Recents in Beach

header ads

दक्षिणी हरियाणा की पहली गौसेवक महिला के निधन पर शोक व्यक्त

धनेश विद्यार्थी, रेवाड़ी-हिसार : 

हरियाणा लोकतंत्र सेनानी मंच के अध्यक्ष मानसिंह वर्मा एवं महासचिव धर्मबीर कंवारी ने दक्षिणी हरियाणा की पहली व आखिरी गौ सेवक महिला श्रीमती शकुंतला देवी के निधन पर शोक व्यक्त किया। शकुंतला देवी के पुत्र एवं सेवानिवृत्त जज बुद्धदेव यादव आपातकाल के दौरान जेल में रहे हैं। दक्षिणी हरियाणा की पहली गौसेवक महिला श्रीमती शकुंतला देवी का गांव इकबालपुर नंगली में 4 मई 2019 को निधन हो गया। उनकी उम्र लगभग 90 वर्ष थी। स्वर्गीय श्रीमती शकुंतला देवी एक प्रसिद्ध गौसेवक एवं समाजसेविका थीं। वे 1966-67 में चले गौरक्षा आन्दोलन की पहली महिला जत्थेदार थी। 













वे गौ आन्दोलन के दौरान पंजाब की लुधियाना जेल में रहीं। उस समय उनका छोटा बेटा वासुदेव जो अब खनन विभाग में उपनिदेशक हैं, उनके साथ उंगली पकडे हुए साथ था। उनके तीन पुत्र है। जिनमें बुद्धदेव यादव (सेवानिवृत्त जज), वासुदेव (उपनिदेशक खनन विभाग) व ब्रह्मदेव यादव एवं पुत्र सचिन यादव सिविल जज, सुर्यदेव, सुदर्शन यादव डिप्टी मैनेजर, पौत्रवधु मानविका सिविल जज सहित हंसता-खेलता परिवार छोड़कर स्वर्ग सिधार गई हैं। हरियाणा लोकतंत्र सेनानी मंच के सदस्यों ने सद्धांजली अर्पित करते हुए कहा कि भगवान उनकी आत्मा को शान्ति प्रदान करें एवं अपने चरणों में स्थान दें।

Post a Comment

0 Comments