प्रदेश में मतदान के लिए श्रमिकों को मिलेगा सवैतनिक अवकाश


इंदौर 4 अप्रैल,2019
श्रमायुक्त श्री आशुतोष अवस्थी जारी आदेशानुसार निर्वाचन आयोग द्वारा मध्यप्रदेश के सभी संसदीय क्षेत्रों में लोकसभा के आम निर्वाचन हेतु निर्वाचन कार्यक्रम-2019 जारी किया गया है। उक्त निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार 29 अप्रैल को संसदीय क्षेत्र सीधी, शहडोल, मण्डला, बालाघाट और छिंदवाड़ा में मतदान दिवस होने के कारण मजदूरों को सवैतनिक अवकाश मिलेगा। इसी प्रकार आगामी 06 मई को टीकमगढ़, दमोह, खजराहो, सतना, रीवा, होशंगाबाद और बैतूल में मजदूरों को सवैतनिक अवकाश मिलेगा। इसी प्रकार 12 मई को संसदीय क्षेत्र ग्वालियर, मुरैना, भिण्ड, सागर, गुना, विदिशा, भोपाल और राजगढ़ में मजदूरों को सवैतनिक अवकाश मिलेगा । इसी प्रकार 19 मई को संसदीय क्षेत्र देवास, उज्जैन, मंदसौर, रतलाम, धार, इंदौर, खरगोन और खण्डवा में मजदूरों को सवैतनिक अवकाश मिलेगा।



इस संबंध में भारत निर्वाचन आयोग एवं मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी मध्यप्रदेश द्वारा समय-समय पर जारी दिशा निर्देशों के प्रकाश में तथा लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम-1951 की धारा-135 ख के प्रावधानानुसार निर्वाचन के दौरान मतदान दिवसों को किसी भी कारोबार, व्यवसाय, औद्योगिक उपक्रम अथवा अन्य किसी स्थापना में नियोजत प्रत्येक व्यक्ति को मतदान करने हेतु सवैतनिक अवकाश प्रदान किये जाने के निर्देश हैं तथा उल्लेख है कि यह निर्देश ऐसे निर्वाचकों पर लागू नहीं होगें, जिनकी अनुपस्थिति से उस नियोजन में कोई खतरा या सारवान हानि हो सकती है। इस प्रावधान के अंतर्गत दैनिक वेतन/आकस्मिक श्रमिक भी मतदान दिवस पर मजदूरी सहित अवकाश के हकदार होगें। 


नियोजकों द्वारा उल्लघंन करने पर दण्ड का प्रावधान
इस प्रावधान का उल्लघंन करने वाले नियोजकों के विरूध दण्ड के प्रावधान है। अतएव प्रदेश में लोकसभा के आम निर्वाचन-2019 के संसदीय क्षेत्रों में आने वाले समस्त कारोबार, व्यवसाय, औद्योगिक उपक्रम अथवा अन्य किसी स्थापना में कार्यरत कामगारों को मतदान के दिन मतदान की सुविधा देने की दृष्टि से इनके नियोजकों, अधिभोगीगण एवं प्रबंधकों को निर्देशित किया जाता है कि वे उपर्युक्त प्रावधान का समुचित परिपालन करेगें।

Post a Comment

0 Comments