Recents in Beach

header ads

शहर किसी एक पार्क का नाम प्रख्यात पत्रकार स्व. देवव्रत वशिष्ठ के नाम से रखा जाएगा

भिवानी, 16 नवंबर। 
भिवानी के विधायक घनश्याम सर्राफ ने कहा है कि शहर किसी एक पार्क का नाम प्रख्यात पत्रकार स्व. देवव्रत वशिष्ठ के नाम से रखा जाएगा। ये घोषणा मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने औपचारिक रूप से कर दी है। विधायक श्री सर्राफ शुक्रवार को स्थानीय भवन एवं सडक़ निर्माण विभाग विश्राम गृह में जर्नलिस्ट क्लब भिवानी द्वारा राष्ट्रीय प्रेस दिवस पर आयोजित कार्यक्रम को बतौर मुख्यातिथि संबोधित कर रहे थे।
विधायक सर्राफ ने कहा कि राष्ट्रीय प्रेस दिवस पत्रकारों को सशक्त बनाने के उद्देश्य से स्वयं को समर्पित करने का अवसर प्रदान करता है। यह दिन भारत में एक स्वतंत्र और जिम्मेदार प्रेस की मौजूदगी का प्रतीक है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार पत्रकारों के हितों के लिए वचनबद्ध है। सरकार द्वारा पत्रकारों के कल्याण के लिए निरंतर योजनाएं लागू की जा रही है। पत्रकारों की सुविधा के लिए मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की घोषणा के अनुरूप प्रत्येक जिले में मीडिया सेंटरों की स्थापना की है। भिवानीे में भी विगत 29 मार्च 2018 को मीडिया सेंटर की स्थापना की गई है। इसी प्रकार सरकार ने प्रदेश में 60 वर्ष से अधिक तथा पत्रकारिता में सक्रिय वरिष्ठ मीडिया कर्मियों के लिए दस हजार रूपए मासिक पेंशन देने की योजना प्रारंभ की है। पेंशन योजना के तहत जिला भिवानी से ईश्वर धामू, केसरी शर्मा, श्रीभगवान वशिष्ठ, फूलचंद धनानिया, सत्यनारायण मिश्रा और नरोतम बागड़ी को पेंशन योजना का लाभ मिल रहा है। 

विधायक ने बताया कि पत्रकारों की सुविधा के मद्देनजर एक्रीडेशन के लिए सरकार ने ऑन लाईन सुविधा शुरू की है, जिससे उनके समय की बचत हुई है। इसी प्रकार से पत्रकारों के लिए दुर्घटना बीमा योजना शुरू की गई है। मीडिया कर्मियों के लिए सरकार ने पांच लाख रूपए तक स्वास्थ्य बीमा शुरू किया है, जिसके तहत मीडिया कर्मी व उनके आश्रित परिजन सरकार के पैनल में शामिल किसी भी अस्पताल में पांच लाख रूपए का उपचार ले सकेंगे। सरकार ने ऐसी व्यवस्था की है अगर किसी पत्रकार के साथ कोई दुर्घटना होती है तो उनको आर्थिक सहायता दी जा सके। सरकारी तौर पर मान्यता प्राप्त पत्रकारों को परिवहन विभाग की बसों में नि:शुल्क यात्रा की सुविधा दी जा रही है। यह यात्रा साल में चार हजार किलोमीटर तक की जा सकती है। नगरपरिषद चेयरमैन रणसिंह यादव ने अपने संबोधन में कहा कि प्रेस की आजादी की रक्षा के लिए 16 नवम्बर 1966 को प्रेस परिषद की स्थापना की गई थी, इसलिए इस दिन को राष्ट्रीय प्रेस दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दौरान भाजपा महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष बबीता तंवर, वरिष्ठ पत्रकार ईश्वर धामू, प्रदीप चौहान, विषणु शास्त्री, संजय शर्मा, अजय नायक व एस के मित्तल सहित अनेक वक्ताओं ने अपने विचार रखे।
इस अवसर पर सीबीएलयू से जन संचार विभाग की प्रवक्ता दीपमाला सौलंकी, शिक्षाविद श्याम लाल, भाजपा मीडिया प्रभारी सोनू सैनी, नरोतम बागड़ी, सोमबीर शर्मा, अनुज राणा, अशोक शर्मा, योगेश परमार, राजू मैहरा, विनोद दुआ, पवन ठाकुर, धीरज सैनी, शेरसिंह वालिया सहित अनेक मीडियाकर्मी उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments