Recents in Beach

header ads

अवैध रूप से विस्फोटक व पटाखे बेचने वालों के खिलाफ होगी कार्रवाई:डॉ. आदित्य दहिया

करनाल 5 नवम्बर, जिलाधीश डॉ. आदित्य दहिया ने दीपावली के त्योहार के मद्देनजर जिला में विस्फोटक पदार्थों एवं पटाखों की बिक्री हेतु विस्फोटक पदार्थ नियम 2008 की धारा 127 व 128 और आम जन की जान-माल की सुरक्षा हेतु आपराधिक दंड संहिता 1973 की धारा 144 के तहत आदेश जारी किए हैं। 


जिलाधीश द्वारा जारी आदेशों में कहा गया है कि दीवाली पर्व पर अत्यंत शोर-शराबे वाले विस्फोटक का इस्तेमाल न करें बल्कि कम प्रदूषण फैलाने वाले ग्रीन पटाखों का ही प्रयोग करें। लड़ी के रूप में जुड़े हुए विस्फोटक पदार्थ जलाने पर पाबंदी होगी। माननीय सर्वोच्च न्यायालय के आदेशों की पालना करते हुए दीवाली के दिन केवल सायं 8 बजे से 10 बजे तक ही पटाखे जलाए जा सकेंगे। लाईसैंस धारक पटाखा विक्रेताओं को जिला प्रशासन द्वारा निर्धारित स्थलों पर ही 5 नवंबर से 7 नवंबर 2018 तक प्रात: 10 बजे से सायं 7 बजे तक ही पटाखों की बिक्री हो सकेगी।

जारी किए गए आदेशों के तहत प्रत्येक बूथ को 25 किलोग्राम पटाखे रखने व बेचने की अनुमति दी जाएगी। दो बूथों के मध्य कम से कम 3 मीटर तथा दो बूथों के आमने-सामने की दूरी कम से कम 50 फुट रखी जानी अनिवार्य की गई है। प्रत्येक बूथ के चारों तरफ खुला मैदान छोड़ा जाना भी अनिवार्य है। प्रत्येक बूथ को अज्वलनशील सामग्री से बनाया जाएगा। इन आदेशों की अनुपालना संबंधित तहसीलदार / नायब तहसीलदार, नगर परिषद / पालिका के सचिव सुनिश्चित करेंगे। जारी किए गए आदेशों के तहत संबंधित तहसीलदार / नायब तहसीलदार संबंधित अधिकार क्षेत्र में इन स्थलों को निरीक्षण करेंगे।

जिलाधीश के आदेशों में कहा है कि 5 नवंबर से 7 नवंबर 2018 तक करनाल शहर के सैक्टर-4 पार्ट-1, ट्रांसपोर्ट नगर 
करनाल, तरावड़ी में हुडा ग्राऊंड नम्बर 1, नीलोखेड़ी में राजकीय सीनियर सैकेंड्री स्कूल ग्राऊंड, घरौंडा में रघबीर विहार कॉलोनी के सामने, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के ग्राऊंड में, असंध में हाई स्कूल के पीछे ग्राऊंड में व इंद्री में राजकीय शहीद उधम सिंह महाविद्यालय में प्रात: 10 बजे से सायं 7 बजे तक ही स्टालों पर पटाखों की बिक्री की जा सकेगी। यदि कोई व्यक्ति अन्य क्षेत्रों में विस्फोटक पदार्थ बेचता हुआ पाया गया तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। आदेशों में कहा गया है कि करनाल में जिले में स्टालों की कुल संख्या 25 हैं, घरौंडा में 1, असंध में 8, तरावड़ी में 3, इंद्री में 5 तथा नीलोखेड़ी में 5 स्टाल हैं। आदेशों की पालना के लिए करनाल, इंद्री व असंध अपने-अपने क्षेत्र के ओवरऑल इंचार्ज होंगे तथा अपने-अपने अधिकार क्षेत्र में कड़ी नजर रखेंगे। माननीय सर्वोच्च न्यायालय के आदेशों की पालना करते हुए दीवाली के दिन केवल सायं 8 बजे से 10 बजे तक ही पटाखे जलाए जा सकेंगे। 

आदेशों में कहा गया है कि पीसीआर वैन क्षेत्र की निगरानी करेगी, तथा शरारती, बदमाश तथा असामाजिक प्रकृति व्यक्तियों पर नजर रखेगी एवं यह भी सुनिश्चित करेगी कि शहर में बिना लाईसेंस के कोई व्यक्ति आतिशबाजी न बेच पाए, यदि कोई बेचता पाए जाए तो उसके खिलाफ भारतीय एक्सप्लोजिव नियम, 1984 की धारा 181 के तहत कार्रवाई की जाएगी। जिलाधीश ने आदेशों में कहा है कि पर्यावरण दूषित न हो इसके लिए विद्यार्थियों व आम जनता को जागरूक करें और दीवाली के दिन कम से कम विस्फोटक पदार्थों का प्रयोग करें।

Post a Comment

0 Comments