Recents in Beach

header ads

सूक्ष्म पर्यवेक्षकों की बैठक शहीद हसन खां मेवाती मेडिकल कालेज नल्हड़ के ओडिटोरियम में आयोजित हुई

नूंह, 
लोकसभा आम चुनाव के लिए जिले में लगाए गए सूक्ष्म पर्यवेक्षकों की बैठक शहीद हसन खां मेवाती मेडिकल कालेज नल्हड़ के ओडिटोरियम में गुरुग्राम लोकसभा क्षेत्र के लिए नियुक्ति सामान्य पर्यवेक्षक सुश्री मनमीत कौर नन्दा की अध्यक्षता में आयोजित हुई। इस बैठक में जिला निर्वाचन अधिकारी पंकज, उप-जिला निर्वाचन अधिकारी सतीश यादव तहसीलदार अनील कुमार सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहें। 



सुश्री नन्दा ने कहा कि सूक्ष्म पर्यवेक्षक चुनाव कार्य में चुनाव आयोग की आंख,नाक व कान का कार्य करते है तथा मतदान प्रक्रिया शुरु होने से लेकर मतदान प्रक्रिया समाप्त होने तक सभी गतिविधियों पर अपनी पैनी नजर रखते है। उन्होंने कहा कि मतदान शुरु होने से पहले मॉकपोल तथा चुनाव सम्पन्न होने के बाद 18 बिन्दुओं की रिपोर्ट भी सूक्ष्म पर्यवेक्षकों द्वारा भरी जानी है उसे भी पूरे ध्यान से भरें। उन्होंने कहा कि चुनाव कार्य एक बहुत ही महत्वपूर्ण कार्य है और इस कार्य को किसी एक व्यक्ति द्वारा पूरा नही किया जा सकता इसलिए सभी मिलकर एक टीम के रुप मे कार्य करें। 

उन्होंने कहा कि यदि सभी अधिकारी अपनी जिम्मेदारी से कार्य पूरा करेगें तो इसमें गलती नही होगी और हमारा कार्य आसानी से समय पर पूरा हो जाएगा। उन्होंने कहा कि पोलिंग पार्टियों के कार्य पर नजर रखें तथा उसका विवरण अपनी रिपोर्ट में दर्ज करें। उन्होंने कहा कि 12 मई को निर्धारित समय पर मॉकपोल करवाया जाए और उसके बाद क्लीयर का बटन जरुर दबा दें। सुश्री नन्दा ने कहा कि सभी पर्यवेक्षक अपने संबधित सैक्टर ऑफिसर, कंट्रोल रुम और संबधित पुलिस स्टेशन का नंबर अपने पास रखें और जरुरत पडने पर उनसे सम्पर्क कर ले। उन्होंने कहा कि ईवीएम में खराबी आने पर सैक्टर ऑफिसर उसे बदलने का काम करेगे अत: आपस में तालमेल बना कर रखें। मतदान प्रक्रिया समाप्त होने पर सूक्षम पर्यवेक्षक सैक्टर ऑफिसर व पोलिंग पार्टियों साथ ही आए। 

जिला निर्वाचन अधिकारी पंकज ने कहा कि चुनाव को निष्पक्ष व शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न करना हम सभी दायित्व है। सभी पोलिंग पार्टियां, माईक्रोऑब्र्जवर्स, सुपरवाईजर्स, सैक्टर मैजिस्ट्रट बिना किसी भय दवाब व प्रलोभन के कार्य करें। उन्होंने कहा कि मतदान के दौरान यदि कोई परेशानी आती है तो अपने उच्च अधिकारी को सूचित करें। उन्होंने कहा कि 11 मई को मतदान केन्द्र पर पहुचकर सबसे पहले मतदान केन्द्र पर उपलब्ध होने वाली सभी मूलभूत सुविधाओं जैसे बिजली, पानी रैम्प इत्यादि को चैक कर लें। उन्होंने कहा कि सूक्ष्म पर्यवक्षक का कार्य निगरानी कर अपनी रिपोर्ट देना है कि मॉकपोल ठीक समय पर हुआ या नही मतदान शुरु होने का समय, मतदाता का पहचान पत्र चैक किया जा रहा है या नहीं, पीठासीन अधिकारी द्वारा पीओ डायरी भरी जा रही है, इत्यादि से संबंधित 18 बिंदुओं की रिपोर्ट देनी है। 

उन्होंने कहा कि सूक्ष्म पर्यवक्षक मतदान केन्द्र के बारे में कोई सूचना देते समय अपना नाम ओर मतदान केन्द्र संख्या अवश्य लिखे। उन्होंने कहा कि चुनाव को लेकर यदि किसी के दिमाग में कोई शक है तो उसे दूर कर लें ताकि मतदान के दिन किसी प्रकार की कोई दिक्कत ना आए। इस मौके पर सभी सूक्ष्म पर्यवक्षकों को प्रोजैक्टर के माध्यम से मतदान प्रक्रिया के दौरान उनके द्वारा प्रयोग में लाए जाने वाले सभी बिंदुओं पर विस्तार से जानकारी प्रदान की गई। 

Post a Comment

0 Comments