Recents in Beach

header ads

रंग ला रही है अमित पालड़ी की मुहीम, किसान कर्ज माफी व जिला मुख्यालय महेन्द्रगढ़ बनाने के लिए अनेक सामाजिक संगठनों का मिला समर्थन

रविवार को इस मुहिम को सफल बनाने के लिए किया जाएगा आंदोलन शांतिपूर्वक -अमित पालडी पनिहारा

संदीप भान्डोर : महेन्द्रगढ़:

किसान कर्ज माफ़ी को पिछले चार दिन  से दिन  से बैठे हुए  युवा जागरूक संघ के अध्यक्ष अमित पालडी पनिहारा  ने कहा की हरियाणा बनने के बाद महेन्द्रगढ़ जिला काफी समय से पुराना जिला है  फिर भी यहां पर जिला मुख्यालय नही है जिससे आमजन को नारनोल आने व जाने में बहुत ही परेसानी होती है यदि मुखायाल महेन्द्रगढ़ में ही हो तो आमजन को कोई परेशानी नही होगी।महेन्द्रगढ़ जिला शिक्षा व अनेक कार्यो में आगे होते हुए भी यहां पर जिला मुख्यालय नही है महेन्द्रगढ़ जिले का मुखायाल नारनोल में अस्थाई रूप से स्थगित किया गया था जो अब स्थाई हो चुका है जबकि यहां पर पार्टियों के  नेताओ ने लम्भे समय से राज कर रहे है, तब भी यहां पर मुख्यालय नही बना है ।



इसी कड़ी मे किसानो  के कर्ज की मांग को लेते हुए कहा कि सरकार ने किसानों के कर्ज को माफ करना पड़ेगा क्यो की  देश की कृषि  की । किसानों के बिना हम कृषि खेती की कल्पना भी नही कर सकते ओर अन्न दाता ही सब का पेट भरता है। हमारे किसान भाइयों को कृषि खेती के लिए  इतना महेनत का कार्य करना पड़ता है कि इसमें श्रम करने के लिए शरीर तोड़ने वाले कार्य करने पड़ते है।कृषि कार्य मे बहुत ही कठिन कार्य होता है फिर भी किसान भाई हार नही मानते है और इसके साथ ही प्रकृति से भी लड़ना पड़ता है क्यो की प्रकृति भी उसके नियम से नही चलती है।

सरकार के द्वारा भी बनाई गई तमाम व्यवस्थाए जो उसके विपरीत जा रही है जिससे किसानों को भी उससे लड़ना पड़ रहा है,जिसके कारण किसान कमजोर व लाचार होने के अलावा उनके पास कोई दूसरा रस्ता नही बचता है क्यो की किसान खेती में महँगी ओर अच्छी चीजें डालते है ओर उन्हें सरकार कम ही मूल्यों में लेते है जिससे किसान भाई कर्ज में डूब जाते है ओर कर्ज  किसान की कमर तोड़ देता है जिससे आज का किसान आत्महत्या करने के लिए  विवश हो जाता है।किसान और हम अभी तक उसे बर्दाश्त किए हुए बेठे है।

लेकिन अब अधिक समय तक ओर नही बैठे रहंगे इस लिए किसानों के हित की लड़ाई लड़कर सरकार से किसानों का कर्ज माफ की लड़ाई लडेंगे। जिससे योजनाओं से समाज का गरीब किसान खुशहाल होगा और  भारतीय कृषि व्यवस्था में भी नई नई प्रकार की बढ़ोतरी के साथ किसानों को भी लाभ मिलेगा। जिसमे सभी लोगो को अपनी अहम भूमिका निभानी होगी क्यो की किसान भाई सभी के लिए खेतो में महेनत करके अन्न पैदा करते है और उससे बाजारों मे पहुँचाता  है।

इसी कड़ी में अमित पालडी पनिहारा ने कहा कि आज एक मीटिंग की गई जिसमें जिले के अनेक सामाजिक संगठन व जिला पार्षदो के साथ साथ सरपंचों ओर गणमान्य लोगों ने विचार किया कि रविवार  को इस मुहिम को सफल बनाने के लिए एक शान्ति पूर्वक आंदोलन किया जाएगा जिसमे अधिक से अधिक से आने के लिए आह्वान किया।

इस अवसर पर जिला पार्षद प्रदीप मालडा, सरपंच एसोसिएन विष्णु डा बड़, युवा समाज सेवी विनोद तँवर पाली,जिला पार्षद कुलदीप सुरजनवास,कर्मवीर यादव,कुलदिप दहिया सहित अनके लोगो ने समर्थन दिया।

Follow ajeybharat on

www.facebook.com

Post a Comment

0 Comments