Recents in Beach

header ads

पूर्व प्रधान मीनू सिंह मेरे खिलाफ साजिश कर रही है: दिनेश वशिष्ठ

गुरुग्राम, 14 मार्च 2019 – RWA सेक्टर 3, 5 और 6 के बैंक एकाउंट सीज होने का मामला सामने आया है। इस बाबत जब RWA प्रेसिडेंट दिनेश वशिष्ठ से बात की गई तो उन्होंने विस्तारपूर्वक जानकारी देते हुए बताया कि RWA पूर्व प्रधान की ग़लती और RWA में उनके द्वारा भारी रूपये ग़बन करने के कारण हमारे RWA के दोनो बैंक एकाउंट OBC Bank Sector 5 or Allahabad Bank Sector 4 के अकाउंट सीज हो गये और PF डिपार्टमेंट ने हमारे RWA का सारे रुपए निकाल लिए जो सेक्टर के विकास में ख़र्च होने थे।

1185000/- रुपए election हारने के बाद निकला जिसमें से PF ओर penalty नहीं भरी। जिसकी वजह से 199414/- रूपये का RWA को नोटिस मिला और हमारी आर॰डबल्यू॰ए॰ के बैंक अकाउंट सीज हो गए और RWA के बैंक एकाउंट से OBC सेक्टर 5 से 80000/- ओर इलाहबाद बैंक से 50000/- रुपए निकाल लिए गए। हमारे दोनो बैंक एकाउंट बंद कर दिए गए। जब तक RWA पूरा पैसे नहीं देगी तब तक हमारे बैंक अकाउंट बंद रहेंगें।

जब मैंने उनसे बात करने की कोशिश की तो उन्होंने माली को भड़काकर मेरे ख़िलाफ़ लीगल नोटिस भेजा। उसके बाद मेरे ख़िलाफ़ लेबर कोर्ट मैं केस डाल दिया जिसकी मैं तारीख़ भुगत रहा हूँ। उसके बाद तिकोना पार्क में मालियों को भड़का कर वहाँ क़ब्ज़ा करवा दिया। उनकी महिलाओं को भड़का कर पुलिस केस करवा दिया। जब कुछ नहीं हुआ तो मेरे ख़िलाफ़ ख़ुद ने पुलिस में शिकायत कर दी। मेरे ख़िलाफ़ SC ST का भी मुक़दमा करवा चुकी है। ये सब हमारे सेक्टर निवासी के कहने पर कर रही है मुझ पर अब तक 25 से 30 कम्प्लेंट लग चुकी हैं और मैं हर जगह साफ़ निकाल रहा हूँ।

मैंने और मेरी टीम ने पूरी ईमानदारी से काम किया है और यही ईमानदारी हमारी दुश्मन बन गई है। मुझे आप सभी की सपोर्ट चाहिए। ये सब मेरे ओर मेरी टीम के एक साल से पीछे लगे हुए है। मैंने और मेरी टीम के सदस्यों ने अब तक सेक्टर में कुछ नहीं बताया। क्योंकि मैं सेक्टर के माहौल को ख़राब नहीं होने देने चाहता था। अब ये लोग बिलकुल हाथ धोकर मेरे और मेरी टीम के पीछे पड गये हैं। उपरोक्त जानकारी देते हुए वशिष्ठ ने अपील भी की कि इस मामले की बड़े स्तर पर जांच होनी चाहिये और दोषी पाए जाने वाले व्यक्तियों पर कड़ी से कड़ी कानूनी कार्यवाही होनी चाहिए। जिसके लिए हम हर सम्भव सहयोग देने के लिए तैयार हैं।

Post a Comment

0 Comments