नहर में नहाते पकड़े जाने पर कानूनी कार्रवाई

धनेश विद्यार्थी, रेवाड़ी : 


जिले की सीमा से गुजरने वाली नहरों में नहाते
पाए जाने पर अब कानूनी कार्रवाई होगी। जिलाधीश अशोक कुमार ने भारतीय दंड
संहिता, 1973 की धारा 144 के आदेश जारी करते हुए कहा कि नहरों में नहाते
वक्त युवाओं के डूबने की वजह से मानव जीवन की सुरक्षा के लिए यह कदम
उठाया गया है। इस आदेश की अवहेलना पर भारतीय दंड संहिता, 1860 के तहत
धारा 188 के तहत दंडात्मक कार्रवाई होगी। जिलाधीश ने सिंचाई विभाग के
अधीक्षक अभियंता को नहरों के साथ इस आदेश को लेकर चेतावनी बोर्ड बनवाने
के आदेश कुछ समय पहले दिए थे। जिलाधीश ने जवाहर लाल नेहरू नहर के साथ लगे
गांव भांकली, कोसली, करनावास, मुरलीपुर, गुडियानी, जाटूसाना, लाला,
नैनसुखपुरा, ढोहकी, किशनगढ बालावास, घासेडा, लिसाना, गिंदोखर, बीकानेर,
लिसाना- गोकलगढ, गोकलगढ-ढोहकी, कुम्भावास, रेवाडी सिटी, काकोडिया,
गुरकावास, रामगढ बुडानी, बुडाना, कालाका, माढैया कलां, कोनसीवास, माजरा
गुरदास, कोनसीवास-साल्हावास, बैरियावास-शहबाजपुर, लालपुर, ढयोढई, आसलवास,
पातुहेडा, नंगली रायपुर, मुसेपुर, बेरली खुर्द, नांगल, चैकी नंबर 11,
औलांत, बुडौली, लाधुवास-भोतवास, खेडा आलमपुर, चांदनवास पर विशेष निगरानी
रखने के निर्देश दिए हैं।

Post a Comment

0 Comments