Recents in Beach

header ads

दो हजार किलो सिन्थेटिक पनीर की खेप व दो पीकअप के साथ चार मिलावट खोर गिरफ्तार

दो हजार किलो सिन्थेटिक पनीर की खेप व 2 पिकअप जप्त, चार मिलावट खोर गिरफ्तार

         क्राइम ब्रांच व थाना चंदवाजी की टीम ने दिया कार्रवाई को अंजाम
जयपुर- एक माह से मिलावटखोरों की रेकी कर रही जयपुर ग्रामीण पुलिस की स्पेशल टीम ने थाना चंदवाजी पुलिस के सहयोग से बुधवार को जयपुर शहर में खपाने हेतु मेवात से तैयार कर लाया जा रहा दो हजार किलो सिन्थेटिक पनीर की खेप व 2 पिकअप जप्त कर चार मिलावटखोरों को गिरफ्तार किया है।
     पुलिस अधीक्षक जयपुर ग्रामीण श्री शंकर दत्त शर्मा ने बताया कि अलवर से भारी मात्रा में नकली पनीर जयपुर शहर व आसपास के क्षेत्रों में सप्लाई होने की पुख्ता जानकारी प्राप्त होने पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुख्यालय श्री ज्ञान चंद यादव को मिलावट के इस पूरे नेटवर्क का पर्दाफाश करने का जिम्मा सौंपा गया।
    श्री शर्मा ने बताया कि बुधवार को कार्यालय की क्राइम ब्रांच की स्पेशल टीम के एएसआई श्री हेमराज व चंदवाजी थाने के उपनिरीक्षक श्री अतर सिंह  के नेतृत्व में गठित टीम ने अलवर के मेवात क्षेत्र से जयपुर शहर में दादी का फाटक स्थित कोमल पनीर उद्योग  व शास्त्री नगर के बरसाना पनीर भंडार में सप्लाई होने आए 2000 किलो सिंथेटिक पनीर की खेप को जप्त कर इस गोरखधंधे में लिप्त चार शातिर मिलावटखोरों थाना  नौगांवा जिला अलवर निवासी शौकत, इमरान व अब्दुल मेव तथा थाना फिरोजपुर जिला नूंह हरियाणा निवासी शरीफ को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है।
     उन्होंने बताया कि सिंथेटिक पनीर की जांच हेतु केंद्रीय खाद्य सुरक्षा विभाग के आयुक्त श्री के के शर्मा को जानकारी दी गई जिन्होंने एक दल को कार्रवाई हेतु मौके पर भेजा। मौके पर आई टीम ने पनीर की जांच कर सैंपल लिये। जांच दल द्वारा पनीर को सिंथेटिक पाए जाने पर त्वरित कार्रवाई करते हुए मौके पर ही नष्ट किया गया।
      पुलिस अधीक्षक ने आमजन से अपील भी की कि इस तरह के अपराधों पर नजर रखें और पुलिस को खबर करें ताकि मिलावट खोरी कर लोगों के स्वास्थ्य खिलवाड़ करने वालों के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई की जा सके। उन्होंने बताया कि सिंथेटिक खाद्य पदार्थों के उपयोग से एसिडिटी, पेट में अल्सर, लिवर व किडनी पर घातक प्रभाव के साथ कैंसर जैसे असाध्य रोग हो जाते हैं।

Post a Comment

0 Comments