Recents in Beach

header ads

प्रदेश के टॉप अपराधियो में शामिल हार्डकोर, नकली सोना बेचने वाला ईनामी अपराधी को सीआईडी की स्पेशल टीम ने दबोचा

टॉप 25 में शुमार व 10 हजार रुपये का इनामी मोस्ट वांटेड हार्डकोर अपराधी गिरफ्तार । नकली सोने की ईंट बेचने वाले दस हजार के ईनामी बदमाश को सीआईडी सीबी की स्पेशल टीम ने किया गिरफ्तार ।
सीआईडी सीबी की स्पेशल टीम को मिली बड़ी कामयाबी । नकली सोने की ईंट बेचने वाले दस हजार के इनामी आरोपी को गिरफ्तार कर जयपुर की जमवारामगढ़ थाना पुलिस को किया सुपुर्द । 
टॉप 25 में शुमार व 10 हजार रुपये का इनामी मोस्ट वांटेड हार्डकोर अपराधी गिरफ्तार ।
     गडा हुआ धन निकालने व टटलुबाजी में माहिर खिलाड़ी ने दिया करोडों रूपये की ठगी को अंजाम ।

जयपुर- सीबी सीआईडी अपराध शाखा की स्पेशल टीम ने बुधवार प्रातः प्रदेश के टॉप 25 इनामी वांटेड अपराधियो में शुमार हार्डकोर अपराधी समुन्द्र सिंह बावरिया को जमवारामगढ़ थाना क्षेत्र के रायसर गांव से एक देशी कट्टा व 3 कारतूस के साथ गिरफ्तार किया है।
     अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस, अपराध, राजस्थान श्री बीएल सोनी ने बताया कि अपराधों पर अंकुश व रोकथाम हेतु प्रभावी कार्यवाई के लिए सी आई डी ( सी बी) मुख्यालय की रामसिंह उप निरीक्षक के नेतृत्व में हैड कानी दुष्यंत सिंह, शाहिद अली, मुकेश सिंह, मदन, मोहन और रामनिवास की गठित स्पेशल टीम द्वारा राज्य के टॉप 25 वांटेड अपराधियों की लिस्ट में शामिल कुख्यात ठग समुन्द्र सिंह पुत्र श्री नारायणलाल बावरिया (30) निवासी थाना रेनवाल, जिला जयपुर हाल चकडेरो का बास मारोठ जिला नागौर को गिरफ्तार किया है।
     श्री सोनी ने बताया कि समुन्द्र सिंह का एक संगठित गिरोह है जो राज्यभर में भोले-भाले लोगों को गढ़ा धन निकालने व धन दुगना करने का झांसा या लालच देकर ठगी करते है। 
ऐसे देते है ठगी की वारदात को अंजाम
गिरोह के लोग भोले भाले ओर अंधविश्वासी लोगो को अपनी बातों के जाल में फंसाकर पूजा-हवन से जमीन में गड़े चांदी के पुराने झाडशाही सिक्के एवं सोने की गिन्नीयो से भरे मटके को निकालने का लालच देकर ठगी की वारदात करते है। 
     उन्होंने बताया कि राज्य स्तरीय सर्वोच्च 25 हार्डकोर व ईनामी अपराधियों में शामिल गिरफ्तार आरोपी समुन्द्र सिंह जयपुर ग्रामीण, जयपुर शहर, जिला नागौर एवं जिला अजमेर के लगभग 20 मुकदमों में वांछित था, जिस पर महानिरीक्षक पुलिस, जयपुर रेंज द्वारा 10,000/- रूपये का ईनाम घोषित किया गया था। समुन्द्र सिंह वर्ष 2018 से फरार चल रहा है। इस दौरान भी कई व्यक्तियों के साथ करोडों रूपये की ठगी को अंजाम दिया है। 
      श्री सोनी ने बताया कि अभियुक्त के विरूद्ध थाना जमवारामढ़, जयपुर ग्रामीण में प्रकरण दर्ज किया गया है।  उसके साथियों के बारे में गहन पुछताछ की जा रही है।

Post a Comment

0 Comments