Recents in Beach

header ads

प्रो-कबडडी लीग के फाइनल में सबसे पहले पहुंची टीम फिरोजपुर नमक. पहली दिसंबर को बीवां में होगा अंतिम मुकाबला

नूंह फोटो: मुख्य अतिथि सुनील जिन्दल खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त करते हुए, सम्मानित मंच 

धनेश विद्यार्थी, नूंह। 
रविवार को तावडू के रामलीला मैदान में आयोजित तीसरे मेवात प्रो कब्बडी लीग में शामिल आठ टीमों ने अपनी प्रतिभा दिखाई। इसमें फिरोजपुर नमक की टीम सबसे पहले फाइनल में अंकों के आधार पर बढ़त बनाते हुए पहुंच गई है। अंतिम मुकाबले पहली दिसंबर को अरावली की तलहटी में स्थित गांव बीवां के सरकारी स्कूल में आयोजित किए जाएंगे। 

नूंह फोटो: अपनी प्रतिभा दिखाते खिलाड़ी।  
बता दें कि इस लीग के मुकाबले पहली नवंबर को हरियाणा दिवस के मौके पर गांव बीवां के राजकीय माध्यमिक विद्यालय से शुरू हुए। प्रत्येक रविवार को अलग-अलग जगहों पर कबडडी के मुकाबले कराए गए। ये मुकाबले एबीएस फाउंडेशन और एवी एग्रो फूड प्रा. लि. के सौजन्य से कराए जा रहे हैं। इस खेल आयोजन के समन्वयक नवीन लाठर ने बताया कि इस लीग में सुपर 8 में शामिल टीमों के मुकाबले प्रत्येक रविवार को कराने का निर्णय लिया गया ताकि अधिकाधिक दर्शकों तक पहुंचाया जा सके। रविवार को खेले गए मुकाबलों में पहला मुकाबला हसनपुर बनाम बिस्सर के बीच हुआ, जिसमें बिस्सर की टीम विजयी रही। 
दूसरा मुकाबला फिरोजपुर नमक बनाम तावडू की टीम के बीच हुआ, जिसमें फिरोजपुर नमक की टीम विजेता बनी। तीसरा मुकाबला घासेड़ा बनाम मालब की टीमों के बीच हुआ, जिसमें घासेड़ा विजेता बनकर उभरी और चैथा मुकाबला सराय और राठीवास की टीम के बीच हुआ, जिसमें विजय-श्री ने टीम राठीवास का वरण किया। 
रविवार को इन मुकाबलों का शुभारम्भ आरएसएस के जिला प्रमुख सुनील जिन्दल ने किया। 
इस मौके पर उन्होंने खिलाड़ियों का परिचय हासिल करने के बाद उन्होंने खेलों से अपना नाता जोड़कर दुनिया में आगे बढ़ने की सीख दी। इस मौके पर विभिन्न मुकाबलों में बेहतर प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को दर्शकों एवं मुख्य अतिथि तथा विशिष्ट अतिथियों ने नकद सम्मान दिए। एबीएस फाउंडेशन के इन खेल मुकाबलों की आयोजन समिति में एबीएस फाउंडेशन के प्रबंध निदेशक नवीन लाठर, प्रवक्ता सफी मोहम्मद, प्रवक्ता अशरफ मेवाती, मास्टर वसीम, मास्टर सूबेदार, मास्टर इकबाल, पीटीआई इकबाल, मास्टर अरशद, राष्ट्रीय कब्बडी कोच वेदराम शर्मा, भोला, अंक एकत्रण निर्णायक एवं कुश्ती खलीफा खान मोहम्मद रिठौड़ा समेत तावड़ शहर के सैंकड़ों लोग मौजूद रहे। 

Post a Comment

0 Comments