Recents in Beach

header ads

कैप्टन ने राव को बताया फर्जी राजा,कहा: मेरा मुकाबला राव इंद्रजीत से नहीं मोदी से था


पूर्व मंत्री कैप्टन अजय सिंह की प्रैसवार्ता
हरियाणा विधानसभा का अगला चुनाव रेवाड़ी से नहीं लड़ेंगे
केवल 30 फीसदी यादवों ने दिया साथ, मेवात क्षेत्र से दो लाख की बढ़त का दावा
कहा: मेरा मुकाबला राव इंद्रजीत से नहीं मोदी से था
प्रदेश में क्षे़त्रीय पार्टियों का वजूद खत्म
प्रदेश में सात सीटों पर कांग्रेस का भाजपा से सीधा मुकाबला
30 हजार से जीत का विश्वास, भीतरघात होने की बात मानी, नहीं करेंगे कहीं शिकायत


धनेश विद्यार्थी, रेवाड़ी।कांग्रेस टिकट पर गुडगांव सीट से लोकसभा का चुनाव लड़ने वाले पूर्व मंत्री
कैप्टन अजय सिंह यादव ने बुधवार को भाजपा प्रत्याशी राव इंद्रजीत सिंह पर
सियासी धावा बोलते हुए राव को फर्जी राजा की संज्ञा दे डाली। उन्होंने
कहा कि इंद्रजीत में राव तुलाराम का खून ही नहीं। उन्होंने कहा कि रानी
के डयोढ़ी वाले असली राव तुलाराम के वंशज हैं।
उन्होंने यहां बूथ एजेंटों की धन्यवाद बैठक के बाद बुलाई गई प्रैसवार्ता
में भाजपा प्रत्याशी राव इंद्रजीत पर सियासी गोलाबारी करते राव के उस
बयान पर भी तीखी टिप्पणी की कि वह किस बात का राजा है। वह तो फर्जी राजा
है। उन्होंने कहा कि बूथ एजेंटों की यह बैठक लोकसभा चुनाव में मतदाताओं
के रूझान की ग्राउंड लेवल जानकारी जुटाने के लिए बुलाई गई थी। उन्होंने
अहीर स्कूल को आरबीएस बनाने, अहीर कालेज की जमीन किसी दूसरे की होने समेत
राव इंद्रजीत पर सांसद निधि का दुरूपयोग करने का आरोप तक जड़ दिया।
उन्होंने एक पार्षद प्रदीप भार्गव का नाम लेकर कहा कि केवल इस एक पार्षद
अथवा राव तुलाराम विहार के विकास के नाम पर सांसद निधि का इस्तेमाल किया
गया। शहर के विकास के लिए कोई धन खर्च नहीं हुआ।



कैप्टन ने कहा कि बावल चैरासी ने उनका साथ दिया। जाट आरक्षण के दौरान
उन्होंने जाटों के खिलाफ बयान दिया मगर मैंने तब केवल व्यवस्था की बात
कही, इसलिए जाट मतदाताओं ने मुझे इस चुनाव में पूर्ण सहयोग दिया। दलित
समाज के अलावा पंजाबी समाज और अन्य समाजों के लोगों का मुझे भरपूर सहयोग
मिला। उन्होंने दुख जताया कि रेवाड़ी विधानसभा क्षेत्र के लिए जहां मैंने
खूब विकास कार्य कराए, वहां से मुझे यादव समाज के मतदाताओं का केवल 30
फीसदी सहयोग मिला। इसने मुझे आहत किया है। उन्होंने कहा कि मैं भविष्य
में रेवाड़ी से विधानसभा का चुनाव नहीं लडूंगा। उन्होंने माना कि इस चुनाव
में उनके साथ भीतरघात हुआ मगर इसके साथ ही उन्होंने इस मामले में किसी भी
जगह शिकायत करने से साफ इंकार कर दिया।


उन्होंने नूंह, मेवात इलाके की ओर से उन्हें दो लाख से अधिक वोटों की बढ़त
मिलने के अलावा तावडू-सोहना क्षेत्र में बराबर की वोटें मिलने की
भविष्यवाणी की। इसके साथ ही उन्होंने गुडगांव और बादशाहपुर में उनके पूरा
जनसमर्थन नहीं मिलने तथा बादशाहपुर में 6 बजे बाद अचानक 44 से 64 फीसदी
मतदान दर्ज होने पर हैरानी जताई। कैप्टन अजय यादव ने कहा कि अगर रेवाड़ी
विधानसभा की बजाए अगर मैंने किसी दूसरे क्षेत्र में इतने विकास कार्य
कराए होते तो मुझे वहां जनता का भरपूर समर्थन मिलता मगर यादव समाज के कम
सहयोग से मुझे गहरा आधात पहुंचा है। इसके अलावा उन्होंने भाजपा प्रत्याशी
पर किसी अन्य के माध्यम से अवैध कालोनियां विकास करने का आरोप भी जड़ा।
उनका दावा है कि वे लोकसभा चुनाव 30 हजार से अधिक वोटों से जीत रहे हैं।
इस मौके पर उन्होंने मीडिया का भी आभार जताया। उन्होंने भाजपा प्रत्याशी
की आय से अधिक संपति बनाने की निष्पक्ष जांच कराने की मांग भी उठाई।
कैप्टन अजय ने कहा कि वे अब राष्ट्रीय राजनीति में जाने के इच्छुक हैं और
इसलिए उन्होंने लोकसभा का चुनाव लड़ा। उन्होंने मुख्यमंत्री पद को लेकर
पूछे गए एक सवाल के जवाब में कहा कि फिलहाल उनकी यह इच्छा नहीं। इस मौके
पर रमेश कुमार, कर्मवीर सोनी, श्रीभगवान, पुन्हाना, जिला नूंह से अख्तर
हुसैन काटपुरी समेत दर्जन भर कांग्रेस पदाधिकारी मौजूद रहे।

20 को नूंह की नई अनाज मंडी में इफतार पार्टी देंगे
रेवाड़ी।
कांग्रेस प्रत्याशी कैप्टन अजय सिंह यादव ने प्रैसवार्ता में यह संकेत भी
किया कि वे 20 मई को नूंह की नई अनाज मंडी में रमजान माह के दौरान रोजा
रखने वाले सभी मेवातवासियों को इफतार पार्टी देने जा रहे हैं। उन्होंने
कहा कि इसमें पूरे मेवात से लाखों रोजेदार शामिल होंगे।

Post a Comment

0 Comments