Recents in Beach

header ads

हजारों लोग बने सैन्य शौर्य के गवाह, उपायुक्त व पुलिस अधीक्षक ने भी किया सैन्य प्रदर्शनी का अवलोकन


हिसार, 22 जनवरी।बालसमंद रोड पर हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के गेट नंबर तीन के सामने स्थित मैदान में आयोजित सेना की प्रदर्शनी में आज हजारों लोग भारतीय सेना के शौर्य, बहादुरी व पराक्रम के गवाह बने। शस्त्र शौर्य और शक्ति प्रसंग पर आधारित एक दिवसीय नवीनतम अत्याधुनिक हथियारों व उपकरणों की प्रदर्शनी का उपायुक्त अशोक कुमार मीणा व पुलिस अधीक्षक शिवचरण ने भी अवलोकन किया।


सप्त शक्ति कमांड और स्ट्राइक वन कोर के तत्वाधान में 33 आम्र्ड डिवीजन द्वारा आयोजित एक दिवसीय प्रदर्शनी का उद्घाटन आज सुबह मेजर जनरल एआरएस काहलोन, विशिष्ठ सेवा मेडल, जरनल ऑफिसर कमाडिंग, 33 आम्र्ड डिवीजन द्वारा किया गया। जरनल ऑफिसर कमांडिग मेजर जनरल एआरएस कहलोन (वीएसएम) ने कहा कि प्रदर्शनी का उद्देश्य स्कूली बच्चों तथा आमजन में राष्ट्रभक्ति की चेतना पैदा करना व युवाओं को सेना के प्रति आकर्षित करना है।

प्रदर्शनी में विभिन्न शिक्षण संस्थानों के हजारों बच्चों ने भाग लिया। आज मैदान में सैनिकों द्वारा अंतिम चरण में डेमो दिया गया जो दर्शकों को बहुत पसंद आया। उच्चाधिकारियों में उपायुक्त अशोक कुमार मीणा, पुलिस अधीक्षक शिवचरण, ब्रिगेडियर अजय दुआ, कर्नल अमित अहलावत, हकृवि कुलपति डॉ. केपी सिंह सहित सेना व प्रशासनिक अधिकारी मौजूद थे।

प्रदर्शनी में आमजन तथा शिक्षण संस्थानों के बच्चों ने काफी उत्साह दिखाया। स्कूली बच्चों ने टैंक पर चढक़र फौजी सैनिकों से विभिन्न प्रकार की जानकारियां हासिल कीं। प्रदर्शनी में टैंकों पर तैनात सैनिकों द्वारा सबसे बेहतरीन टैंक टी- 90 का प्रदर्शन किया जिसकी फायर करने की क्षमता पांच किलोमीटर तक है और यह टैंक रात और दिन, दोनों समय फायर कर सकता है। इसमें परमाणु बम इक्यूपमैंट लगा हुआ है जो न्यूक्लीयर से बचाव करता है इसमें एंटी एयर क्राफ्ट गन भी लगी हुई है। यह गन किसी भी हिस्से में आसानी से फायर कर सकती है। यह टैंक पानी के अंदर से भी आसानी से निकल सकता है। इसके अलावा सर्वत्रा ब्रिज, बीएमपी, बोफोर्स तोप, एके व बीएलटी आदि आधुनिक हथियारों व उपकरणों को प्रदर्शित करके जानकारियां दी गई।

प्रदर्शनी में स्कूलों, कॉलेजों, विश्वविद्यालयों तथा एनसीसी के विद्यार्थियों को भी बुलाया गया था। प्रदर्शनी में ं लगभग 10 हजार बच्चों व लोगों ने भाग लिया। सैन्य प्रदर्शनी का आयोजन लै. कर्नल फाकिर अब्बास व सुबेदार ओंकार लाल गवली द्वारा किया गया।

Post a Comment

0 Comments