Recents in Beach

header ads

जानिए क्या कमलनाथ अपना कार्यकाल पूर्ण कर पाएंगे? या फिर...


प्रिय मित्रों/पाठकों, मध्यप्रदेश के नवोदित/नामित मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ 17 दिसंबर 2018 (सोमवार) को दोपहर करीब डेढ़ बजे के बाद शपथ लेकर मुख्यमंत्री घोषित होंगे, तब वो पंचक ओर खरमास (मलमास) में शपथ लेंगे।

ज्योतिष के हिसाब से 16 तारीख से ही मलमास शुरु हो जाएगा ऐसे में इस काल में कोई भी शुभ कार्य करना वर्जित माना जाता है।

ज्योतिर्विद पण्डित दयानन्द शास्त्री के अनुसार कमलनाथ को 1 बजकर 04 मिनट से 1 बजकर 44 मिनट (विजय मुहूर्त) के बीच शपथ लेना चाहिए क्योंकि इस दौरान लग्न बर्गोत्तर होकर कांग्रेस सरकार के लिए भी शुभ रहेगा। इस दौरान चौघड़िया भी चर का रहेगा ओर मेष लग्न रहेगा।  उस दिन विक्रम सम्वत 2075 के मार्गशीर्ष माह को शुक्ल पक्षीय नवमी तिथि पश्चात दशमी तिथि रहेगी। चन्द्रमा, मीन राशि मे रहेगा और रेवती नक्षत्र रहेगा।

कांग्रेस की कुंडली में शुक्र की दशा के कारण पार्टी में विवाद जारी रहेंगे तो वहीं गुरु की कृपा से सरकार की छवि सुधरेगी।


ऐसी हें कमलनाथ की कुंडली:


गूगल पर उपलब्ध जानकारी अनुसार मध्यप्रदेश के नए(मनोनीत ) मुख्यमंत्री कमलनाथ का जन्म (सोमवार) 18 नवम्बर 1946 को कानपुर (उप्र) में दोपहर में लगभग 12 बजे हुआ था । उनका जन्म सूर्य की महादशा में हुआ जिसका भोग्यकाल 3 वर्ष 1 माह 10 दिन रहा। इस प्रकार का जातक सम्मानित पद पर विराजमान होता है (चंद्र कुंडली अनुसार) एवं सरकार (राजा) द्वारा सम्मानित होता है।

जिस समय कमलनाथ जन्मे उस समय जो चंद्रमा विराजमान था, उसकी स्थिति अनुसार भी जातक उच्च सम्मान को प्राप्त करता है।उनकी राशि कन्या बनती है।

कमलनाथ की राशि पर वर्तमान में शनि की महादशा चल रही है। जो 02 फरवरी 2002 से प्रारंभ हुई थी। यह पूरे 17 वर्ष रहकर 02 फरवरी 2021 को समाप्त होगी।फिलहाल शनि की महादशा मे गुरु की अंतर्दशा ओर शनि की प्रत्यन्तर दशा चल रही हैं(23 नवम्बर 2018 से 18 अप्रेल 2019 तक)।

ज्योतिषाचार्य पण्डित दयानन्द शास्त्री के अनुसार मुख्यमंत्री कमलनाथ की कुंडली मकर लग्न की है, इसलिए वे राजयोग कारी सिद्ध हुई है। कुंडली में राहु राजयोग कारी होकर नवांश में स्थित है इसलिए वे कार्यकाल पूरा कर पाएं इसमें शंका है. लेकिन, जितने समय वे मुख्यमंत्री रहेंगे उस दौरान उनका कार्यकाल उल्लेखनीय होगा।

ज्योतिषाचार्य पण्डित दयानन्द शास्त्री ने बताया को गूगल पर उपलब्ध कमलनाथ की कुण्डली विवरण अनुसार उनकी कुण्डली में 11वें भाव में पंचग्रही योग बना हुआ है जहां वृश्चिक राशि मे सूर्य, बुध, मंगल और शुक्र, केतु के स्थिति हें।

इसके कारण बुधादित्य योग, ग्रहण दौष के साथ साथ कला से भी सम्बन्ध बन रहा हैं।

पंचम भाव मे राहु है, वृषभ राशि मे।

भाग्य स्थान (8 वें भाव में) चंद्रमा ,मीन राशि में स्थित है।

गुरु तथा शुक्र का प्रभाव से ही कमलनाथ पर किसी का रुष्ट होना या मनाना, इसका असर नहीं पड़ता है। ईष्ट मित्रों से मनमुटाव हो सकता है। आपको संयम रखना होगा। अन्यथा कटु आलोचना होगी।

पण्डित दयानन्द शास्त्री के अनुसार कमलनाथ को स्वास्थ्य, पारिवारिक चिंता बनी रहेगी। कृपया उस पर ध्यान दें। उच्च स्तर से मनमुटाव की स्थिति बन सकती है।


अप्रिय समाचार चिंता ग्रस्त करें, इससे पहले विवेक से काम करें। सावधान रहें। कोई भी निर्णय लेने के पहले
विचार करें।

हम आपके उत्तम ओर उज्ज्वल मंगलमय भविष्य को कामना करते है।

Know that Kamal Nath will be able to complete his term? or else...


Post a Comment

0 Comments