Recents in Beach

header ads

भारतीय फिगर आइस स्केटिंग के खिलाड़ी हैं कलात्मक प्रतिभा के धनि: जॉन रॉबिनसन

भारतीय खिलाडियों का लचीला शरीर है सबसे बड़ी ताकत, जो इन्हें बनाता है विश्वस्तरीय

गुरुग्राम के एम्बीएंस मॉल स्थित "आईस्केट" के आइस स्केटिंग रिंक में भारतीय आइस स्केटिंग संघ की तरफ से 9 दिवसीय अखिल भारतीय फिगर आइस स्केटिंग प्रशिक्षण शिविर और प्रतियोगता का आयोजन किया गया है| प्रशिक्षण शिविर और प्रतियोगिता का शुभारंभ भारतीय आइस स्केटिंग संघ के अध्यक्ष श्री आर के गुप्ता और संघ के निदेशक कर्नल एस सी नारंग की अध्यक्षता में मुख्य अतिथि और शिविर में प्रशिक्षण देने के लिए आमंत्रित अंतर-राष्ट्रीय कोच श्री जॉन रॉबिनसन ने किया| विशिष्ट अतिथि के तौर पर भारतीय फिगर स्केटिंग के चेयरमैन श्री जे एस साहनी और आइस स्केटिंग संघ की अधिकारी श्रीमती बी सोनी मौजूद रहे|

प्रशिक्षण शिविर के लिए आमंत्रित अमेरिकन मूल के अंतर-राष्ट्रीय कोच श्री जॉन रॉबिनसन ने भारतीय खिलाडियों की प्रतिभा की सराहना करते हुए कहा कि भारतीय फिगर आइस स्केटिंग के खिलाड़ी कलात्मक प्रतिभा के धनि हैं और इनका लचीला शरीर खिलाडियों की सबसे बड़ी ताकत जो इन्हें विश्वस्तरीय बनाती है| जॉन ने बताया की भारतीय फिगर आइस स्केटिंग के खिलाडियों में प्रतिभा कूट कूट कर भरी है जिसे अगर निखारा जाए तो अवश्य ही भारत का नाम रोशन करेंगे| जॉन रॉबिंसन का भारत से बड़ा लगाव है और भारत दुनिया में उनकी पसंदीदा जगह में से एक है|

आइस स्केटिंग संघ के नवदीप सिंह ने बताया कि इस नौ दिवसीय अखिल भारतीय फिगर आइस स्केटिंग प्रशिक्षण शिविर और प्रतियोगता में पूरे भारत से 30 खिलाडियों का चयन किया गया है, जिनमें हरियाणा के खिलाड़ी भी शामिल हैं| श्री सिंह ने बताया कि इस शिविर में खिलाडियों को आगामी विभिन्न अंतर-राष्ट्रीय आइस स्केटिंग प्रतियोगिताओं के लिए तैयार किया जाएगा| नवदीप सिंह ने कहा कि इस प्रशिक्षण शिविर और प्रतियोगिता के लिए भारतीय आइस स्केटिंग संघ ने अंतर-राष्ट्रीय कोच जॉन को भारत बुलाया है ताकि भारतीय खिलाडियों को उत्तम दर्जे का प्रशिक्षण दिया जा सके| उन्होंने साथ ही बताया की जॉन को फिगर आइस स्केटिंग में तक़रीबन 46 वर्षों का अनुभव है और फिगर स्केटिंग में डबल एक्सल उनका पसंदीदा स्टाइल है| शिविर में प्रशिक्षण देने में उनका सहयोग जे एस साहनी तथा अन्य भारतीय कोच करेंगे|

भारतीय आइस स्केटिंग संघ की श्रीमती बी सोनी ने बताया कि इस प्रशिक्षण शिविर और प्रतियोगिता में प्रदर्शन के आधार पर फिगर आइस स्केटिंग खिलाडियों को आगामी विभिन्न अंतर राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भाग लेने भेजा जाएगा| साथ ही श्री जे एस साहनी ने बताया कि इस प्रशिक्षण शिविर के बाद खिलाडियों से एशियाई ओपन फिगर आइस स्केटिंग ट्रॉफी (चीन) तथा अमेरिका में आयोजित होने वाली फिगर स्केटिंग जूनियर ग्रांड प्रिक्स में बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद है|




Post a Comment

0 Comments