Recents in Beach

header ads

जिन्हें त्यौहार का मतलब नहीं पता उनके साथ मिलकर के अपने त्यौहार मनाएं:रवि बंसल

गुरुग्राम : रेखा वैष्णव:

साईं सेवा फाउंडेशन के सदस्यों का हमेशा से यह प्रयास रहता है कोई भी त्यौहार एवं विशेष दिन अपने परिवार के साथ साथ अनाथ,दिव्यांग, बुजुर्ग एवं ऐसे लोग जिन्हें  त्यौहार का मतलब नहीं पता उनके साथ मिलकर के अपने त्यौहार मनाएं।रवि बंसल ने बताया की सही अर्थ में त्यौहार का मतलब भी यही है कि अपने साथ-साथ दूसरों के जीवन में भी उजाला करना खुशियां लाना!

इसी के तहत साईं सेवा फाउंडेशन की पूरी टीम ने जगह जगह जाकर  बच्चों को चॉकलेट ,मिठाई एवं छोटे बच्चों को नए कपड़े दिए। अंध विद्यालय में जाकर बच्चों को फल एवं मिठाई दी। रेन बसेरों में जाकर बुजुर्ग दिव्यांग लोगों को मिठाई ,कपड़े ,दिए और उनके साथ दीपावली मनाई।जिसे पाकर वह सभी लोग बहुत हर्षित हुए

संस्था के सदस्य सड़कों पर निकले और रिक्शेवाले ,रेहड़ी वाले साइकिल वाले सफाई कर्मचारी को मास्क दिया और प्रदूषण से होने वाले नुकसान के बारे में बताया जिसमें पल्लवी और रितु मान ने विशेष भूमिका निभाई।

इस कार्यक्रम में साईं सेवा फाउंडेशन दिल्ली प्रांत के सभी सदस्यों ने विशेष भूमिका निभाई जिसमें अंकित अरोड़ा जी,अमन नय्यर जी,राहुल चोपड़ा जी,ध्रुव धमीजा जी,हनी छाबड़ा जी,बहन पल्लवी चोपड़ा ,बहन  रितु मान, गौरव भूटानी जी,तुषार चोपड़ा जी की मेहनत और प्रयासों से यह कार्य सफल हो पाया।

इस पुनीत कार्य में संस्था के विजय अग्रवाल,वीरभान गुप्ता ,दीपक,निकेश भाई,अनिल राणा ,पंकज सहगल ,दीप्ति जैन,मनीष , दीप गांधीजी,अमित गुप्ता ,मानसी गोयल ,जितेंद्र राठौर,दीपक जैन,रवि अग्रवाल,रवि बंसल,अंकित अरोड़ा ने सेवा कार्य के लिए मदद की








Post a Comment

0 Comments