वो उस वहशी दरिन्दे से अपनी बकरी मांगने गयी लेकिन उसे जो मिला वो आपकी रूह को कपा देगा



धनेश विद्यार्थी, नूंह। 
नूंह जिले के कस्बा फिरोजपुर झिरका के साथ लगते गांव ग्यासनियाबास की मूल निवासी एवं कक्षा 3 में पढ़ने वाली अबोध बालिका के संग दुष्कर्म के बाद गले में पड़ी चुन्नी से मृतका का गला घोंटकर हत्या करने वाले आरोपी को पुलिस ने काबू कर लिया है। पुलिस जल्द इसे अदालत में पेश करके जरूरी पूछताछ के लिए रिमांड पर लेने वाली है। 

मृतका पहाड़ पर अपनी बकरी लाने गई थी 

जिला मुख्यालय नूंह में पुलिस विभाग के डीएसपी स्तर के अधिकारी ने प्रैसवार्ता में इस वारदात के सारे वाक्या की विस्तृत जानकारी दी कि किस तरह मृतका पहाड़ पर पहुंची और वहां आरोपी ने उसके साथ किस प्रकार इस वारदात को अंजाम दिया। पुलिस के अनुसार मृतका की एक बकरी पहाड़ पर रख गई, जिसे आरोपी ने पकड़ लिया। उसे छोड़ देने की बार-बार गुहार लगाने के बाद भी आरोपी ने उसे नहीं छोड़ा। पुलिस के मुताबिक चूंकि आरोपी को नशा करने की आदत है, इसलिए उसने अपनी इस आदत को पूरा करने के लिए बकरी को पकड़ा। मृतका के बकरी को छोड़ देने पर उसने गुस्से में आकर अबोध बालिका के संग पहले दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया फिर उसकी गले की चुन्नी से उसका गला घोंटकर हत्या कर दी और बकरी लेकर फरार हो गया। 
आरोपी ने पकड़ ली थी बकरी, मांगने पर नहीं लौटाई 

बता दें कि पुलिस ने रविवार को सीसीटीवी फुटेज के आधार पर इस आरोपी की पहचान कराने का काम शुरू किया। बाद में पुलिस जांच में आरोपी मुकीम उर्फ मुस्ती उर्फ दुडकी पुत्र ताहिर उर्फ पिठठु निवासी निमली थाना तिजारा राजस्थान निकला जोकि वारदात के बाद फिरोजपुर झिरका के रास्ते नूंह चला गया और वहां से दिल्ली जाने की फिराक में था। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने पत्रकारों को बताया कि नूंह पुलिस ने इस आरोपी नूंह के बस अडडे से काबू किया। फिलहाल इसे अदालत में पेश करके रिमांड पर लेने की तैयारी चल रही है। आरोपी से इस वारदात की जगह की पहचान कराने के साथ उन कपड़ों को भी पुलिस ढूंढेगी, जो वारदात के वक्त आरोपी ने पहने हुए थे। 
फिर दुष्कर्म के बाद चुन्नी से घोंट दिया गला

पुलिस अधिकारी के मुताबिक आरोपी ने वारदात के वक्त अलग जूते पहने हुए थे मगर जब इसे काबू किया गया तो उसने जूते बदल रखे थे। आरोपी से वारदात में इस्तेमाल जूते और जिस चुन्नी से मृतका का गला घोंटा गया, वह भी अभी बरामद किए जाने हैं। फिलहाल दुष्कर्म और हत्या की यह गुत्थी सुलझ जाने से जिला नूंह पुलिस ने राहत की सांस ली है। प्रैसवार्ता में सीआईए फिरोजपुर झिरका एवं महिला पुलिस, साइबर सैल, झिरका पुलिस के अधिकारी भी मौजूद रहे। 

Post a Comment

0 Comments