Categorized | BUSINESS

GST की जानकारी देने के लिए सेमीनार का आयोजन किया गया

Ajeybharat/Jind/ केन्द्र सरकार द्वारा विगत एक जुलाई से देश में शुरू किये गए वस्तु एवं सेवा कर की जानकारी देने के लिए शुक्रवार को डीआरडीए के सभागार में एक सेमीनार का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता उप आबकारी एवं कराधान आयुक्त सत्यबाला ने की। कार्यक्रम मेें ई टी ओ नरेश अहलावत,तेजेन्द्र सिंह,ए ई टी ओ रामभज शर्मा तथा संजीव गिल मौजूद रहे। 


उप आबकारी एवं कराधान आयुक्त सत्य बाला ने बैठक में उपस्थित व्यापारियों एवं आम जन को जीएसटी के सम्बंध में जानकारी देते हुए कहा कि वस्तु एवं सेवाकर के लागू हो जाने से देश विकास के पथ पर आगे तेजी से बढेगा। यह व्यवस्था शुरू होने से देश में एक बाजार एक कर की व्यवस्था शुरू हो गई है। उन्होनें व्यापारियों से कहा कि जी एस टी आम जनता के साथ-साथ व्यापारियों के लिए भी फायदेमंद साबित होगी। जिस वस्तु पर पहले कई प्रकार के टैक्स लगा करते थे, अब एक टैक्स ही लगेगा। उन्होनें कहा कि जीएसटी के तहत टैक्स अदा करने की काफी आसान प्रक्रिया है। व्यापारी आनॅलाईन घर बैठे ही टैक्स की अदायगी कर सकते है। उन्होनें जी एस टी के सम्बंध में व्यापारियों एवं उपस्थित अन्य लोगों को विस्तार से जानकारी दी। 

सेमीनार में व्यापारियों द्वारा वस्तु एवं सेवाकर के सम्बंध में सवाल भी पूछे । अधिकारियों ने उनके सभी सवालों के जवाब देकर व्यापारियों की शंकाओं को दूर किया। एक सवाल के जवाब में उप आबकारी एवं कराधान आयुक्त ने बताया कि 20 लाख रूपए तक की राशि का टर्नओवर करने वाले व्यापारियों एवं उद्यमों को जीएसटी से बाहर रखा गया है। इसके अलावा जी एस टी के तहत कम्पोजिट स्कीम भी शुरू की गई है। इस स्कीम पर 75 लाख तक का टर्न ओवर करने वाले उद्यमों एवं व्यापारियों को काफी फायदा मिलेगा।

Image may contain: 2 people, people sitting

This post was written by:

- who has written 1481 posts on Ajey Bharat.


Contact the author

advert