लाडो की घोडी़ पर बैठाकर निकाली बंदौरी

AB TEAM: कासली/सीकर

जिले के निकटवर्ती गांव कासली में ईश्वरराम मेघवाल ने अपनी बेटी पूजा की घोडी़ पर बैठाकर गांव में बंदौरी निकाली । गांव में ऐसा पहला मौका है कि दलित समाज की लड़की की घोडी़ पर बैठाकर बंदौरी निकाली गयीं हो। ईश्वरराम ने अपनी बेटी के साथ साथ बेटे सम्पत कुमार को भी घोडी़ पर बैठाकर बंदौरी निकाली।

Post a Comment

0 Comments