Recents in Beach

header ads

प्रगतिशील किसानों के संग बैठक

धनेश विद्यार्थी, रेवाड़ी। केन्द्रीय टीम ने जिले के गांव जड़थल निवासी प्रगतिशील किसान राजकुमार सुरेंद्र तथा गांव झाबुआ के प्रगतिशील किसानों से बातचीत की। किसानों ने टीम सदस्यों को बताया कि कम पानी में फसल तैयार होने वाली अरंड और कपास के बीज उन्हें कम कीमत पर उपलब्ध कराने के साथ ही अनुदान दिया जाए। संयुक्त सचिव मधु रंजन कुमार ने किसानों से कहा कि किसान ड्रिप फव्वारा विधि अपनाकर कम लागत में अधिक लाभ कमाएं। किसानों को ड्रिप और फव्वारा विधि से पानी की एक-एक बूंद से अधिक पैदावार होती है। उन्होंने बताया की गिरते भू- जल स्तर के कारण जल संकट के समय में ड्रिप फव्वारा पद्धति वरदान सिद्ध हो सकती है। जल हर बूंद से अधिकतम लाभ लेने के लिए ड्रिप तकनीक सबसे अच्छी विधि है, इस से कम पानी में ज्यादा पैदावार मिलती है। उन्होंने जल शक्ति अभियान के तहत सरंक्षण के लिए किसानों के साथ-साथ आम जनता को भी जागरूक किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कल को सुरक्षित रखने के लिए आज से ही जल सरंक्षण का कार्य सभी को शुरू करना चाहिए। उन्होंने कहा कि जल संरक्षण के लिए चलाये जा रहे जल शक्ति अभियान को लेकर जिला के ग्रामीण शहरो में योजनाबद्ध तरीके से जल संग्रहण, हरित क्षेत्र विस्तार और जागरूकता अभियान के समन्वय के साथ-साथ लक्ष्य निर्धारित किए जाए। 

Post a Comment

0 Comments