Recents in Beach

header ads

70 के दशक में बिछाई गई सीवरेज लाईन चढ़ गई थी विभाग की लापरवाही की भेंट


सात करोड़ की लागत से पूरा होगा सतनाली में सीवरेज कार्य, विभाग ने जारी किए टेंडर

रवि वालिया, सतनाली: कस्बे में बरसात के दिनों में जगह-जगह जल भराव, गलियों में नाले का गंदा पानी एवं फैले कीचड़ से परेशान कस्बावासियों को जल्द ही छुटकारा मिलने वाला है। जनस्वास्थ्य विभाग द्वारा ग्राम पंचायत सतनाली में सीवरेज व्यवस्था का कार्य श्ुारू करवाने के लिए सभी औपचारिकताएं पूरी की जा चुकी है तथा इस कार्य के लिए टेंडर जारी कर दिए गए है। सतनाली में सीवरेज व्यवस्था पर करीब 7 करोड़ रुपये की लागत आएगी। ध्यान रहे कि सतनाली में सीवरेज व्यवस्था के लिए ग्राम पंचायत द्वारा रावला जोहड़ के पास लगभग 8 एकड़ जगह चिन्हित कर प्रस्ताव बनाकर संबंधित
विभाग को भेजा गया था।

विभाग ने इसे मंजूरी देते हुए इसके लिए टेंडर भी जारी कर दिए है। उल्लेखनीय है कि पूर्व मुख्यमंत्री चौ. बंशीलाल के प्रयासों से 70 के दशक में कस्बे में सीवरेज व्यवस्था का शुरू  हुआ था। यह सीवरेज बनाने का कार्य उस समय आरंभ किया गया था जिस समय जिला मुख्यालयों पर भी यह सुविधा उपलब्ध नहीं थी। कस्बावासी 70 के दशक में मार्केट में सीवरेज लाईन बिछ जाने के बाद भी इस सुविधा से वंचित हैं। पूर्व मुख्यमंत्री चौ. बंसीलाल के प्रयासों से 70 के दशक में कस्बे में सीवरेज व्यवस्था शुरू  करने के उद्देश्य से लाखों रुपए खर्च कर सीवर लाईन डलवाई गई थी और स्थानीय
श्यामसर जोहड़ के पास वाटर डिस्पोजल टैंक का निर्माण भी करवाया गया था लेकिन सीवर व्यवस्था चालू होने से पहले ही योजना पर विराम लग गया और धीरे-धीरे एक-एक करके इसके मैनहोल खुर्दबुर्द होते गए और लाईन मिट्टी से
अट गई वहीं

डिस्पोजल टैंक में बड़े-बड़े पेड़ उग चुके हैं। वर्तमान में कस्बे में सीवर लाईन पूरी तरह विलुप्त होचुकी है और श्यामसर जोहड़ के पास बना डिस्पोजल टैंक योजना की पुष्टि कर रहा है। सरपंच प्रतिनिधि होशियार सिंह उर्फ ढिल्लु शेखावत ने बताया कि सीवरेज व्यवस्था न होने के कारण कस्बावासियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है और कस्बे में भी सौंदर्यकरण पर ग्रहण लगा हुआ है। उन्होंने बताया कि कस्बावासियों की परेशानी व कस्बे को स्वच्छ मनाने के उद्देश्य को लेकर ग्रामपंचायत सतनाली ने सीवरेज व्यवस्था के लिए कस्बे का रावला जोहड़ के पास लगभग 8 एकड़ जगह चिन्हित कर प्रस्ताव संबंधित विभाग के अधिकारियों के पास भेजा था, जिस पर विभाग की मंजूरी के बाद टेंडर जारी कर दिए गए है।

जनस्वास्थ्य विभाग एसडीओ प्रदीप कुमार ने बताया कि सतनाली में सीवरेज व्यवस्था का कार्य श्ुारू करवाने के लिए विभाग द्वारा टेंडर जारी कर दिए गए है। उन्होंने बताया कि सीवरेज व्यवस्था का कार्य लगभग 7 करोड़ रुपए की
लागत से पूर्ण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि सीवरेज व्यवस्था के कार्य के लिए भिवानी की एजेंसी को टेंडर दिया गया है।


कैप्सन:-सतर के दशक में सीवरेज व्यवस्था के लिए बनाया गया डिस्पोजल टैंक।

Post a Comment

0 Comments