Recents in Beach

header ads

महाराणा प्रताप ने अपनी प्रजा की रक्षा के लिए सर्वस्व न्यौछावर कर दिया

महेन्द्रगढ़-गाव भान्डोर ऊंची में महाराणा प्रताप की जयंती मनाई युवाओ ने।जयंती के कार्यक्रम में पूर्व सरपंच सादु सिंह,हरिद्वारी महावीर के नेत्रत्व में रविन्द्र तँवर,दीपक तँवर व कुलदीप ने महाराणा प्रताप के चित्र पर पुष्प अर्पित करके कार्यक्रम की शुरुआत की।



भान्डोर ऊंची में महाराणा प्रताप जी की जयंती मनाते हुए संदीप भान्डोर ने कहा कि वियतनाम एक छोटा सा देश है जिसके सामने 20 वर्ष के संघर्ष के बाद अमेरिका जैसी विश्व शक्ति ने घुटने टेक दिए।जब वहा के राष्ट्र अध्यक्ष से जब पूछा गया कि आपने ये सब कैसे किया तो उन्होंने जो कहा वो सुन कर हर भारतीय का सीना चौड़ा हो गया।उन्होंने कहा कि शक्तिशाली राष्ट्र अमेरिका को हराने के लिए उन्होंने एक महान एवं श्रेष्ठ भारतीय राजा का चरित्र पढा।

उनकी जीवनी से प्रेरणा लेकर व उनकी युद्ध नीति अपनाकर हमने सरलता से विजय प्राप्त की।वो थे भारत के महान के राजस्थान राज्य में मेवाड़ के महाराजा महाराणा प्रताप सिंह।इतिहास में महाराणा  प्रताप का नाम सदैव सम्मान से लिया जाएगा।इसी कड़ी में रविन्द्र तँवर, कुलदीप सिंह व दीपक सिंह ने कहा कि महाराणा प्रताप ने घास घास की रोटियां खाई लेकिन कभी स्वाभिमान से समझौता नही किया।उन्होने अपनी प्रजा की रक्षा के लिए सर्वस्व न्यौछावर कर दिया।युवा पीढ़ी को महाराणा से प्रेरणा लेकर सदैव देशहित में कार्य करने चाहिए।महापुरुष किसी जाति विशेष के नही होते है वे सभी के होते है।

इस अवसर पर सुरेंद्र, इंद्रपाल,विनय,विशाल,अक्षय,कुलदीप,रविन्द्र,विक्रम,दीपक,रविन्द्र,संदीप भान्डोर, महावीर सिंह, पूर्व सादु सिंह सरपंच,हरिद्वारी सिंह,आदि  उपस्थित रहे।

Post a Comment

0 Comments