Recents in Beach

header ads

राजकीय माध्यमिक विद्यालय बीवां में स्वच्छ्ता क्रांति की शुरुआत

नूंह। बुधवार को राजकीय माध्यमिक विद्यालय बीवां नूंह में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी  की स्वच्छ भारत मुहिम को छात्र शक्ति एवं शिक्षकों ने आगे बढाने का काम किया। इस काम में मुख्य अध्यापक राजकुमार ने गांधी जी के भारत की आजादी में योगदान और इतिहास में उनके महत्व की जानकारी दी।
उन्होंने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी 2 अक्टूबर 1869 को पैदा हुए और उनके कार्यों और विचारों ने आजाद भारत को आकार देने में बड़ी भूमिका निभाई। पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री का जन्म 2 अक्टूबर 1904 को हुआ। उनकी सादगी और विनम्रता के लोग कायल थे। 1965 के भारत पाक युद्ध के दौरान दिया गया श्जय जवान जय किसान का उनका नारा आज के परिप्रेक्ष्य में भी सटीक और सार्थक है। 
मास्टर मुबारिक ने कहा कि बापू का मानना था कि जहांसाफ-सफाई होती हैं वहां ईश्वर का वास होता है। उन्होंने स्वच्छता को मानव जीवन का अहम हिस्सा माना, खुद इसे अपनाया और दूसरे लोगों को स्वच्छता अपनाने के लिए प्रेरित किया। उन्होनें बताया के भारत का हर एक नागरिक एकसाथ मिलकर देश को स्वच्छ बनाने में अपना योगदान दे। ताकि महात्मा गांधी के स्वच्छ भारत के सपने को पूरा किया जा सके।
आज राजकीय माध्यमिक विद्यालय बीवां नूंह में 2 अक्टूबर 2019 को स्वच्छ भारत अभियान चलाया गया। इसके सफल कार्यान्वयन के लिए सभी लोगों को इससे जुड़ने की अपील की गई, जिसमें स्कूल के मुख्यध्यापक राजकुमार ने ग्रामीणों से अपने घर और आस-पास सफाई रखने की अपील की। इस मौके पर स्वच्छता के प्रचार प्रसार के लिए जागरूकता रैली भी निकाली गई। बच्चों ने स्वच्छता पेंटिंग, श्लोगन, आदि में भाग लिया। और महात्मा गांधी के सपने को साकार करने के लिए सभी को हर वर्ष 100 घंटे योगदान करने की सलाह दी।
उन्होंने बताया के गांधी जयंती को लेकर हर साल जनप्रतिनिधि व अधिकारी सफाई अभियान चलाते हैं।सफाई से हम व हमारा देश भी स्वच्छ रहेगा। इसलिए हम आने वाले समय में सफाई के प्रति अपने देश को एक नये मुकाम पर पहुचायेंगे। इस मौके पर स्कूल के मुख्यध्यापक श्री राजकुमार, मास्टर मुबीन, मास्टर हन्नान, मास्टर संदीप, मास्टर कुलदीप, मास्टर मुबारिक (एम एम खांन), मास्टर विनय कुमार,मास्टर साहून,प्रिय यादव, आरिफा नियाज, हाजी नूरुद्दीन, जमालूदीन, सुरेन्द्र, मिड डे मील वर्करों और स्कूली बच्चों ने भाग लिया।
नूंह फोटो : बच्चों को स्वचछता की शपथ दिलाते शिक्षकगण। 

Post a Comment

0 Comments