Recents in Beach

header ads

अहंकारी राजा का घमंड तोड़ने के लिए आगे आई प्रजा: कापड़ीवास व्यवस्था परिवर्तन के लिए बड़ा निर्णय लेगी

      रेवाड़ी फोटो 2: गांव लाधूवास में चुनावी सभा में मंचासीन निर्दलीय उम्मीदवार रणधीर कापड़ीवास।
                  धनेश विद्यार्थी, रेवाड़ी।
भाजपा से बागी होकर निर्दलीय उम्मीदवार बन रेवाड़ी सीट से दोबारा चुनाव मैदान में कूदे पूर्व विधायक रणधीर कापड़ीवास ने मंगलवार को गांव लाधूवास अहीर, सहारवास, खड़गवास, लाखनौर, कालूवास और चांदावास में अपने चुनाव प्रचार अभियान के तहत नुक्कड़ सभाओं को संबोधित करते हुए भाजपा के केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत का नाम लिए बगैर करारा सियासी वार किया। उन्होंने कहा कि अंहकारी राजा का घमंड तोड़ने के लिए अब प्रजा आगे आ गई है और इस बार भाजपा प्रत्याशी की जमानत जब्त होने जा रही है। 
अपने पिछले पांच साल के कार्यकाल में ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में कराए गए विकास कार्याें का बखान करते हुए कापड़ीवास ने कहा कि रेवाड़ी सीट से भाजपा ने उनका टिकट काटकर ऐसे व्यक्ति को थमा दिया, जिसे शहर के गली-मौहल्ले के नाम तक मालुम नहीं। कापड़ीवास ने कहा कि व्यवस्था परिवर्तन के लिए इस बार रेवाड़ी शहर और देहात एकजुट हो गया है क्योंकि स्थानीय सांसद ने निज स्वार्थ और अहंकार वंश ऐसे व्यक्ति को टिकट दिलवाई, जो ना तो शहर में रहता है और ना ही भाजपा के किसी कार्यक्रम में पिछले पांच साल में नजर आया। उन्होंने लोगों से पूछा कि क्या आप ऐसे व्यक्ति को अपना जनप्रतिनिधि चुनना चाहते हो, जो ना तो शहर में रहता है और ना ही वह भाजपा का सक्रिय कार्यकर्ता रहा हो। 
उन्होंने कहा कि वह तो सिर्फ पोस्टर ब्वाय बनकर रहा और वो भी भाजपा का नहीं, बल्कि एक व्यक्ति विशेष का। उन्होंने कहा कि मैंने जनता का सुख-दुख में साथ दिया। आधी रात को भी फोन पर काम कराए। आपके शहर में लोगों को हर वक्त उपलब्ध मिला। अब भाजपा ने ऐसा उम्मीदवार लाकर खड़ा कर दिया, जिसे रेवाड़ी शहर के गली-मौहल्ले के नाम तक मालुम नहीं। ऐसे प्रत्याशी को रेवाड़ी क्षेत्र की जनता बाहर का रास्ता दिखाने का काम करे। उन्होंने कहा कि जनता के आशीर्वाद से वे दोबारा बहुमत से विजयी होंगे और सीएम मनोहर लाल और पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में फिर से सरकार में भागीदारी करेंगे। इस मौके पर टीम कापड़ीवास के सदस्य भी मौजूद रहे। 
---------------------

Post a Comment

0 Comments