नेताजी सुभाष चंद्र बोस के संदेश आज भी प्रासंगिक : टिंकू कुमार

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 122वीं जयंती पर अर्पित किए श्रद्घासुमन

रेखा वैष्णव गुरुग्राम ,
नेताजी सुभाष चंद्र बोस के संदेश व सिद्घांत आज के दौर में भी पूरी तरह से प्रासंगिक हैं। भारत की आजादी और राष्टï्रहित में नेताजी के योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता है।


यह बात युवा शक्ति संगठन के रास्ट्रीय अध्यक्ष टिंकू कुमार ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 122वीं जयंती पर  उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण करते हुए कही। उन्होंने नेताजी सुभाषचंद्र बोस को नमन करते हुए उपस्थितगण को उनके विचारों को अपनाने और राष्टï्रहित में अपना योगदान देने का आह्वïान किया। उन्होंने कहा कि देश की आजादी को बरकरार रखने तथा इसकी एकता व अखंडता के लिए हम सबको बड़े से बड़े बलिदान के लिए तैयार रहना चाहिए। भारत की आजादी के लिए नेताजी जैसे देशभक्तों ने लंबा संघर्ष किया और इसके लिए सर्वोच्च बलिदान देने से भी पीछे नहीं हटे।
इस अवसर पर उनके साथ संगठन के काफी कार्यकर्ता भी मौजूद थे 

Post a Comment

0 Comments