Recents in Beach

header ads

जानिये क्यों फूंका फरीदाबाद के वकीलों ने मंत्री कृष्ण बेदी का पूतला ?

फरीदाबाद :22 नवंबर,2018; फतेहाबाद की ग्रीवेंस कमेटी की बैठक में वकीलों को अपशब्द बोलने के मामले पर राज्यमंत्री कृष्ण बेदी के खिलाफ जिला कांग्रेस कमेटी लीगल सैल के चेयरमैन अनुज शर्मा के नेतृत्व में  वकीलो ने विरोध प्रदर्शन किया और उसके बाद कृष्ण बेदी का पूतला फूंका। 

हरियाणा सरकार में राज्यमंत्री कृष्ण बेदी ने वकीलों को अपशब्द का प्रयोग करते हुए यह कहा कि वकीलों से तो पूरा देश परेशान हैं उसी बयान के बाद हरियाणा भर में वकीलों में रोष है और इसी को लेकर  फरीदाबाद में भी कृष्ण बेदी का पुतला फूंका और प्रदर्शन किया साथ ही कृष्ण बेदी के खिलाफ नारेबाजी की. 

कांग्रेस लीगल सैल के चेयरमैन अनुज शर्मा एडवोकेट ने कहा कि भाजपा के नेता सत्ता के अहकार मे बोखला गए है भाजपा के नेता, मंत्री और पदाधिकारी पहले भी ऐसे ब्यान दे चुके है जिससे महिलाओ, किसानो, दलितो और छात्रो सहित अन्य वर्गो का अपमान हुआ है, इस तरह भाजपा ने हर वर्ग को अपमानित करने का काम किया है और अब हरियाणा सरकार मे मंत्री कृष्ण बेदी द्वारा देश के वकीलो के लिए इस तरह की टिप्पणी करना बेहद शर्मनाक है यह भी साफ किया है कि कृष्ण बेदी यदि इस बयान पर माफी नहीं मांगते तो उनके खिलाफ वकील दूसरा रास्ता भी अख्तियार कर सकते हैं 

अनुज शर्मा ने इस तरह के बयान को और शब्दों को बेतूका बताते हुए कृष्ण बेदी से माफी मांगने की भी मांग की है वकीलों का कहना है कि हरियाणा सरकार में राज्य मंत्री के पद पर और ग्रीवेंस कमेटी में समस्याएं सुनते हुए वकीलों को यह शब्द कहना उचित नहीं है इससे प्रदेशभर के वकीलों को बेइज्जत किया गया है जिस पर कृष्ण बेदी माफी मांगे। 

प्रदर्शन मे मौजूद प्रदेश प्रदेश सचिव सुशील रावत ने कहा है कि कृष्ण बेदी यदि इस पूरे मामले पर माफी नहीं मांगते हैं तो कानूनी कार्रवाई के तहत उनके खिलाफ दूसरे कदम उठाए जाएंगे क्योंकि भले ही आज ही प्रदर्शन जिला स्तर पर हो इस पूरे मामले पर बार काउंसिल एक बड़ा आन्दोलन करने का विचार कर रही है इस अवसर पर फरीदाबाद बार के वरिष्ट उपप्रधान टीका डागर, अशोक कश्यप, दिनेश भाटी, सर्वेश कौशिक, हरबस गोदारा, अब्दुल वहिद, पवन पाराशर, विश्वेन्द्र अत्री, गुलाब रावत, निशांत नागर, पीयुष भारद्वाज, सचिन भारद्वाज,  प्रमोद शर्मा, राजेश तेवतिया, सुरेन्द्र कलेर सहित काफी अधिवक्ता मौजूद थे 



Follow ajeybharat on

www.facebook.com

Post a Comment

0 Comments