Recents in Beach

header ads

मुख्यमंत्री की घोषणाओं को अतिशीघ्र पहनाएं अमलीजामा: उपायुक्त अंशज सिंह

समीक्षा बैठक में उपायुक्त ने दिए निर्देश 


भिवानी, 21 नवंबर।

उपायुक्त अंशज सिंह ने मार्केटिंग बोर्ड, विकास एवं पंचायत विभाग, भवन एवं सड़क निर्माण विभाग, लोक निर्माण विभाग, खेल विभाग, बिजली निगम व शिक्षा विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिले में मुख्यमंत्री द्वारा कि गई घोषणों के अनुरूप निर्माण कार्य शुरू करवाएं। उन्होंने मुख्यमंत्री घोषणा से संबंधित पोर्टल पर इन कार्यों की वस्तुस्थिति भी अपडेट करने के निर्देश दिए।



उपायुक्त बुधवार को डीआरडीए सभागार में विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ मुख्यमंत्री द्वारा की गई घोषणाओं पर समीक्षा कर रहे थे। उपायुक्त ने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि मुख्यमंत्री द्वारा जिले में जिन नहरों, माईनर व सब-माईनरों के जीर्णोद्धार करने की घोषणा की गई है उन पर अति शीघ्र कार्य शुरू करवाएं। यदि किसी नहर व माईनर का कार्य पूर्ण हो चुका है तो उसकी रिपोर्ट पोर्टल पर अपडेट करें। 

उन्होंने सिंचाई विभाग के अधिकारियों से मुख्यमंत्री घोषणा के अनुरूप शुरू हो चुके व शुरू किए जाने वाले विभाग से संबंधित कार्यों के बारे में बारिकी से जानकारी ली। इसी प्रकार से उपायुक्त ने मार्केटिंग बोर्ड के अधिकारियों को उनके अधीन आने वाली सड़कों का निर्माण कार्य शुरू करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्देश दिए कि सड़क निर्माण कार्यों में किसी भी प्रकार से देरी न हो। उन्होंने अधिकारियों को बहल व लोहरू में मिट्टी जांच केंद्र बनवाने के भी निर्देश दिए।

इसी प्रकार से उपायुक्त ने भवन एवं लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों से भी उनसे संबंधित कार्यों के बारे में समीक्षा की। विभाग के कार्यकारी अभियंता कृष्ण भाटी ने उपायुक्त को बताया कि चौ. बंसीलाल विश्व विद्यालय के मुख्य द्वार के सामने से प्रेम नगर को जाने वाली सड़क मार्ग के लिए 82 लाख रूपए की स्वीकृति मिल चुकी है, जिस पर शीघ्र कार्य शुरू किया जाएगा। 

उपायुक्त ने खेल विभाग के अधिकारियों से तिगडाना में बनने वाले खेल नर्सरी के बारे में भी जानकारी ली और इस कार्य को शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिए। उपायुक्त ने मुख्यमंत्री द्वारा की गई विकास कार्यों से संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे निर्माण कार्यों में किसी भी प्रकार की देरी न करे यदि उच्चाधिकारियों के साथ उनसे संबंधित किसी तरह की पत्राचार की जरूरत हो तो वे इसे शीघ्र करवाएं। उन्होंने कहा कि बिना किसी ठोस कारण से निर्माण शुरू करने में देरी करने वाले अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

इस मौके पर अतिरिक्त उपायुक्त डॉ. मनोज कुमार, जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी राम सिंह, जिला शिक्षा अधिकारी रामोतार शर्मा, पशुपालन विभाग के उपनिदेशक डॉ. जय सिंह सहित संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

Post a Comment

0 Comments