Recents in Beach

header ads

छात्रा अक्षिता को प्रतिष्ठित "समर अंडर ग्रेजुएट रिसर्च फैलोशिप प्रोग्राम-2019" के लिए चुना गया

महेन्द्रगढ़ : प्रमोद बेवल 

हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय  महेन्द्रगढ़़ की छात्रा अक्षिता को प्रतिष्ठित "समर अंडर ग्रेजुएट रिसर्च फैलोशिप प्रोग्राम-2019" के लिए चुना गया है । बी.वॉक (बायोमेडिकल साइंसेज) द्वितीय वर्ष की छात्रा अक्षिता इस फेलोशिप के अन्तर्गत डॉ. बी.आर. अम्बेडकर सेंटर फॉर बायोमेडिकल रिसर्च, दिल्ली विश्वविद्यालय में काम करेगी।

विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. आर.सी. कुहाड़ ने इस उपलब्धि के लिए अक्षिता को बधाई दी और कहा कि विश्वविद्यालय विद्यार्थियों व शिक्षकों को अध्ययन-अध्यापन व शोध के क्षेत्र में अपनी प्रतिभा के प्रदर्शन हेतु हर संभव मदद के लिए प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय के इन्हीं प्रयासों का ही नतीजा है कि विद्यार्थियों को प्रतिष्ठित फैलोशिप व पढ़ाई के साथ-साथ कैम्प्स प्लेसमेंट के माध्यम से रोजगार के अवसर उपलब्ध हो रहे हैं।

दीनदयाल उपाध्याय कौशल केंद्र के उपनिदेशक डॉ. पवन मौर्य व बी.वॉक.-बायोमेडिकल साइंसेज के प्रभारी डॉ. विकास सैनी ने बताया कि समर अंडर ग्रेजुएट रिसर्च प्रोग्राम-2019 से जुड़े वैज्ञानिकों के साथ काम करने के लिए भारत में अध्ययनरत विद्यार्थियों के लिए एक महीने के समर फेलोशिप की पेशकश की गई है। इस फेलोशिप के अंतर्गत ही विश्वविद्यालय की छात्रा अक्षिता का चयन हुआ है। इस इंटर्नशिप प्रोग्राम में चयनित छात्रा को निर्धारित राशि छात्रवृत्ति के रूप में प्रदान की जाएगी। उन्होंने बताया कि डॉ. बी.आर. अम्बेडकर सेंटर फॉर बायोमेडिकल रिसर्च देश के उन्नत अनुसंधान केंद्रों में से एक है। स्नातक स्तर पर शोध परियोजना का उद्देश्य महत्त्वपूर्ण समझ, विशेषज्ञता, विश्लेषण, अनुसंधान और संचार कौशल विकसित करना है, जिसकी मांग आज विश्व स्तर पर है।

Post a Comment

0 Comments