Recents in Beach

header ads

हमने संसद में कमेरे किसान की आवाज उठाने का काम किया: दुष्यंत





धनेश विद्यार्थी, रेवाड़ी। 
जननायक जनता पार्टी के सुप्रीमो पूर्व सांसद दुष्यंत ने कहा कि हमने ससंद में कमेरे किसान की आवाज उठाने का काम किया और आखिर दम तक यह लड़ाई जारी रहेगी।
मंगलवार को बावल की अनाज मंडी में आयोजित विशाल चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए दुष्यंत ने अपने विरोधियों पर करारा सियासी वार करते हुए रेवाड़ी के चुनावी रण में रेवाड़ी से मलखान सिंह, बावल से श्याम सुंदर सभ्रवाल और कोसली से रामफल कोसलिया को विजयी बनाने की अपील की। उन्होंने कहा कि भाजपा की जीत में जींद में पसीने निकलवाने का काम किसने निकालने का काम किया। उन्होंने कहा कि जो लोग कहते थे कि हमारी जमानत जब्त होगी, उनके कितने 4400 वोट आए। कांग्रेस कहती थी कि बच्चों की पार्टी है, 800 वोटों से जमानत बची थी। उन्होंने कहा कि खटटर साहब आप तो ब्राहमण की गर्दन पर फरसा लगाकर कहते हैं कि गर्दन काट दूंगा। आपकी उचाना की उम्मीदवार कहती है कि कोई आंख दिखाए तो उसकी आंख निकाल लेना।

जजपा सुप्रीमो ने कहा कि आपकी आदमपुर की उम्मीदवार कहती है कि जो भारत माता की जय ना बोले वह पाकिस्तानी और आपके प्रभारी अनिल जैन कहते हैं कि दुष्यंत तो बंदर है, प्रदेश में आग लगाता घूम रहा है। उन्होंने कहा कि ट्रैक्टर को सरकार ने ट्रक की श्रेणी में डालने का काम किया तो दुष्यंत ही था, खटटर साहब जिसने संसद में ट्रैक्टर को उस श्रेणी से हटवाया। जजपा नेता ने कहा कि मैं प्रदेश को आग नहीं लगा रहा, मैंने तो पांच साल सांसद रहते हुए हरियाणा के कमेरे किसान की आवाज उठाने का काम किया। आपके प्रभारी मुझे बंदर बोलते हैं, बंदर तो हनुमान जी का रूप है और यह वानर सेना तैयार है। खटटर साहब जब यह वानर सेना जब चंडीगढ़ तक पुल बनाएगी जब हमारा एक विधायक श्याम सुंदर होगा, एक विधायक मलखान होगा और एक विधायक रामफल कोसलिया होंगे, जो तीनों मिलकर इस रेवाड़ी के रण को जीतने का काम करेंगे।

जजपा नेता ने अपने वर्करों से कहा कि मेरी विनती है कि आप घर-घर जाकर प्रचार करें। उन्होंने कुछ लोग गुजरात से भी आए मोटा भाई-छोटा भाई। जो प्रचार करके गए, मैं यह प्रचार कर रहे थे, मैं आज देख रहा था कि मोटा भाई ने रेवाड़ी में कहा कि मेरे को हरियाणा आकर उर्जा मिलती है और उर्जा बिजली को कहते हैं। मोदी जी आप तो पांच साल पहले वायदा करके गए थे हर घर में 24 घंटे बिजली पहुंचाएं। किसान के खेत तक बिजली पहुंचाएंगे। यह जुमलों की सरकार, झूठों की सरकार, क्या पांच साल यही करने आती है कि हमारे हिस्से की बिजली गुजरात की अडानी कंपनी को बिजली बेच देती है।

दुष्यंत ने कहा कि साथियों समय आ चुका, जो लोग आपसे 370 की बात करते हैं, जो आपसे राष्ट्रहित की बात करते हैं, उनसे यह पूछने का काम करें कि हरियाणा की तो वो धरती है, जिसके हर गांव से जवान बोर्डर पर शहीद हुआ है। आज पाकिस्तान और चीन के बार्डर पर हरियाणा का हर दसवां जवान खड़ा है। उन्होंने कहा कि साथियों इनसे बोल देना कि जितने शूर यौद्धा हमारी धरती से शहीद हुए, गुजरात ने तो उतने जवान आज तक आर्मी में भी देने का काम नहीं किया। उन्होंने कहा कि अगर ये आपको बांटने का प्रयास करें या ये कहे कि इसने परिवारवाद फैला रखा तो है तो आप बताए कि चैधरी देवीलाल का कौन सा परिवार था। ये जनता मेरा परिवार है, ये मेरी चाची बैठी, मेरी ताई बैठी, मेरा परिवार तो यह है।

उन्होंने उन्हें धमकाने के लिए एक फोन आने की बात कहते हुए कहा कि मेरे पास अढाई करोड़ लोगों का परिवार है तेरे पास कितने लोगों का परिवार है। उन्होंने जजपा कार्यकर्ताओं से कहा कि आप घर-घर जाए और लोगों को समझाए कि हमारी सरकार बनने पर सरकारी और गैर सरकारी नौकरियों में 75 फीसदी हरियाणा के युवाओं को मिलेगी। इस मौके पर जजपा के तीनों प्रत्याशी बावल से एडवोकेट श्याम सुंदर सभ्रवाल, रेवाड़ी से मलखान सिंह और कोसली से रामफल कोसलिया समेत विभिन्न गांवों से आए जजपा के वरिष्ठ पदाधिकारी एवं बावल 84 से आए गणमान्य लोग मौजूद रहे। इस मौके पर दुष्यंत चैटाला ने देरी से आने के लिए सभी मतदाताओं से खेद जताते हुए कहा कि जजपा आपके हित की लड़ाई लड़ रही है, इसलिए अपना अजीज समझकर इस देरी को क्षमा करें। उन्होंने कहा कि जजपा प्रदेश की राजनीति को नए आयाम देने आई है। रेवाणी के रण में जजपा के तीन यौ़द्धाओं को जिताकर आप चंडीगढ भेजे और आपकी सरकार बनने पर आपकी हर समस्या हल होगी और सपना साकार होगा। इस मौके पर जजपा सुप्रीमी दुष्यंत चैटाला को गाजे-बाजे के साथ सभा स्थल तक लाया गया और बड़ी फूलमाला के साथ जजपा के वरिष्ठ नेताओं ने उनका स्वागत किया। सभा के अंत में जजपा प्रत्याशी श्याम सुंदर सभ्रवाल ने सभी मतदाताओं का आभार जताया। 

Post a Comment

0 Comments