विवेक से मतदान में ही लोकतंत्र की सार्थकता : DC अशोक कुमार मीणा

एफसी कॉलेज में हर्षोल्लास से मनाया गया 9वां राष्टï्रीय मतदाता दिवस 
छात्राओं ने प्रस्तुत किए विविध व प्रेरक सांस्कृतिक कार्यक्रम
जागरूकता अभियान की प्रतियोगिताओं के विजेताओं को सम्मानित किया
जिला के लिए जागरूकता वाहन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया


हिसार, 25 जनवरी।उपायुक्त अशोक कुमार मीणा ने कहा कि हर पात्र महिला-पुरुष को अपना वोट जरूर बनवाना चाहिए और चुनाव के समय अपने विवेक का इस्तेमाल करते हुए ऐसे योग्य उम्मीदवार को अपना प्रतिनिधि चुनना चाहिए जो अपने क्षेत्र, समाज व देश के हित में कार्य करने की सोच रखता हो। यही लोकतंत्र के हवन में हमारी सच्ची आहुति होगी। 


उपायुक्त अशोक कुमार मीणा ने यह बात आज फतेहचंद महिला महाविद्यालय के सभागार में 9वें राष्टï्रीय मतदाता दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम को बतौर मुख्यातिथि संबोधित करते हुए कही। उन्होंने मताधिकार जागरूकता के लिए जिला भर में आयोजित की गई प्रतियोगिताओं के तहत चुने गए विभिन्न विद्यालयों व महाविद्यालयों के विद्यार्थियों, प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में श्रेष्ठï कार्य करने वाले एक-एक बीएलओ को पुरस्कृत किया। कार्यक्रम में महाविद्यालय की छात्राओं ने रंगारंग सांस्कृतिक व प्रेरक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। उपायुक्त ने महाविद्यालय की छात्राओं व अधिकारियों-कर्मचारियों को लोकतंत्र को सार्थक करने में सहयोग करने की शपथ दिलाई और जिला के लिए जागरूकता वाहन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।


उपायुक्त अशोक कुमार मीणा ने कहा कि लोकतंत्र तब तक सार्थक नहीं हो सकता जब तक जनप्रतिनिधि चुनने में आमजन की अधिकतम भागीदारी न हो। इसके साथ-साथ नागरिकों द्वारा अपने विवेक का इस्तेमाल करते हुए योग्य व्यक्तियों का चुनाव करना भी बहुत जरूरी है। लेकिन इससे भी पहले यह आवश्यक है कि हम सब अपना वोट जरूर बनवाएं। उन्होंने कहा कि 2014 के आम चुनाव में औसतन 66 प्रतिशत मतदाताओं ने ही अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। केवल दो-तिहाई मतदान लोकतंत्र की मर्यादा के अनुकूल नहीं है। चुनावों में आमजन की शत-प्रतिशत भागीदारी सुनिश्चित करने तथा उन्हें इसके प्रति जागरूक करने के लिए प्रत्येक वर्ष 25 जनवरी को पूरे देश में राष्टï्रीय मतदाता दिवस मनाया जाता है।


उन्होंने कहा कि हरियाणा जैसे जागरूक व प्रगतिशील राज्य में भी जनसंख्या व मतदाताओं के अनुपात के अंतर को कम करना हमारे सामने एक चुनौती है। यहां अक्सर महिलाओं के वोट कम बनवाए जाते हैं और जिन महिलाओं के वोट हैं वे भी मतदान करने कम जाती हैं। उन्होंने कहा कि लडक़ों की ही भांति हर लडक़ी को भी 18 वर्ष की आयु होते ही अपना वोट जरूर बनवा लेना चाहिए। वोट बनवाने की प्रक्रिया बहुत आसान है। केवल एक फार्म भरकर अपने बीएलओ, जिला निर्वाचन कार्यालय में जमा करवाने अथवा ऑनलाइन आवेदन करने मात्र से वोट बन जाता है और इसे शादी के बाद किसी भी स्थान पर स्थानांतरित करवाना भी बहुत आसान है।


उपायुक्त ने कहा कि चुनाव के समय हमें अपना व्यक्तिगत स्वार्थ न देखकर अपने इलाके, समाज व देश के हितों को प्राथमिकता देनी चाहिए और इन दृष्टिïकोणों से योग्य उम्मीदवार को ही अपना प्रतिनिधि चुनना चाहिए। मतदान के समय हमें जाति, धर्म, वर्ग, संप्रदाय या अन्य किसी भी प्रकार के भेदभाव से ऊपर उठकर योग्य व्यक्ति को ही चुनना चाहिए, इसी में लोकतंत्र की भलाई व सफलता है। 


उन्होंने बताया कि निर्वाचन आयोग ने अब स्थानीय स्तर पर एक टोल फ्री नंबर 1950 शुरू करवाया है जिस पर आप ऐसे लोगों की शिकायत कर सकते हैं जो मतदाताओं को लोभ-लालच या भय दिखाकर उसका वोट लेने की कोशिश करते हों। लोकतंत्र के नियमों के विरुद्घ कार्य करने वालों के खिलाफ आवाज उठाकर और आयोग के नंबर पर उनकी शिकायत देकर भी आप लोकतंत्र की मजबूती का कार्य कर सकते हैं। टोल फ्री नंबर पर वोट से संबंधित सेवाएं भी ली जा सकती हैं और किसी प्रकार का सुझाव भी दिया जा सकता है। यह नंबर पुलिस के 100 नंबर की तर्ज पर कार्य करता है।


इस अवसर पर महाविद्यालय की छात्राओं ने सारे जहां से अच्छा-हिंदुस्तां हमारा तथा उठें समाज के लिए-जगें समाज के लिए समूहगान प्रस्तुत किए। बीए अंतिम वर्ष की छात्रा सुचेता ने ओजपूर्ण भाषण देते हुए देशहित में विवेक से मताधिकार करने का आह्वïान किया। छात्राओं ने एक स्किट भी प्रस्तुत की जिसमें संदेश दिया गया कि मतदान के दिन छुट्टïी न मनाकर योग्य व्यक्ति का चुनाव करें ताकि बाद में हमें पछताना न पड़े। 


उपायुक्त अशोक कुमार मीणा ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाली सभी छात्राओं को सम्मानित किया। उपायुक्त ने गत दिनों जिला में मतदाता जागरूकता अभियान के दौरान आयोजित निबंध लेखन, वक्तव्य व प्रश्रोत्तरी प्रतियोगिताओं के प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न स्कूलों व कॉलेजों के विजेता विद्यार्थियों तथा श्रेष्ठï कार्य करने वाले बीएलओ को भी सम्मानित किया। उन्होंने उपस्थितगण को शपथ दिलाई कि वे भारत के लोकतंत्र में अपनी पूर्ण आस्था रखते हुए इसकी लोकतांत्रित मर्यादाओं को बनाए रखेंगे तथा स्वस्थ, निष्पक्ष व शांतिपूर्ण निर्वाचन की गरिमा को अक्षुण्ण रखेंगे।


महाविद्यालय की प्र्राचार्या मधु कक्कड़ ने अतिथिगण का स्वागत किया तथा सीटीएम शालिनी चेतल ने आभार ज्ञापित किया। उपायुक्त ने महाविद्यालय प्रांगण से ही टोल फ्री नंबर 1950 के प्रति जन-जन में जागरूकता के लिए जिला भर में चलाए जाने वाले जागरूकता वाहन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

इस अवसर पर सीटीएम शालिनी चेतल, एसडीएम परमजीत सिंह, डीआरओ राजेश कुमार, चुनाव नायब तहसीलदार हनुमान दास, चुनाव कानूनगो सतबीर लांबा, स्नेह जांगड़ा, सतबीर सहारण व कर्मपाल सहित अन्य अधिकारी, कर्मचारी, शिक्षकगण तथा बड़ी संख्या में छात्राएं मौजूद थीं।


Post a Comment

0 Comments