Recents in Beach

header ads

बेटियों की शिक्षा को बढ़ावा देने पर झज्जर को मिला राष्ट्रीय सम्मान

-केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने नई दिल्ली में उपायुक्त सोनल गोयल को दिया सम्मान 
-राष्टï्रीय बालिका दिवस पर झज्जर सहित देश के 25 जिलों को मिला अलग-अलग श्रेणियों में सम्मान 
- सक्षम झज्जर सहित जागृति प्रोजेक्ट बने सहायक




झज्जर: बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम को सफलतापूर्वक लागू कर बालिका शिक्षा के क्षेत्र में अनुकरणीय प्रदर्शन पर जिला झज्जर को महिला एवं बाल विकास मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा राष्टï्रीय सम्मान से नवाजा गया है। गुरूवार को हरियाणा के झज्जर जिला सहित देश के कुल 25 जिलों को मंत्रालय की ओर से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ राष्टï्रीय कार्यक्रम के प्रभावी ढंग से क्रियांवयन पर सम्मानित किया गया। नई दिल्ली स्थित प्रवासी भारतीय केंद्र में गुरूवार को राष्टï्रीय बालिका दिवस पर आयोजित समारोह में केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका संजय गांधी द्वारा केंद्रीय राज्य मंत्री डा.वीरेंद्र कुमार, हरियाणा की महिला एवं बाल विकास मंत्री कविता जैन, महिला एवं बाल विकास विभाग के सचिव राकेश श्रीवास्तव व संयुक्त सचिव के.मोसेस चलाई की गरिमामयी मौजूदगी में झज्जर जिला उपायुक्त सोनल गोयल को यह सम्मान दिया गया। सम्मान समारोह में उपायुक्त सोनल गोयल ने केंद्र सरकार का आभार व्यक्त करते हुए हर योजना में सक्रिय भूमिका निभाने का विश्वास दिलाया। 

उल्लेखनीय है कि झज्जर जिला बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ राष्टï्रीय कार्यक्रम के अंतर्गत बेटियों को शिक्षा के क्षेत्र में जोड़ते हुए सार्थक पहल करते हुए निरंतर आगे बढ़ रहा है। उपायुक्त सोनल गोयल द्वारा शुरू की गई सोच-पे-दस्तक मुहिम के तहत बालिका शिक्षा क्षेत्र में अनुकरणीय बदलाव लाने में झज्जर जिला ने पहचान कायम की है और हरियाणा प्रदेश को राष्टï्रीय स्तर पर गौरवांवित किया है। हरियाणा प्रदेश को बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम के समग्र क्रियांवयन के साथ ही शिक्षा के क्षेत्र में जिला झज्जर को, पीसी-पीएनडीटी एक्ट लागू करने में जिला कुरूक्षेत्र को तथा महिला एवं बाल विकास में जिला करनाल को केंद्र सरकार ने सम्मानित किया। 


उपायुक्त सोनल गोयल ने झज्जर जिले को मिले इस राष्टï्रीय सम्मान को झज्जर प्रशासन की टीम व जिले के लोगों को समर्पित किया। उन्होंने कहा कि सभी विभागों की संयुक्त सांझेदारी के फलस्वरूप वे टीम वर्क के साथ आगे बढ़ रही हैं। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा हरियाणा प्रदेश की धरा से इस पुनीत कार्यक्रम का आगाज किया था और इन चार साल में हरियाणा प्रदेश ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ राष्टï्रीय कार्यक्रम को बेहतर ढंग से क्रियांवित करते हुए राष्टï्रीय स्तर पर अपनी उपलब्धता दर्ज कराई है। उन्होंने कहा कि झज्जर जिला प्रशासन द्वारा सोच-पे-दस्तक मुहिम चलाई गई और लोगों की मानसिकता को बदलने के लिए गांवों में संवाद चौपाल के माध्यम से बदलाव लाने का प्रयास किया गया। 

उनका यह प्रयास जन आंदोलन के रूप में आगे बढ़ा और बेटियों को शिक्षित करते हुए उन्हें सक्षम बनाने में झज्जर जिला अव्वल रहा है। उन्होंने कहा कि बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ राष्टï्रीय कार्यक्रम को बढ़ावा देते हुए सकारात्मक परिवर्तन लाना और बेटियों को सक्षम बनाना ही झज्जर जिला प्रशासन की सर्वोच्च प्राथमिकता है। महिला एवं बाल विकास, स्वास्थ्य तथा शिक्षा विभाग के साथ ही सामाजिक सहभागिता के साथ ही बेटियों को सशक्त बनाने में हम सुदृढ़ हुए हैं। म्हारी लाडो के तहत सार्थक संदेश आमजनमानस तक पहुंचाया गया है जिससे बालिका और महिलाओं के संरक्षण व सशक्तिकरण करते हुए बालिका शिक्षा का व्यापक प्रचार प्रसार किया गया है। उन्होंने बताया कि झज्जर जिला हरियाणा का पहला सक्षम जिला बना है और सक्षम हरियाणा की दिशा में आगे बढ़़ते हुए अब सक्षम प्लस बनने की प्रक्रिया भी तेजी से चल रही है। बेटियों को बेहतर सुरक्षित माहौल प्रदान करते हुए जिला में जागृति प्रोजेक्ट को लागू किया गया है ताकि हमारी बेटियां शिक्षित बन समाज मे अपना योगदान दे सकें।


झज्जर जिला को मिले राष्टï्रीय सम्मान से अभिभूत हुई उपायुक्त सोनल गोयल ने केंद्र सरकार, हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल व महिला एवं बाल विकास मंत्री कविता जैन सहित विभाग के प्रधान सचिव द्वारा निरंतर दिए जा रहे प्रोत्साहन पर आभार जताया। साथ ही झज्जर जिले की जनता का भी उन्होंने धन्यवाद किया जिनकी सहभागिता से झज्जर का नाम पूरे देश में रोशन हुआ है।

Post a Comment

0 Comments