Recents in Beach

header ads

वाटर लाइन में कनेक्शन बना नूंह प्रशासन के गले की फांस


नूंह फोटो 2: नूंह सचिवालय के सामने विरोध करता एक परिवार।

धनेश विद्य़ार्थी, नूंह। 
नूंह शहर के वार्ड एक में 7 अक्तूबर को जलापूर्ति पाइप लाइन में कनेक्शन अब नूंह प्रशासन की गले की फांस बन गया है। दो पक्षों के बीच इस विषय पर हुई कहासुनी के बाद मारपीट के मामले ने दोनों पक्षों को आमने-सामने ला दिया है। दोनों पक्ष एक-दूसरे के खिलाफ प्रशासन और पुलिस को घेरते हुए सचिवालय के सामने धरने पर बैठ गए हैं। 
एक पक्ष के खिलाफ छेड़छाड़ का केस दर्ज होने पर संबंधित परिवार सचिवालय के सामने नूंह-पलवल रोड पर धरने पर बैठे हैं। इनका कहना है कि उनका धरना न्याय मिलने तक जारी रहेगा। पुलिस को इंसाफ की गुहार लगाने जाने के बाद अभी तक मामला नहीं सुलझा है। बता दें कि नूंह के वार्ड 7 में 7 अक्तूबर को वाटर पाइप लाइन में कनेक्शन को लेकर दो पक्ष झगड़ गए। झगड़े में एक परिवार की ओर से 15 आरोपियों के खिलाफ नूंह पुलिस ने 12 अक्तूबर को मारपीट का केस दर्ज किया। बाद में दूसरे पक्ष ने पहले पक्ष के 19 वर्षीय बैटे पर छेड़छाड़ का केस दर्ज करा दिया गया। 
यह केस दर्ज होने के बाद वो परिवार सोमवार को सचिवालय के सामने धरने पर बैठ गया। ये लोग अपने छोटे बच्चों के हाथों में पुलिस के विरोध वाले बैनर और पटिटयां लिए बैठे हैं, जिन पर डीएसपी नूंह अनिल कुमार और एसएचओ नूंह जगराम मुर्दाबाद के नारे भी लिखे हैं। इस मामले पर जब डीएसपी नूंह अनिल कुमार ने सम्पर्क किया तो उन्होंने विभागीय बैठक में होने की बात कही। 

Post a Comment

0 Comments