Recents in Beach

header ads

संवेदनशील एवं अतिसंवेदनशील मतदान केन्द्रों का करें चयन: जिला निर्वाचन अधिकारी डाॅ. आरूषि अजेय मलिक

Report by Ajay Kumar Vidyarthi


भरतपुर, : जिला निर्वाचन अधिकारी डाॅ. आरूषि अजेय मलिक की अध्यक्षता में शुक्रवार को कलेक्ट्रेट सभागार में समस्त निर्वाचन प्रकोष्ठ प्रभारियों की समीक्षा बैठक आयोजित की गयी।

बैठक में जिला निर्वाचन अधिकारी ने समस्त निर्वाचन अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे अपने अधीनस्थ संवेदनशील एवं अतिसंवेदनशील मतदान केन्द्रों का चयन प्रथम दृष्टया के रूप में कर लें जिससे बाद में परेशानी का सामना न करना पडे साथ ही मतदान केन्द्र क्षेत्रों की नजरीनक्शा भी तैयार कर लें। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि एस4 श्रेणी में आने वाले मतदान केन्द्र क्षेत्रों की ग्रामवार सूची तैयार कर लें जिससे शस्त्र जमा कराने में आसानी हो सके। उन्होंनें निर्वाचन सम्बंधी समस्त भुगतानों की कार्रवाई आॅनलाइन प्रक्रिया के तहत करने के निर्देश प्रकोष्ठ प्रभारियों को दिये। उन्होंने समस्त प्रकोष्ठ प्रभारियों को निर्देश दिये कि निर्वाचन सम्बंधी वाहनों का उपयोग केवल और केवल निर्वाचन कार्यों के लिए ही किया जाए जिससे भुगतान की प्रक्रिया पारदर्शी रह सके। उन्होंने चुनाव के दौरान क्रियाशील स्काउट एवं गाइड , एनसीसी, एनएसएस के स्वंयसेवकों के मानदेय भुगतान के लिए उनकी सूची मय बैंक खाता संख्या भिजवाने के निर्देश प्रभारियों को दिये।

बैठक में अनुपस्थित रहने वाले अधिकारियों को नोटिस जारी करने के निर्देश जिला निर्वाचन अधिकारी ने दिये तथा 11 मार्च तक व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होकर कारण बताने को कहा।

बैठक के प्रारम्भ में जिला निर्वाचन अधिकारी एवं अन्य अतिथियों द्वारा स्वीप शुभंकर (लोगो) का विमोचन भी किया।

बैठक में उप जिला निर्वाचन अधिकारी नारायण सिंह चारण, अतिरिक्त जिला कलक्टर(शहर) उम्मेद सिंह मीना, महानिरीक्षक पंजीयन शौकत अली, नगर विकास न्यास के सचिव दाताराम, कोषाधिकारी अवधेश कुमार, उपखण्ड अधिकारी संजय गोयल सहित अन्य प्रकोष्ठों के प्रभारी अधिकारी उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments