Recents in Beach

header ads

रेवाड़ी के राव तुलाराम स्टेडियम में राहगीरी कार्यक्रम आयोजित

दिया संदेश: मिलकर रहो-खुलकर जियो 
विभिन्न गतिविधियों से लाभान्वित हुआ युवा वर्ग 
धनेश प्रभाकर, रेवाड़ी। 
रविवार को शहर के दिल्ली रोड स्थित राव तुलाराम स्टेडियम में राहगीरी कार्यक्रम आयोजित किया गया। विश्व एडस दिवस पर आयोजित इस प्रोग्राम में एडस के प्रति लोगों को जागरूक किया गया। जिला प्रशासन और पुलिस विभाग की संयुक्त पहल पर आयोजित इस प्रोग्राम में प्रतिभागी युवा और कलाकार अपना संदेश देने में कामयाब रहे। 
सिविल सर्जन डा. कृष्ण कुमार ने युवाओं को अपना संदेश देते हुए एड्स से बचाव का सबसे सरल उपाय, इसकी जानकारी होना और इससे सावधान रहना, बताया। उन्होंने एडस से प्रभावित व्यक्ति के साथ सामान्य व्यक्ति की तरह व्यवहार करने की सीख भी दी। सिविल अस्पताल की एड्स कंट्रोल सोसायटी ने युवाओं को विश्व एड्स दिवस पर एड्स से बचने के उपाय बताए।
कैसे होगा बचाव: 
अक्सर लोग जानकारी के अभाव में कभी भी नाई की दुकान पर दाढ़ी व बाल बनवाते समय उसको नहीं टोकते कि वो नया ब्लेड प्रयोग करे। चाकू को डिटोल से धो लें, किसी भी पुरानी सीरिंज का ना छुएं, रात को सोते वक्त मच्छरदानी का प्रयोग करें ताकि एड्स का कोई भी वायरस आपके शरीर में प्रवेश ना कर सके ताकि आप इस जानलेवा बीमारी से बचे रहे। 
क्या है एचआईवी संक्रमण: 
एचआईवी एक जानलेवा इंफेक्शन से होने वाली गंभीर बीमारी है। जिसे ह्यूमन इम्यूनोडेफिशिएंसी वायरस यानि एचआईवी के नाम से जाना जाता है। जबकि इसे आम बोलचाल में एड्स यानि एक्वायर्ड इम्यून डेफिशिएंसी सिंड्रोम बोला जाता है। इस बीमारी में जानलेवा इंफेक्शन शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता (इम्यून सिस्टम) पर हमला करता है। जिससे शरीर सामान्य बीमारियों से लडने में भी अक्षम होने लगता है। 
एचआईवी एड्स के लक्षण: 
लम्बे समय से गले में खरास या खांसी रहना, बार-बार सांस फूलना, बुखार रहना, सिरदर्द रहना, मांसपेशियों में दर्द रहना, रात को सोते वक्त पसीना आना, शारीरिक कमजोरी महसूस करना, तेजी से वजन कम होना, त्वचा पर लाल चकत्ते, लगातार दस्त रहना, मुंह में छाले, गर्दन पर सूजन, धुंधला नजर आना आदि।
सावधानियां: 
1. एचआईवी इंफेक्शन से बचने के लिए सुरक्षा के साथ केवल अपने जीवन साथी से ही यौन संबंध बनाए। 
2. एचआईवी का वायरस ट्रांसमिटिड ब्लड या रियूज इंजेक्शन सीरिंज के जरिए भी फैल सकता है, इसलिए हमेशा ब्लड लेते समय नई सीरिंज का ही इस्तेमाल करें। 
3. एचआईवी वायरस हाथ मिलाने, साथ खाना खाने और साथ रहने से दूसरे व्यक्ति में प्रवेश नहीं करता इसलिए एचआईवी प्रभावित व्यक्ति से भेदभाव ना करें। 
-------------
प्रोग्राम में दिखे ये रंग 
इस बार राहगीरी प्रोग्राम में पार्थ का संगीत, युद्धवीर पतंजलि योगपीठ के योगासन, दिव्यांग मानसिंह का डांस, मानवी भारद्वाज का सोलो सांग, निधि सैन, आराध्या शर्मा व तुषार शर्मा का डांस, मीनाक्षी की कविता, अवकेश द्वारा फोक सोंग, विवेकानंद स्कूल की मुस्कान का सोलो डांस, तमन्ना, मानसी, इशिका, टिशु, नेहा, अंजली का डांस, सेक्टर 18 महिला कालेज की छात्राओं का डांस, पलक, भूमिका, जिया, दिव्या का डांस, सिविल हस्पताल की ओर से कन्या भ्रूण हत्या पर लघु नाटिका, चन्दन सिंह की नशा एवं दहेज विरोधी कविता, आरबीआर स्कूल बासदूदा के बच्चों का रंगारंग दर्शकों को देखने को मिला। 
किसने किया क्या: 
राहगीरी में अपोलो क्लीनिक, रेवाड़ी, जिला आयुष विभाग और रैडक्रास आईटी प्रोजेक्ट टीम द्वारा निःशुल्क स्वास्थ्य जांच लगाया गया। अमन यादव ने लाइव पेंटिंग बनाई। जिला खेल अधिकारी परसराम ने राहगीरी में बच्चों को खेलों का महत्व बताया। 
स्वच्छता को अपनाने की अपील 
चूंकि उपायुक्त यशेंद्र सिंह के मार्गदर्शन में जिला रेवाड़ी स्वच्छता में राष्ट्रीय स्तर पर तृतीय और उत्तरी भारत में द्वितीय स्थान प्राप्त कर चुका है। इसलिए सभी जिलावासियों से स्वच्छता को अपनाने की अपील करने के साथ ही रेवाड़ी को पालीथिन मुक्त बनाने के लिए लोगों को जूट के थैले बांटे गए। 


रेवाड़ी फोटो: राहगीरी प्रोग्राम के नजारे। 
कौन हुआ शामिल: 
राहगीरी प्रोग्राम में डीएसपी जितेन्द्र, जिला आयुष अधिकारी अजीत यादव, जिला खेल अधिकारी परसराम, सचिव रैडक्रास श्याम सुंदर, डा. अशोक कुमार, अध्यक्ष आरएसओ रेवाड़ी अध्यक्ष रमेश वशिष्ठ, पीआरओ दीनदयाल, जिला ट्रेफिक ताऊ दलीप शास्त्री, इंचार्ज शाकुंतलम नाटय संस्था सतीश मस्तान, प्रदीप गोयल,बृजेश अग्रवाल समेत सैंकड़ों युवा एवं अन्य लोग शामिल हुए। 

Post a Comment

0 Comments