Recents in Beach

header ads

कार्यकर्ता मानदेय के लिए नहीं अपितु सम्मान के लिए करें कार्य - जिला कलक्टर

Report By Ajay Kumar Vidyarthi



भरतपुर। जिला प्रशासन, महिला एवं बाल विकास तथा महिला अधिकारिता विभाग द्वारा अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर शुक्रवार को स्थानीय नगर विकास न्यास के आॅडिटोयिम में आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम का जिला कलक्टर डाॅ. आरूषि अजेय मलिक के मुख्य आतिथ्य में शुभारम्भ किया गया।

कार्यक्रम में जिला कलक्टर ने कहा कि आंगनबाडी कार्यकर्ता, सहायिका एवं आशा सहयोगिनी नई ऊर्जा एवं शक्ति के साथ कार्य कर ग्रामीण क्षेत्रों में बालिकाओं को शिक्षा से जोडने के लिए आंगनबाडी कार्यकर्ता मिशन के रूप में कार्य करने के लिए आगे आयें। उन्होंने कहा कि विश्व की 50 प्रतिशत आबादी महिलाओं की है, उनके विकास के लिए विशेष कार्ययोजना बनाये जाने की आवश्यकता है जिससे उनको समान अवसर मिल सकें। उन्होंने कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे मानदेय के लिए नहीं सामाजिक सम्मान के लिए कार्य करें। उन्होंने आंगनबाडी कार्यकर्ताओं से आह्नवान किया कि वे ग्रामीण क्षेत्रों में गर्भवती महिलाओं का चिकित्सा संस्थानों में पंजीकरण एवं प्रसव का कार्य शत-प्रतिशत कराने के लिए कार्य करें तथा इस कार्य को सामाजिक रूप से प्रोत्साहन दें।

कार्यक्रम में कैथवाडा निवासी कुमारी शवाना एवं मुस्कान ने स्व रचित गीत के माध्यम से महिलाओं को आगामी चुनाव में अवश्य मतदान करने का संदेश दिया। इस अवसर पर जिले की 10 पंचायत समितियों से उत्कृष्ट कार्य करने वाली एक-एक आंगनबाडी कार्यकर्ता, सहायिका एवं आशा सहयोगिनी को पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम में सीडीपीओ नदबई गरिमा उपाध्याय ने महिलाओं के कल्याण से जुडी विभागीय योजनाओं की, चिकित्सा विभाग से पीसीपीएनडीटी प्रभारी प्रवीण सिंह ने गर्भ पूर्व जांच एवं निदान अधिनियम के सम्बन्ध में एवं अन्य विभागीय अधिकारियों द्वारा योजनाओं की जानकारी दी गयी।

इस अवसर पर विभिन्न क्षेत्रों में जिले का नाम रोशन करने वाली 5 बालिकाओं को ब्राण्ड एम्बेसडर के रूप में सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि के रूप में जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी बीएल रमण मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन सीडीपीओ कुम्हेर महेन्द्र अवस्थी ने किया।

Post a Comment

0 Comments