Recents in Beach

header ads

चिड़ावा क्षेत्र में हुए डबल मर्डर कांड का चिड़ावा पुलिस जल्द ही करेगी खुलाशा

Ramesh Ramawat
तीनो दोस्तो की करना चाहते थे हत्या आरोपियों ने तीसरे युवक को भी वारदात की रात कॉल कर बुलाया था। मगर वह झांसे में नहीं आया। ऐसे में वह जिंदा बच गया। तीसरे दोस्त की किस्मत थी बुलंद ।
झुंझुंनू जिले में चिड़ावा क्षेत्र के श्यामपुरा गाँव में हुए डबल मर्डर कांड का चिड़ावा पुलिस जल्द ही करेगी खुलाशा

सुल्ताना चौकी क्षेत्र के गाँव श्यामपुरा में हुए डबल मर्डर को प्रथम दृष्टि आपसी रंजिश के चलते ही वारदात को अंजाम दिए जाने के कयास लगाये जा रहे है । फिलहाल पुलिस ने पूछताछ के लिये दर्जन भर संदिग्धों युवकों को ले रखा है हिरासत में जिनसे पूछताछ के आधार पर सुराग जुटाए जा रहे है ।
तीनो दोस्तो की करना चाहते थे हत्या लेकिन तीसरे दोस्त की किस्मत थी बुलंद ।
आरोपीयो ने यौजना के तहत तीनो दोस्तो को फ़ोन कर अलग अलग जगहे बुलाया था जिसमे राहुल व प्रेम बुलाने से आ गए ओर तीसरा अन्य उनका दोस्त आरोपियों के बुलाना पर घर से बाहर नही आया । जिसकी वजह से उसकी जॉन बच गई । राहुल जांगिड़ व प्रेम राजपूत को बाहर बुला कर अलग अलग जगह पर मौत के घाट सुला दिया ।
सुत्रो से खबर आ रही है कि दिवाली से कुछ दिन पहले ही राहुल जांगिड़ व प्रेम सिंह राजपुत की कुछ युवकों से कहा सुनी हुई थी जो कथित मारपीट तक बात आ गई थीं । जीसके बाद आरोपियों में बदले की भावना पैदा हो गई और बदला लेने की ठान ली ।

तीसरे दोस्त की भी करना चाहते थे हत्या, फोन भी किया, नहीं आया तो बच गया

चिड़ावा क्षेत्र के श्यामपुरा गांव के दो युवकों की हत्या के मामले में पुलिस कड़ी से कड़ी जोड़ रही है। मामले में पुलिस को अहम सुराग हाथ लग चुके हैं। पुलिस सूत्रों के अनुसार दोनों युवकों की हत्या आपसी रंजिश के चलते किए जाने की आशंका है। श्यामपुरा में तीसरे युवक की भी हत्या हो सकती थी। जिसके लिए आरोपियों ने पूरा प्लान भी बना लिया था। आरोपियों ने तीसरे युवक को भी वारदात की रात कॉल कर बुलाया था। मगर वह झांसे में नहीं आया। ऐसे में वह जिंदा बच गया।

इस मामले में पुलिस ने दर्जनभर से ज्यादा संदिग्ध युवकों को हिरासत में लिया। जिससे पूछताछ के आधार पर सुराग जुटाए। सूत्रों के अनुसार दीपावली से पहले राहुल जांगिड़ व प्रेम सिंह राजपूत की कुछ युवकों से कहासुनी व कथित मारपीट हो गई थी। जिसके बाद आरोपियों ने बदला लेने की ठानी। दोनों युवकों को योजना के तहत घरों से बाहर बुलाया। जहां दोनों की अलग-अलग जगहों पर धारदार हथियार से हत्या कर दी। प्रेम सिंह के शव को जलाने का प्रयास भी किया। जिसके बाद आरोपी फरार होते समय प्रेमसिंह की बाइक भी ले गए। वारदात में तीन से ज्यादा युवक शामिल होने की संभावना है। उधर, पुलिस टीमें लगातार आरोपियों की तलाश में जुटी हैं। हालांकि इस मामले में पुलिस ने कुछ भी बताने से इनकार किया है। पुलिस द्वारा हत्याकांड के खुलासे के बाद ही पूरा मामला साफ हो सकेगा। गौरतलब कि मंगलवार सुबह श्यामपुरा गांव के युवक राहुल जांगिड़ व प्रेमसिंह के शव अलग-अलग जगहों पर मिले थे। जिसमें दोनों युवकों की धारदार हथियार से हत्या की गई थी।

दोहरे हत्याकांड के खुलासे के लिए पुलिस ने दिन-रात एक कर रखा है। गुरुवार दोपहर में एसपी यादव चिड़ावा थाने पहुंचे। उन्होंने संदिग्ध युवकों से पूछताछ की। एसपी ने डीएसपी आरपी शर्मा व सीआइ लक्ष्मीनारायण सैनी से मामले की जानकारी ली। उधर, केहरपुरा सरपंच प्रदीप झाझडिय़ा के नेतृत्व में ग्रामीणों ने सुलताना चौकी पहुंचकर मामले की जानकारी ली। उन्होंने चौकी प्रभारी देवेंद्र यादव से हत्याकांड के खुलासे की मांग की। पुलिस ने जल्द ही खुलासा करने का आश्वासन दिया।

सुलताना से लेनी चाही कुल्हाड़ी

आरोपियों ने हत्या की वारदात के लिए धारदार हथियार काम में लिया।आरोपियों ने पहले सुलताना से कुल्हाड़ी लेने के प्रयास किए। मगर कुल्हाड़ी नहीं ले सके। जिसके बाद एक जगह से जांटी छांगने के बहाने कुल्हाड़ी ली गई। जिससे वारदात को अंजाम दिया गया। आरोपियों ने हत्या से पहले व बाद में दर्जनभर से ज्यादा युवकों से संपर्क किया। जिसमें कुछ लड़के बहुत की कम उम्र के भी हैं। पुलिस ने कॉल डिटेल के आधार पर उक्त संदिग्ध युवकों को हिरासत में लिया।जिसके आधार पर हत्याकांड की कड़ी दर कड़ी जुड़ती गई। हत्याकांड के आरोपियों की उम्र भी काफी कम बताई जा रही है।


राहुल के बाद प्रेम सिंह को बुलाया


हत्याकांड के आरोपियों ने सुनियोजित तरीके से वारदात को अंजाम दिया। आरोपियों ने दोनों दोस्त राहुल व प्रेेमसिंह को अलग-अलग जगहों पर मौत के घाट उतारा। हालंाकि पुलिस जांच में जुटी है कि पहले राहुल की हत्या की या प्रेमसिंह की। जो कि सभी आरोपियों के गिरफ्तार होने पर ही सामने आ सकेगी। आरोपियों ने हत्याकांड की प्लानिंग दिन में ही तैयार कर ली थी।


फिलहाल पुलिस जाँच का विषय हैं  चिड़ावा पुलिस जल्द ही करेगी खुलाशा, उसके बाद ही दूध का दूध पानी का पानी हो पायेगा ।

Post a Comment

0 Comments