Recents in Beach

header ads

विद्यासागर की मूर्ति तोड़ने वालों को सजा मिले : कामरेड राजेंद्र












धनेश विद्यार्थी, रेवाड़ी कोलकाता में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो
के दौरान भाजपा, आरएसएस के उपद्रवियों द्वारा महान समाज सुधारक और भारतीय
नव जागरण के ईश्वरचंद्र विद्यासागर की मूर्ति तोड़े जाने के विरोध में एवं
दोषियों को सजा दिलाने की मांग को लेकर युवा संगठन एआईडीवाईओ एवं महिला
सांस्कृतिक संगठन स्थानीय राव तुलाराम पार्क में इकऋा होकर 18 मई को सायं
4 बजे इकऋा होकर विरोध प्रदर्शन आयोजित करेंगे। डीवाईओ के जिला प्रधान

नरेश कुमार एवं महिला सांस्कृतिक संगठन की प्रधान डा. प्रीतिलता ने बताया
कि ईश्वर चंद्र विद्यासागर भारतीय पुर्नजागरण से लेकर स्वतंत्रता आंदोलन
तक वह भारत की इन महान हस्तियों में से एक थे जो भारत में धर्मनिरपेक्ष
मानवतावादी सोच के लिए अडिग रहे। रविन्द्रनाथ टैगोर, विवेकानंद, देशबंधु,
सीआर दास, शरतचंद्र से लेकर सुभाष चंद बोस, बाल गंगाधर तिलक, लाला
लाजपतराय, वैज्ञानिक जगदीश चंद्र बसु, आचार्य प्रफुल्लचंद्र राय, काजी
नजरूल इस्लाम सभी ने ईश्वर चंद्र से प्रेरणा ली लेकिन वेदना का विषय आज
विद्यासागर की मूर्ति को उग्र हिन्दुत्ववादी ताकतों एवं अज्ञानी लोगों की
भीड ने तोड़ दिया। संगठनों ने इन फासीवादी ताकतों के खिलाफ आगे आने, ऐसे
घृणित कुकृत्य के खिलाफ प्रतिरोध की आवाज बुलंद करने और धर्मनिरपेक्ष और
लोकतांत्रिक आंदोलन को मजबूत करने का सभी प्रगतिशील लोगो, छात्र-युवाओं
और महिलाओं से आह्वान किया है। इस विरोध प्रदर्शन को एसयूसीआई कम्युनिस्ट
के जिला सचिव कामरेड राजेंद्र सिंह, प्रो. अनिरूद्ध यादव समेत अन्य
प्रबुद्ध नागरिक संबोधित करेंगे।


Post a Comment

0 Comments