Recents in Beach

header ads

रेवाड़ी की सभी क्राइम न्यूज़ एक साथ पढ़े


करनावास के पास रेल लाइन पर बुजुर्ग मराधनेश विद्यार्थी, रेवाड़ी। जीआरपी रेवाड़ी थाना क्षेत्र में आने वाली
रेवाड़ी-अलवर रेल लाइन पर गांव करनावास के पास ट्रैन की चपेट में आने से
अधेड़ व्यक्ति की मौत हो गई। मृतक की शिनाख्त 50 साल के कुंदन सिंह पंवार
पुत्र सुरत सिंह पंवार निवासी गांव जटशाह नगर जिला देहरादून, उत्तराखंड
के रूप में हुई। यह रेलगाड़ी की चपेट में कैसे आया, इस बात की जानकारी
नहीं मिल पाई है। रेलवे पुलिस ने मृतक के शव को पंचनामा कार्यवाही के बाद
परिजनों को सौंप दिया। पुलिस के अनुसार मृतक की दिमागी हालत ठीक नहीं थी।


दुष्कर्म पीड़िता के परिजनों को धमकी देने वाला गिरफ्तारधनेश विद्यार्थी, रेवाड़ी। कसोला पुलिस ने दुष्कर्म पीड़िता के परिजनों को
अदालत में गवाही नहीं देने और समझौता करने के लिए धमकी देने वाले आरोपी
को गिरफ्तार कर लिया है। इसकी पहचान गांव लोधाना के समय सिंह के रूप में
हुई। जांच अधिकारी रविदत्त के अनुसार पुलिस को शिकायत मिली कि बखापुर
निवासी सुनील उर्फ सिल्लू ने उसकी भतीजी के साथ कई दिनों तक दुष्कर्म
किया। पुलिस ने आरोपी को दुष्कर्म का केस दर्ज करके गिरफ्तार करने के बाद
जेल भेज दिया था। कुछ दिन पूर्व ही आरोपी सुनील जमानत पर जेल से बाहर आया
है। जेल से बाहर आने के बाद आरोपी समय सिंह, सुनील व उनके साथी चरण सिंह
ने महिला व उसके पति को अदालत में गवाही न देने व राजीनामा करने की धमकी
दी। कोर्ट में गवाही देने व राजीनामा नहीं करने पर आरोपियों ने उनके
परिवार को जान से मारने की धमकी दी। पुलिस ने महिला की शिकायत पर
आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर आरोपी समय सिंह को गिरफ्तार कर लिया।
आरोपी को पुलिस ने मंगलवार को अदालत में पेश किया। पुलिस अन्य आरोपियों
को दबोचने के लिए दबिश दे रही है उन्हें भी जल्द काबू कर लिया जाएगा।



ठेका शराब लूटने वाला 5 वां आरोपी काबूधनेश विद्यार्थी, रेवाड़ी। डहीना-कंवाली रोड पर ठेका शराब को लूटने की
कोशिश में मौके से फरार हुए दूसरे आरोपी को भी डहीना चैकी पुलिस ने बीती
शाम गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी की पहचान बासदूधा निवासी गौरव के रूप में
हुई है। गिरफ्तार किये गये आरोपी को मंगलवार अदालत मे पेश कर रिमांड पर
लिया जायेगा। उल्लेखनीय है कि 15 अप्रैल की रात को डहीना चैकी पुलिस को
सूचना मिली थी कि कंवाली रोड पर हथियारों से लैस करीब आधा दर्जन बदमाश
शराब का ठेका लूटने की साजिश रच रहे है। सूचना मिलते ही डहीना चैकी
प्रभारी एसआई रमेश कुुमार ने अपनी टीम सहित मौके पर दबिश दी थी और तीन
आरोपियों को मौके पर ही दबोच लिया था। और आरोपियों से हथियार व वरना गाडी
बरामद की थी। लेेकिन अंधेरे का लाभ उठाकर महेन्द्रगढ जिला के गांव मांदी
निवासी संदीप व आरोपी गौरव मौके से फरार हो गए थे। फरार हुए आरोपी संदीप
को पुलिस ने 24 अप्रैल को गिरफ्तार कर लिया था तथा दूसरे फरार चल रहे
आरोपी गौरव को बीती शाम काबू कर लिया है। आरोपी को गौरव को मंगलवार अदालत
मे पेश किया जायेगा।


दहेज-हत्या केस में आरोपी ससुर गिरफ्तार
जहर खाकर दी थी विवाहिता ने जान

धनेश विद्यार्थी, रेवाड़ी। दहेज-हत्या केस में धारूहेड़ा क्षेत्र के
सेक्टर-6 थाना पुलिस ने आरोपी ससुर को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी गांव
अचीना निवासी अतर सिंह निकला, जोकि मृतका का ससुर है। पुलिस के जांच
अधिकारी एसआई वीरेंद्र ने बताया कि 19 मई को महेश्वरी निवासी युवती ने
अपने घर पर जहर पदार्थ खाकर अपना जीवन खत्म कर लिया। मृतका के भाई की
शिकायत की ससुराल पक्ष उसकी बहन को दहेज के लिए प्रताड़ित कर रहा था और
इसी वजह से मृतका ने यह कदम उठाया। उसने पुलिस को बताया कि उसकी बहन की
शादी 17 फरवरी 2019 को चरखी दादरी जिला के गांव अचीना ताल निवासी अतर
सिंह के पुत्र के साथ हुई थी। 7-8 दिन पहले मृतका अपने मायके आई और बाद
में उसने 19 मई को अपनी जान दे दी। पुलिस ने दहेज-हत्या का केस दर्ज करके
बीती रात आरोपी ससुर को गिरफ्तार कर लिया।



ट्रैक्टर छीनने वाला आरोपी गिरफ्तारधनेश विद्यार्थी, रेवाड़ी। 2 मई को बखापुर बस स्टैंड पर ट्रैक्टर छीनने की
वारदात में शामिल एक आरोपी को कसौला थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।
आरोपी की पहचान कसौला निवासी सुन्दर सिंह के रूप में हुई है। गिरफ्तार
किये गये आरोपी को मंगलवार अदालत मे पेश कर एक दिन के पुलिस रिमांड पर
लिया गया है। रिमांड के दौरान आरोपी से ट्रैक्टर के बारे में पूछताछ की
जायेगी। पुलिस के अनुसार 2 मई को मुकन्दपुर बसई का बदन सिंह अपने
ट्रैक्टर ट्राली से तूडी खाली कर बखापुर बस स्टैंड पर खडा हुआ था। इसी
दौरान आरोपी वहां आए और उससे मारपीट करने के बाद जान से मारने की धमकी
देते हुए ट्रैक्टर छीनकर फरार हो गए। पुलिस ने बदन सिंह की शिकायत पर
आरोपियों के विरूद्ध विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज करके जांच शुरू कर
दी। पुलिस ने मंगलवार को उक्त आरोपी को अदालत में पेश करके एक दिन के लिए
पुलिस रिमांड पर हासिल कर लिया। पुलिस आरोपी से ट्रैक्टर बरामद करने का
प्रयास करेगी।


पिस्तौल दिखा धमकाने वाला काबू
पिस्तौल बेचने की फिराक में था आरोपी

धनेश विद्यार्थी, रेवाड़ी। राजस्थान के जिला अलवर के गांव हींगवाडा निवासी
मनीष उर्फ धोला को रेवाड़ी सदर पुलिस ने पिस्तौल दिखाकर एक व्यक्ति को
धमकाने की शिकायत के बाद दर्ज केस में काबू कर लिया है। इस वारदात में
इस्तेमाल देशी पिस्तौल को पुलिस ने बरामद कर लिया है। पुलिस ने आरोपी से
पूछताछ के बाद इसे पिस्तौल मुहैया कराने वाला ढोकिया का रिन्कू उर्फ रघु
भी पुलिस के हत्थे चढ़ गया। जांच अधिकारी एएसआई राजसिंह के अनुसार मनीष
उर्फ धोला गांव जाट सायरवास में अपनी मौसी के घर आया हुआ था। इस दौरान
उसका महासिंह के साथ झगडा हुआ। उसने देशी पिस्तौल दिखाकर महासिंह को जान
से मारने की धमकी दी। महासिंह ने पुलिस में इसकी शिकायत की। पुलिस ने
आरोपी के खिलाफ धमकी देने व आॅम्र्स एक्ट के तहत केस दर्ज करके आरोपी को
गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में यह बात भी सामने आई कि आरोपी मनीष को
ढोकिया निवासी रिंकू को वारदात में इस्तेमाल देशी पिस्तौल बेचने के लिए
दी थी। पुलिस दोनों को जल्द अदालत में पेश करेगी।


गुरावड़ा से नकदी व जेवर चुराने वाला काबूधनेश विद्यार्थी, रेवाड़ी। गांव गुरावडा के एक घर से नकदी और गहने चुराने
वाले शख्स को पुलिस ने काबू कर लिया है। रोहड़ाई पुलिस ने वारदात के कुछ
घंटे बाद ही इसे पकड़ लिया। आरोपी के पास चुराए हुए 45,500 रूपए और
सोने-चांदी के गहने बरामद कर लिए गए हैं। यह शख्स गुरावड़ा का सोमबीर
निकला। इस केस की जांच कर रहे एचसी शिव कुमार ने बताया कि 19 मई को
गुरावडा के पुरषोतम शर्मा का परिवार कहीं बाहर गया हुआ था। पीछे से उक्त
आरोपी ने मौका पाकर चोरी की इस वारदात को अंजाम दिया और फरार हो गया। मगर
जाते वक्त अपनी चप्पल वहां छोड़ गया। पुलिस ने इसी सबूत के आधार पर इस
शख्स को काबू कर लिया। यह दो वारदातों में जेल जा चुका है।

Post a Comment

0 Comments