the gateway are the cisterns of the “king and queens”, so constructed as to collect the rain water. Within the area of the fort of Diu were located the Governor's palace , the prison, barracks for the garrisons, state offices, besides several Churches. 

This is an open fort so avoid visiting the fort during noon hours or when climate is hot.

Saint Paul's Church

Saint Paul Church at Diu
This church was founded in 1600 A.D by the Jesuits as Seminary and was subsequently rebuilt in 1807 A.D. The most attractive part of the church is its impressive Gothic façade, considered to be most elaborate of any of the Portuguese church in India. 

Photography inside the church is not allowed. 

This church is located within 1 KM distance from the Fort so you can visit this church after visiting Fort. 

This church is visible from fort of Diu.

Diu Museum

Diu Museum
The St.Thomas church was converted into a museum in 1992. There are artifacts of the 16th century , 400 years old. 

Visiting hours are 9. 00 AM to 9 PM 
Shoes are to be removed before entering to the museum. You can carry your camera inside. It will take 10 to 20 minutes to complete the visit.

Local market near Jalandhar Beach

Diu Local Market
Inside this market you will get all types of products. Vegetables, fruits , cloths, bags , electronic equipments and many more will be available here. There are hotels available backside of the market with AC and Non AC rooms. 

Enjoy walking through the market.

Naida Caves

Diu Naida Caves
This cave is having opening towards top at different locations so sufficient lights falls inside the caves. There are walking tracks provided for tourist with arrow marks showing different direction to move inside the cave. 

It will take nearly 30 minutes to 45 minutes to visit the cave. From parking areas you can travel nearly 400 meters to reach entrance of the cave. Steps are available to enter inside the cave. You can comfortably walk inside the cave. 

This is a beautiful cave with light falling from different angles by the side of the rocks. This is good for photography. You will find many professional photographers using this set up for portrait photos.

Zampa Gateway

Diu Zampa Gateway
On the way to Naida Caves , this red color gate is the entrance to old Diu town. Well maintained till date this gate gives a historic look to the town of Diu. Nothing is inside this gate now except this beautiful walls and gate. Tourist usually take group photo here or take a selfie keeping the gate in background.

INS Khukhri Memorial & Open air Theater

Diu INS Khukhri
There is a memorial of INS Khukhri a frigate of Indian Navy which was sunk at 40 nautical miles off the cost of Diu after felling pray to three torpedoes fired from a Pakistani submarine on 9th Dec 1971. With the ship 18 officers and 176 sailors laid down their lives for the glory of the nation. 

Names of all officers and sailors of the ship are displayed at the top. There is a model of the ship displayed inside a glass house. 

There is an open air theater towards sea with seating arrangement for visitors. This theater is used during Diu Festival every year.

Gangeswar Temple: Shiva temple

Diu Gangeswar Temple
The Gangeshwar Shiva temple is situated at a distance of approximately 3km from the Fudam village of Diu.after visiting INS Kukhri you can visit this as they lie nearby to each other. There are 5 shivalingas here located near the sea at the coast. Devotees come here and offer water from the sea to the 5 shivalingas.there is a small canal sort of thing which supplies sea water to all the 5 shivlingas.

Nagoa Beach

Diu Nagoa Beach
Nagoa beach is a popular tourist attraction in Diu which attracts many tourists to Diu. It's ideal for recreational purposes. Multiple water sporting activities can be enjoyed by tourist here , some of them are jetskiing, paragliding, boating, motor-Boating in the Beach etc.

Beach is having several hokka trees by the side of the road. There is a cycle track available for tourist to enjoy cycling by the side of beach road. 

This beach is best place to relax and enjoy the beauty of sea.

How to Plan a Trip to Diu

Somnath temple and Gir forest is other attraction nearest to Diu, From Somnath you can travel to Diu and after sightseeing you can stay one night here. If you have early morning Permit for Gir Jungle safari then it is better to stay near Sasan Gir.

Diu to Somnath 85 KM ( One and half hour ) 
Diu to Sasan Gir 70 KM ( One and half hour ) 
Diu to Junagarh 180 KM , 3 hours journey

If you are traveling from Ahmedabad then on the way you can visit Junagadh and stay one night at here or at Sasan Gir. 

Based on your available date for online Permit for Gir Lion Safari you can plan your trip to Diu including Somanath temple for a minimum period of three days. 

However in Diu you can stay for long duration enjoying the clean beaches and peaceful surroundings.

Posted in TRAVELComments (0)

ट्रैवलिंग से जुड़ी ये पांच बातें कर देंगी आपकी लाइफ चेंज

घूमना-फिरना और नई-नई जगहों पर लगातार एक्सप्लोर करते रहना लाइफ को हमेशा तरोताजा बनाए रखता है. यात्राओं से मिलने वाले नए अनुभव जिंदगी के दायरे को बढ़ाते हैं और व्‍यक्‍तित्‍व का विकास भी करते हैं. यदि आप यात्रा करने के शौकीन हैं तो आइए आपको बताते हैं ट्रैवलिंग के वो पांच फायदे जो आपकी लाइफ में ला सकते हैं बड़ा चेंज.

  • ट्रैवलिंग दोस्तों के साथ संबंधों और रिलेशनशिप को कई लैवल्स पर जाकर ओपन करती है. यह बताती है कि वे लोग जो आपकी लाइफ में साथ हैं, उनके आपकी जिंदगी में क्या मायने हैं.
  • यात्राएं बताती है कि अकेले घूमने के अनुभव क्या होते हैं और एक मायनॉरिटी की तरह जीना कैसा होता है. अपने शहर परिवार और दोस्तों से दूर की दुनिया आपसे किस तरह से पेश आती है और आपको कितना समझती है, जबकि आप खुद कितना उसके साथ एडजस्ट कर पाते हैं.
  • ट्रैविलिंग के दौरान बदले हुए हालात के बीच जीना हमें विपरित परिस्थितियों का सामना करने की ताकत देता है. हम लाइफ को या तो इंजॉय करते हैं, या फिर खुद से डिस्पॉइंट होते हैं. ट्रैवलिंग हमें अदंर से मजबूत बनाती है.
  • ट्रैवलिंग लाइफ के प्रति एक पॉजिटिव अप्रोच और एटीट्यूड देती है. यह हमारे कैरेक्टर और पर्सनाल्टी को भी बनाती है. कहा भी गया है कि घूमने-फिरने से आपके कैरेक्टर का असली टेस्ट होता है.
  • ट्रैवलिंग नॉलेज, कल्चर और सोसायटी के अलग-अलग हिस्सों का परिचय कराती है और जिंदगी के प्रति एक नजरिया बनाने में सहयोग देती है.

Posted in TRAVELComments (0)

समलैंगिकता ‘ठीक’ करने के नाम पर महिलाओं के साथ होता है क्रूर अत्याचार

फ़ोटोग्राफ़र पाओला पेरेदेस ने सबसे पहले दुनिया का ध्यान अपनी उन तस्वीरों से खींचा था, जब उन्होंने परिवार को अपने समलैंगिक होने की बात बताई थी. पाओला अब अपनी नई फ़ोटो सीरीज़ के साथ वापस आ गयी हैं . वे इन तस्वीरों के ज़रिए कई नए खुलासे करने जा रही हैं. Until You Change नाम की इस नई सीरीज़ में वो इक्वा़डोर के एक रिहाब के कारनामों को सामने लाने में कामयाब रही हैं.

इक्वाडोर का ये Rehab समलैंगिकता से ग्रस्त लोगों का 'इलाज' बेहद क्रूरता से करने के लिए जाना जाता है. इस रिहाब में समलैंगिक लोगों को 'ठीक' करने के लिए कई तरीके अपनाए जाते हैं. इन लोगों को भूखा रखा जाता है, इन्हें प्रताड़ित किया जाता है और कई बार इलाज के बहाने यहां महिलाओं का शोषण भी होता है.

आधिकारिक तौर पर ये क्लीनिक ड्रग्स और शराब के आदी लोगों को नशा छुड़ाने के लिए हैं, लेकिन Rehab की आड़ में ये जगह Homphobic हो चुकी है और ट्रांसजेंडर्स और समलैंगिक लोगों पर अत्याचार के लिए जानी जाती है.


पाओला के मुताबिक, जब वे अपने आपको आतंरिक और सेक्सुशल तौर पर एक्सप्लोर कर रही थीं, तब उन्हें इस क्लीनिक के बारे में पता चला था. इस घटना ने उन्हें झकझोर कर रख दिया था.

जब उन्हें ये ख़्याल आया कि समलैंगिक होने की वजह से उन्हें भी इस क्लीनिक में कैद किया जा सकता है, उसी समय उन्होंने निश्चय कर लिया कि वे इन क्लीनिक्स की सच्चाई को दुनिया के सामने रखेंगी.

यही कारण था कि इस क्लीनिक में होने वाले गोरखधंधे के बारे में उन्होंने पता लगाने का फ़ैसला किया. वे अंडरकवर बन कर इस क्लीनिक में दाखिल हुईं. उन्होंने एक माइक्रोफ़ोन को छिपाया और अपने माता-पिता के साथ वे एक ऐसे ही एक क्लीनिक में आ गईं.


पाओला की इस फ़ोटो सीरीज़ का मकसद है, इक्वाडोर से लेकर यूरोप, अमेरिका और दक्षिण अमेरिका जैसे देशों में Homophobia को लेकर अवगत करना है.

तस्वीर में मौजूद इस महिला को बाथरुम में सफ़ाई करते वक्त बेहद एहतियात बरतनी पड़ती है. उसे टूथब्रश से फ़्लोर को साफ़ करना पड़ता है. कोई भी गलती हो जाने पर उसके हाथों को टॉयलेट के अंदर ज़बरदस्ती डाला जाता है.


इस महिला को नहाने के लिए अधिकतम सात मिनट समय मिलता है. ये समय घटकर चार मिनट भी हो सकता है. नहाने के बाद इसे घंटो कैथोलिक म्यूज़िक सुनना पड़ता है, एल्कोहॉलिक एनोनमस लिटरेचर के बारे में पढ़ना पड़ता है और अपनी समलैंगिक समस्या के लिए थेरेपी लेनी पड़ती है.


कई युवा इक्वाडोरियन महिलाओं का दावा है कि समलैंगिकता के इलाज के बहाने इन क्लीनिक के कर्मचारी लड़कियों के साथ रेप करते हैं. इसके लिए कई महिलाओं को ड्रग देने के बाद बेहोशी की हालत में उनके साथ रेप किया जाता है.


पुरुष थेरेपिस्ट्स के सामने इन महिलाओं को न चाहते हुए भी मेकअप, शॉट स्कर्ट और हील्स में घूमना पड़ता है. ये इन महिलाओं के लिए भावनात्मक तौर पर बेहद तकलीफ़देह होता है.


इस लड़की को क्लीनिक के कर्मचारियों ने नोट्स पास करते हुए देखा था. इसी के चलते उसे फ़ौरन थेरेपी रूम ले जाया गया. जब वो वापस आई, तो तेज़ आवाज़ में धार्मिक संगीत चलाया जा रहा था. थेरेपिस्ट ने महिला को छाती पर मारा, ठंडे फर्श पर उसे घुटनों के बल बैठने को कहा गया और शरीर पर भारी भरकम बाइबिल रख दी गई.


खाने से मना करने का मतलब होता है स्टाफ़ की अथॉरिटी के खिलाफ़ आवाज़ उठाना. इस महिला ने जब ऐसी ही ज़ुर्रत करनी चाही तो उसे एक कर्मचारी ने हिंसक होते हुए उसे लात मारी और बाकी महिलाओं के लिए उदाहरण पेश किया.


इक्वाडोर में ऐसी करीब 200 जगहें हैं जहां समलैंगिक, ट्रांससेक्शुएल और महिलाओं का 'इलाज' किया जाता है. दुर्भाग्य से ये सेंटर धड़ल्ले से चालू हैं. ड्रग एडिक्टस् को ठीक करने की आड़ में यहां ट्रांसजेंडर्स और समलैंगिक लोगों पर अत्याचार किया जाता है.


यहां खाना भी औसत से कम दर्जे का है. यहां महिलाओं को कई बार कुछ ऐसा पिलाया जाता है जिनके बारे में उन्हें कुछ पता नहीं होता. सेंटर में मौजूद कई महिलाओं को शक है कि उनकी कॉफ़ी या चाय में टॉयलेट पानी, क्लोरिन जैसी चीज़ें मिली होती हैं.


इस लड़की को केबल टीवी की तार से मारा गया था, क्योंकि इस महिला ने अपना बैग कुर्सी से नहीं उठाया था.


इस महिला को सबसे पहले तब बांधा गया था जब इस लड़की के मां-बाप ने सेंटर लाने के लिए इसे किडनैप करवाया था. एक बार क्लीनिक पहुंचने के बाद इस विद्रोही लड़की को कई बार बेड से बांधा जा चुका है.

इस जगह कैद महिलाएं कई घंटे सफ़ाई में बिताती हैं. बाथरूम, ऑफ़िस, कॉरीडोर, किचन की सफ़ाई इन महिलाओं को ही करनी पड़ती है.



अगर यहां मौजूद स्टाफ़ सफ़ाई से संतुष्ट नहीं होता है, तो वे इन महिलाओं को बेइज्ज़त करते हैं या उनके साथ मार पीट करते हैं.

 

Source: Bored Panda

Posted in LIFE STYLEComments (0)

‘बेवकूफ’ ब्रांड के नाम से चलने वाले होटल पिछले 40 साल से गिरिडीह की पहचान बन चुके हैं

वह साल 1971 की गर्मियों का मौसम था. जब झारखंड के छोटे से शहर गिरिडीह में पहले ‘बेवकूफ’ का पदार्पण हुआ. अब यहां पांच ‘ब्रांडेड बेवकूफ’ हैं. इनके बीच खुद को सबसे बड़ा 'बेवकूफ' साबित करने की होड़ है.

अपने-अपने दावे भी हैं. गिरिडीह की पहचान इसलिए भी है क्योंकि यहां इतने सारे ‘बेवकूफ’ एक साथ विराजते हैं. इन ‘बेवकूफों’ की शहर में अपनी प्रतिष्ठा है. इनके नाम हैं बेवकूफ, महा बेवकूफ, बेवकूफ नंबर 1, श्री बेवकूफ आदि-आदि.

चौंकिए मत, दरअसल, ये सब नाम गिरिडीह के होटलों के हैं. ये आज की महंगाई में भी कम रेट पर लोगों को खाना खिलाते हैं. हर होटल संचालक दावा करता है कि वह शहर के पहले बेवकूफ होटल का मालिक है. इस शहर में बेवकूफ नाम होना ही काफी है. लिहाजा, वो चाहते हैं कि लोग जानें कि वे ही गिरिडीह के पहले बेवकूफ हैं.

Maha Bewakoof Hotel

गोपी राम की कहानी

गोपी राम ने 1971 में यहां सबसे पहले बेवकूफ होटल खोला. यह कचहरी के पास था. लोग इसके नाम से आकर्षित होकर होटल में आते और पेट भर खा कर जाते. गोपी राम ने खाने की क्वालिटी बढ़िया रखी और दाम कम. जाहिर है इसकी वजह से लोगों की भीड़ उमड़ने लगी. शाकाहारी और मांसाहारी दोनों तरह के भोजन यहां उपलब्ध थे. प्लेट का हिसाब था. कुछ भी अलग से लेने की जरुरत नहीं.

यह होटल खूब चलने लगा. कचहरी में केस-मुकदमे की पैरवी के लिए आने वाले लोगों के लिए पसंदीदा बन चुके इस होटल में खाने और इसे देखने के लिए पास-पड़ोस के जिलों से भी लोग आने लगे. इस प्रकार उन्होंने बेवकूफ को एक ब्रांड बना दिया. वह आजीवन कुंवारे रहे. उन्होंने अपनी विरासत और बिजनेस अपने दोनों भतीजों को सौंप दिया.

Bewakoof Hotel Customer

हम पहले बेवकूफ हैं

गोपी राम के भाई के लड़के प्रदीप कुमार और बीरबल प्रसाद अब इस होटल के मालिक हैं. प्रदीप कुमार कहते हैं कि गोपी राम जी इनोवेटिव थे. इसी कारण उन्होंने होटल का नाम 'बेवकूफ' रख दिया. यह अपनी किस्म का अलग नाम था और दिमाग में बस जाता था. कई दूसरे लोगों ने इसकी नकल की और बाद के दिनों में इस नाम से 7 और होटल खुल गए. हालांकि, अब इनमें से दो बंद हो चुके हैं.

बेवकूफ नंबर वन

पुराने वाले बेवकूफ होटल के ठीक बगल में है होटल बेवकूफ नंबर 1. इसके मालिक हैं शंभू प्रसाद साह. कहते हैं कि बेवकूफ नाम तो उनके लिए लक्ष्मी के समान है. इससे घर चलता है. मुझे तो इसी नाम ने प्रतिष्ठा दी है. एक सवाल के जवाब में उन्होंने बताया कि उन्हें इस नाम के कारण शादी-संबंध या सामाजिक स्वीकार्यता में कभी दिक्कत नही हुई. बल्कि प्रतिष्ठा में बढ़ोतरी ही हुई.

Hotel Bewakoof No. 1

उन्होंने बताया कि उन्हें राखी सांवत के शो 'अजब देश की गजब कहानी' में शामिल होने के लिए मुंबई बुलाया गया था. यह एनडीटीवी इमेजिन चैनल पर प्रसारित हुआ था.

और भी कई हैं बेवकूफ

इन दोनों होटलों के लगभग 200 मीटर के दायरे में किशोर कुमार भदानी का श्री बेवकूफ होटल, अशोक भदानी का श्री बेवकूफ रेस्टोरेंट, ओम प्रकाश सिंह का महाबेवकूफ होटल भी है. सबका बिजनेस ठीक चल रहा है. इन सबको राखी सावंत के शो के बहाने टीवी स्क्रीन पर आने का मौका मिला.

मुंबई में ब्रांच

श्री बेवकूफ रेस्टोरेंट के मालिक अशोक भदानी के बेटे नीरज ने मुंबई के कपासबाड़ी लिंक रोड पर इस होटल का ब्रांच खोला. नाम रखा- बेवकूफ होटल. वहां भी लोग नाम देखकर खाने चले आते. बकौल अशोक भदानी, मुंबई का बिजनेस ठीक चल रहा था लेकिन चंदा उगाही के कारण उसे बंद करना पड़ा.

Sri Bewakoof Hotel

उनकी बेटी और दामाद अमेरिका में डॉक्टर हैं. बच्चों की परवरिश इसी होटल से हुई कमाई से हुई. इन्होंने प्लेट सिस्टम के साथ रेस्टोरेंट का भी सिस्टम रखा है. मतलब, अलग-अलग आर्डर देकर भी यहां खाना खा सकते हैं.

विदेशी भी आते हैं खाने

गिरिडीह के बेवकूफ ब्रांड को इन दिनों चुनौतियां भी मिल रही हैं. आज के बदलते समय में लोग मॉल के फूड कोर्ट में खाना चाहते हैं. लेकिन इत्मीनान यह कि गिरिडीह में यही एक ब्रांड है. तो लोग आते हैं और खाते हैं. फेसबुक के लिए फोटो भी खिंचवाते हैं. इनमें विदेशियों की भी अच्छी-खासी संख्या होती है.

Posted in INDIA, LIFE STYLEComments (0)

एसिड अटैक सरवाइवर की शादी में शरीक हुए बॉलीवुड स्टार विवेक ओबेरॉय, गिफ़्ट में दिया एक नया फ़्लैट

ज़िन्दगी का सबसे बड़ा और खूबसूरत फ़ैसला होता है शादी. फिर चाहे वो कोई लड़की हो या लड़का हर कोई शादी के लिए बहुत सपने देखता है. ऐसा ही एक खुशनुमा पल आया एसिड अटैक सरवाइवर ललिता बेनबांसी की ज़िन्दगी में, जब राहुल कुमार ने ललिता को प्रपोज़ किया और बीते मंगलवार राहुल और ललिता सात फेरों के बंधन में बंध गए.

Source: indiatimes

ललिता उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ से हैं और 2012 में ललिता पर आपसी खुन्नस के चलते उनकी ही कज़न ने एसिड फिंकवा दिया था. इस अटैक के बाद उनका पूरा चेहरा जल गया था, जिसके कारण ललिता को 17 बार सर्जरी के दर्द को झेलना पड़ा. हालांकि, अभी भी ट्रीटमेंट पूरा नहीं हुआ है. लेकिन उन्होंने कभी भी हिम्मत नहीं हारी.

 

राहुल और ललिता की प्रेम कहानी किसी बॉलीवुड फ़िल्म से कम नहीं है. जी हां, एक बार गलती से राहुल ने ललिता का फ़ोन मिला दिया था. बस तभी से इनकी प्रेम कहानी शुरू हो गई और दोनों ने दो महीने बाद ही शादी करने का फ़ैसला कर लिया. आज ये शादी के पवित्र बंधन में बंध चुके हैं. शादी के मौके पर दूल्हे राहुल कुमार ने अपनी पत्नी की तारीफ़ करते हुए कहा कि उनका दिल सच्चा है और यही मायने रखता है.

राहुल का कहना है, 'बस एक रॉन्ग नंबर ने मेरी दुनिया बदल दी. मैं नहीं जानता था कि एक रॉन्ग नंबर मेरी ज़िन्दगी बदल देगा.'

ललिता अपनी ख़ुशी ज़ाहिर करते हुए कहती हैं कि 'सोचा नहीं था कभी शादी होगी. राहुल को मेरी सचाई पता थी, लेकिन फिर भी वो मुझसे शादी करने के लिए तैयार थे.' गौरतलब है कि राहुल मुंबई के मलाड में बतौर सीसीटीवी ऑपरेटर हैं. उनका कहना है कि मेरे इस फैसले में मेरी मां और पूरे परिवार की सहमती है और उन्होंने हर मौके पर मेरा साथ दिया है.

Source: indiatimes

ललिता और राहुल की शादी में विवेक ओबरॉय, फैशन डिजाइनर अबू जानी जैसी कई हस्तियों ने भी शिरकत की और उनको शुभकामनाओं सहित तोहफ़े भी दिए. ख़बरों के हिसाब से ललिता से विवेक इसी साल मार्च में एक अवेयरनेस प्रोग्राम के दौरान मिले थे, जिसके बाद उनको ललिता की ज़िन्दगी के संघर्ष और समस्याओं के बारे में पता चला था. उसी दौरान विवेक को ये भी पता चला था कि ललिता के पास घर नहीं है. तब उन्होंने ललिता को घर दिलाने की बात कही थी.

Source: indiatimes

ललिता की शादी के मौके पर जहां डिज़ाइनर अबू जानी और संदीप खोसला ने ललिता का शादी का लहंगा बनाया और नेकलेस दिया, वहीं विवेक ओबेरॉय ने उनके हाथों में ठाणे स्थित एक नए फ़्लैट की चाभियां थमां दीं.

विवेक ओबरॉय ने इस जोड़े को शुभकामनाएं देते हुए कहा, 'ललिता मजबूत लड़की है.' और 'राहुल उससे सच्चा प्यार करते हैं'.

 Follow

Vivek Anand Oberoi @vivek_oberoi

Lalita is a true hero cz she proves 2 1000s of acid attck survivors nationwide tht this isnt a full stp,jst a comma,lyf hs mny possibilities

Twitter Ads info & Privacy

विवेक ओबेरॉय ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक फ़ोटो शेयर करते हुए लिखा है, 'ललिता एक बहादुर और मज़बूत लड़की हैं, उन्होंने दुनियाभर की एसिड अटैक सरवाईवर्स के सामने ये उदाहरण पेश किया है कि हादसों से ज़िन्दगी रूकती नहीं, बल्कि कुछ देर के लिए थम जाती है. आपकी ज़िन्दगी में हुआ हादसा फ़ुल स्टॉप नहीं, बल्कि एक कौमा है. ज़िन्दगी में बहुत से मौके और संभावनाएं होती हैं.'

Source: indiatimes

Posted in INDIA, LIFE STYLEComments (0)

advert