Recents in Beach

header ads

गौमुख से डाक कांवड़ लाने गए कोसली के 4 शिव भक्तों की हादसे में मौत

8 गंभीर रूप से घायल 
अचानक पहाड़ खिसकने से हुआ यह वाक्या 
धनेश विद्यार्थी, रेवाडी। 

जिले के गांव कोसली निवासी गौमुख से कांवड़ लाने गए तीन युवा शिव भक्तों की एक हादसे में दर्दनाक मौत होने के अलावा आधा दर्जन से अधिक के गंभीर रूप से जख्मी होने से पूरे गांव में इस सावन माह में मातम का माहौल छा गया है। इस हादसे की सूचना मिलने के बाद इनके परिजन ऋषिकेश के लिए रवाना हो गए हैं जबकि अन्य कांवड़ियों की जीवन सुरक्षा को लेकर परिजनों के माथे पर चिंता की लकीरें साफ नजर आ रही हैं। गांव में सब जगहों पर इसी घटना को लेकर चर्चाएं चल रही हैं। नई अपडेट के लिए लोग ऋषिकेश गए परिजनों से संपर्क बनाए हुए हैं। 


ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार गांव कोसली के तुफान गांव संघ के 15 युवक 22 जुलाई को गौमुख से डाक कांवड़ लाने के लिए कोसली से अपनी मंजिल के लिए रवाना हुए थे। वहां से वापस लौटते वक्त ऋषिकेश से 20 किलोमीटर आगे अचानक पहाड़ खिसकने की वजह से डाक कावड़ के साथ चल रही क्रुजर गाड़ी नंबर एचआर 47सी 3628 क्षतिग्रस्त हो गई। इस वाहन में तीन कावडिए लोकेश, जितेन्द्र और कमल की इस हादसे में मौत हो गई जबकि 5-6 कांवड़िए गंभीर रूप से घायल होने की वजह से इलाज के लिए ऋषिकेश अस्पताल में दाखिल कराए गए हैं। 


यह हादसा ऋषिकेश-गंगौत्री मार्ग पर नरेन्द्र नगर से करीब 5 किलोमीटर आगे बगड़ धाम के पास हुआ। इसमें 4 धार्मिक तीर्थ यात्री शिवभक्तों लोकेश 23 वर्ष, जितेन्द्र 34 वर्ष, कमल सिंह 21 वर्ष और आशीष 26 वर्ष की मौके पर मौत हुइ्र है, वहीं कुल 8 कांवड़ियों को गभीर चोटें आई हैं। 


Post a Comment

0 Comments