गाय, गंगा, गीता, गायत्री हमारी हिन्दू संस्कृति के आधारभूत स्तम्भ हैं:मुकेश चौहान

महेन्द्रगढ़ :प्रमोद बेवल

स्थानीय श्री गोपाल गौशाला बुचियावाली में गांव सिसोठ से मुकेश चौहान ने अपने छोटे भ्राता स्व. रामपाल चौहान की स्मृति में उनकी प्रथम पुण्य तिथि पर गायों के लिए सवामणी का आयोजन कर उन्हें चाट खिलाई ।

मुकेश चौहान ने अपने उद्गार व्यक्त करते हुए कहा कि गाय, गंगा, गीता, गायत्री हमारी हिन्दू संस्कृति के आधारभूत स्तम्भ हैं । गौमाता में तैंतीस कोटि देवी-देवताओं का वास माना गया है । गौमाता की तृप्ति से समस्त देवी-देवताओं व पितृजनों की तृप्ति होती है । गौमाता से प्राप्त पंचगव्य मानव हितकारी है । गौसेवा व गौरक्षा के लिए सबको सजग रहना चाहिए ।


गौशाला के कोषाध्यक्ष गौसेवक प्रमोद बेवल ने सवामणी आयोजक का आभार जताया । इस अवसर पर "प्रयास" श्रीबालाजी संगठन के प्रमुख मनोज मेघनवास,  योगेश चौहान, मा. राकेश चौहान,  विजय गडानिया, संदीप भांडोर, पवन देवास, अजय सिगड़ा आदि उपस्थित थे ।

Post a Comment

0 Comments