जजपा-बसपा गठबंधन से गरीब, किसान और कमेरे वर्ग के हक में लहर पैदा हुई: दुष्यंत


धनेश विद्यार्थी, कोसली (रेवाड़ी): 

हरियाणा विधानसभा के आगामी चुनाव के मद्देनजर जननायक जनता पार्टी और बहुजन समाज पार्टी ने अपने प्रचार अभियान को तेज करते हुए अपने सात दिवसीय प्रदेशव्यापी दौरे का कोसली से विशाल बदलाव रैली करके आगाज किया गया। 

जजपा-बसपा की कोसली में हुई पहली जिलास्तरीय संयुक्त रैली में वरिष्ठ जजपा नेता एवं पूर्व सांसद दुष्यंत चैटाला ने कहा कि जजपा-बसपा के गठबंधन की ताकत से प्रदेश में गरीब, किसान और कमेरे वर्ग के हक में एक लहर पैदा हुई है, जिससे भाजपा कांग्रेस में घबराहट है। कोसली गांव में जनसभा को सम्बोधित करते हुए दुष्यंत चैटाला ने कहा कि भीड़ को देखकर ऐसा प्रतीक हो रहा है कि जैसे इस अहीरवाल कि धरती से हाथी चाबी लेकर चंडीगढ़ की ओर रवाना हो चुका हो। जजपा-बसपा के कार्यकर्त्ताओं में जोश भरते हुए दुष्यंत ने कहा कि विधानसभा चुनाव में मात्र करीब 45 दिन ही बचे हुए हैं। अब इन 45 दिनों में सबको 450 दिन जितनी मेहनत करनी है ताकि प्रदेश में बदलाव लाते हुए 1987 का इतिहास दोहराया जा सके। 

पूर्व सांसद ने भाजपा कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि प्रदेश बनने के पांच दशक बाद भी आज अहीरवाल का यह क्षेत्र सबसे पिछड़ा  हुआ है। उन्होंने भाजपा सरकार से सवाल करते हुए पूछा कि प्रदेश सरकार एक तरफ तो समान विकास कि बात करती है दूसरी ओर कोसली में अपनी ही घोषणाओं पर चार साल बाद भी अमल नही हो पाया चाहे वो रिजनल सैटर के भवन कि बात हो चाहे कोसली में नर्सिगं कालेज कि बात हो या फिर अडंर पास कि बात हो, सभी घोषणाओं में भाजपा सरकार ने  कोसली क्षेत्र वासियों के साथ धोखा किया है। उन्होंने कहा कि आज लोग पीने के पानी को तरस रहे है और युवा अच्छी शिक्षा रोजगार के लिए। 
दुष्यंत चैटाला ने  कोसली क्षेत्र वासियों से वादा करते हुए कहा कि प्रदेश में जजपा-बसपा की सरकार बनने पर  रेवाड़ी  जिले का तेजी से विकास कर जिले की तकदीर तस्वीर बदली जाएगी। उन्होंने कहा कि यहां के युवाओं को रोजगार देने के लिए विशेष व्यवस्था की जाएगी कि सरकारी नौकरियों में अहीरवाल के युवा पीछे रहें और नौकरियों में उन्हें भी बराबर का हक मिले, वहीं दुष्यंत ने साथ ही उन्होंने 25 सितंबर को महम में ताऊ देवीलाल के सम्मान में होने वाली जेजेपी-बीएसपी की रैली को लेक सबको न्यौता दिया। 
इस मौके पर जजपा प्रदेशाध्यक्ष सरदार निशान सिंह ने कहा कि आज जो हालात देश-प्रदेश में बने हुए हैं, वो भविष्य के लिए बहुत खतरनाक है इसलिए प्रदेश में बदलाव लाना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि आज महिला सुरक्षित, युवाओं को रोजगार तो वही किसान, व्यापारी, कर्मचारी समेत तमाम वर्ग भाजपा की वादाखिलाफी से परेशान हैं। इस मौके पर बसपा के प्रदेश प्रभारी एवं मायावती सरकार में मंत्री रहे डा. मेघराज ने कहा कि चैधरी देवीलाल छत्तीस बिरादरी के लोगों को एक साथ लेकर चलते थे, अब जजपा-बसपा वही इतिहास दोहराएगी और सरकार आने पर छत्तीस बिरादरी का एक सम्मान विकास करेगी। उन्होंने कहा कि जात-पात के नाम पर आपसी भाईचारे को खराब करने वाले लोगों की परख सबको करनी होगी और किसान, कमेरे को एक साथ आगे बढकर भाईचारे खराब करने वालों को करारा जवाब देना होगा। 

जजपा के प्रदेश सचिव जिला परिषद उपाध्यक्ष जगफूल यादव ने कहा कि भाजपा और कांग्रेस दोनों पार्टियों ने सिर्फ कोसली  क्षेत्र को देश का सबसे पिछड़ा इलाका बनाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा-कांग्रेस ने ही यहां की जनता का एसवाईएल के पानी का हक मारा लेकिन अब फिर से ताऊ देवीलाल और बाबा भीमराव अंबेडकर के सपने साकार करने का सही वक्त गया है। उनका कहना था कि जजपा-बसपा का गठबंधन आगामी विधानसभा चुनाव में परचम लहराएगा और विकास के मामले में  कोसली को आगे लेकर जाएगा। 

रैली के संयोजक और जजपा के जिलाध्यक्ष रामफल कोसलिया ने कहा कि कोसली  क्षेत्र को बड़े राजनीतिक परिवारों ने हमेशा ठगा है। उन्होंने अहीरवाल के नेताओं के नाम  नाम लेते हुए कहा कि उनसे पूछा जाना राजनीतिक ताकत और धन-दौलत लेकर उन्होंने यहां के लिए किया क्या है। उन्होंने कहा कि दुष्यंत चैटाला को युवा, बुजुर्ग, महिला और समाज का हर वर्ग दिल से चाहता है और  कोसली जैसे इलाके की सुध पहले जननायक देवीलाल ने लेते हुए उपमण्डल बनाया ओर अब उसका पड़पौता ही लेगा। उन्होंने लोगों से हाथ जोड़ कर अपील की कि बसपा और जजपा की सरकार बनाने का ये सुअवसर चूके नहीं और गठबंधन के उम्मीदवारों को भारी मतों से जितवाएं। इस दौरान प्रान्तिय अध्यक्ष प्रकाश भारती बसपा जिला अध्यक्ष  अशोक अहमदपुर, महेन्द्र चैहान बावल राजपूत समाज प्रधान , नरेश हल्का प्रधान , वरिष्ट नेत्री बसपा लक्ष्मी देवी श्यामसुन्द्र सब्रवाल जेजेपी के सभी हल्का प्रधान, जजपा के किरणपाल यादव, विमल चैधरी समेत जजपा और बसपा के वरिष्ठ नेता एवं पदाधिकारी और सदस्य मौजूद रहे। 

Post a Comment

0 Comments