Recents in Beach

header ads

70 वें संविधान दिवस पर बाबा साहब को श्रद्धा सुमन अर्पित

धनेश विद्यार्थी, नूंह। 
रविवार को 70 वें संविधान दिवस के उपलक्ष्य में शहर के मॉडल टाउन स्थित डा. बी आर अंबेडकर पार्क एवं पुस्तकालय में विशेष कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें सेवानिवृत्त उप सिविल सर्जन डा. कमल मेहरा मुख्य वक्ता के तौर शामिल हुए जबकि विशिष्ट अतिथि सेवानिवृत्त जिला शिक्षा अधिकारी लालचंद और अध्यक्षता रोशन लाल मानपुरा ने की। 
डा. मेहरा ने इस मौके पर कहा कि बाबा साहब डा. भीमराव अंबेडकर ने संविधान रूपी एक पवित्र ग्रंथ को लिखकर समस्त संसार में भारतवर्ष का मान बढ़ाया। भविष्य में हर व्यक्ति को सामाजिक, आर्थिक व राजनीतिक तौर पर समुचित भागीदारी मिल सके, ऐसी व्यवस्था बाबा साहब बरसों पहले कर गए। और ऐसा केवल एक अच्छे संविधान की वजह से संभव हो सका। विशिष्ट अतिथि सेवानिवृत्त डीईओ लाल चंद ने कहा कि हमे बाबा साहब ने पद चिन्हों पर चलते हुए उनके करवां को आगे बढ़ाने का काम करना होगा। इसके लिए हमें भागदौड़ की जिन्दगी में से समय निकालकर समाज को आगे बढ़ाने के लिए समय निकालना होगा। 
रेवाड़ी फोटो: बाबा साहब को याद करते सामाजिक कार्यकर्ता। 
सामाजिक संस्था सेवा स्तम्भ के प्रधान जगदीश प्रसाद डहीनवाल ने कार्यक्रम में आए सब लोगों का आभार जताते हुए कहा कि यह हमारा नैतिक दायित्व बनता है कि हम आमजन को संविधान में मिले हुए अधिकारों व कर्तव्यों के बारे गांव-गांव जाकर लोगों को बताए ताकि समाज दलित, शोषित, पिछड़ा वर्ग और अल्पसंख्यक लोगों पर होने वाले अत्याचार को रोका जा सके ताकि सामाजिक भाईचारा बना रहे। कार्यक्रम में आचार्य कांशीराम, धारे सिंह पूनिया ने अपनी कविता के माध्यम से बाबा साहब के जीवन एवं विचारों पर प्रकाश डाला। इस मौके पर सेवा स्तम्भ के सह सचिव आरपी जिनागल, गोपीराम बढालिया, ओमप्रकाश दहिया, वीडी मेहरा, सुरजीत सिंह, बंशीराम रालियावास, रतन लाल दिसोदिया, जगदीशचंद्र टुमना, राजेश महलावास समेत अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहे। 

Post a Comment

0 Comments