Recents in Beach

header ads

देश की 6 करोड,दमोह लोकसभा की 2.25 लाख महिलाओं को मिली धुंये से मुक्ति

प्रधान मंत्री उज्जवला योजना का लाभ प्राप्त कर महिलाओं के चेहरे खिले

डा.एल.एन.वैष्णव
दमोह/

भारत की काफी बडी संख्या में महिलाओं को अब धुंये से मुक्ति मिल चुकी है। यह सब संभव हुआ पं.दीनदयाल उपाध्याय के स्वप्नों को साकार करने में आगे आये भारत के प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी के द्वारा प्रारंभ की गयी प्रधान मंत्री उज्जवला योजना से जिसका लाभ देश की 06 करोड एवं मध्यप्रदेश में लगभग 55 लाख महिलाओं को प्राप्त हो चुका है। ज्ञात हो कि लकडी को जलाकर चुल्हे पर खाना बनाने के कारण करोडों महिलाओं की आंखों में अनेक बीमारियां हो जाती थी। धनाभाव के कारण वह गैस कनेक्शन नहीं ले पा रही थीं और लगातार कष्ट्र में जीवन यापन कर रही थीं। एैसी ही निर्धन महिलाओं के लिये सहारा बनी प्रधानमंत्री उज्जवला योजना जिसमें जातिगत नही अपितु आर्थिक आधार को सम्मिलित किया गया। उक्त योजना का लाभ प्राप्त होने से महिलायें जहां प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी एवं दमोह संसदीय क्षेत्र के सांसद प्रहलाद सिंह पटेल को धन्यवाद ज्ञापित कर रही हैं। जहां देश में प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी के निर्देश एवं मार्गदर्शन में उक्त योजना का लाभ दिलाया जा रहा है। वहीं दमोह संसदीय क्षेत्र में भी सांसद प्रहलाद सिंह पटेल लगातार नजर रखे हुये हैं। वह कहते हैं कि प्रत्येक पात्र हितग्राही को लाभ मिले यह भारत सरकार एवं मेरा उदे्श्य है।

सवा दो लाख को मिली दमोह मंे धुंये से मुक्ति-
प्रधान मंत्री उज्जवला योजना का लाभ दमोह संसदीय क्षेत्र की काफी बडी संख्या में महिलाओं को प्राप्त हो चुका है। दमोह संसदीय क्षेत्र की आठ विधानसभाओं में निवासरत 02 लाख,22 हजार 189 महिलाओं को अब धुंये भरी रसोई में भोजन नहीं पकाना पडता है अपितु वह अब धुयें रहित वातावरण मेें भोजन पकाने लगी हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार 01 लाख 26 हजार 504 महिलाओं को 31 जनवरी 2019 तक की स्थिति में गैस कनेक्शन प्रदान किये जा चुके हैं। भारत सरकार के प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा प्रारंभ की गयी महिलाओं की अति महत्वाकांछी योजना का लाभ दिलाने के लिये बर्ष 2011 में हुई सामाजिक आर्थिक जातिगत गणना को आधार बनाया गया है। जिसमें 01 लाख 87 हजार 7्13 परिवार सम्मिलित हुये थे। इसमें से महिला प्रधान परिवारों को छांटा गया था,क्योंकि उक्त योजना का लाभ महिलाओं को दिलाया जाना निश्चित हुआ है। प्राप्त जानकारी के अनुसार 01 लाख 72 हजार 228 ने आवेदन किया था तथा जांच के पश्चात् 01 लाख 34 हजार 105 पात्र पाये गये थे। 22 अगस्त 2016 से प्रारंभ उक्त प्रधान मंत्री उज्जवला योजना के तहत दमोह जिले की 01 लाख 26 हजार 504 महिलाओं को गैस कनेक्शन प्रदान कर दिये गये हैं। वहीं बात करें विधानसभा क्षेत्र बंडा,रहली,देवरी के साथ उनके अंतर्गत आने वाले क्षेत्र शाहगढ और केसली की तो यहां पर 67 हजार 137 पात्र हितग्राहियों का नाम सामने आया जिसमें 64 हजार 792 को तथा विधानसभा बडामलहरा एवं उसके अंतर्गत आने वाले क्षेत्र घुआरा एवं बक्सवाहा में चयनित शत्प्रतिशत पात्र हितग्राही 30 हजार 893 को गैस कनेक्शन निःशुल्क रूप से वितरित किये जा चुके हैं। उक्त योजना का लाभ प्राप्त कर क्षेत्र की महिलाओं में हर्ष व्याप्त है तथा वह भारत सरकार के प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी एवं क्षेत्रीय सांसद प्रहलाद सिंह पटेल को धन्यवाद भी ज्ञापित कर रही हैं।

Post a Comment

0 Comments