एक बलात्कारी क्रन्तिकारी जिसने किया युवाओ को बहकाकर ये गन्दा काम

नई दिल्ली:टीम अजेयभारत : आज आपको हम बताने जा रहे है एक ऐसे नए बाबा की कहानी जिसके ऊपर हत्या बलात्कार और अपने विरोधियों पर झूठे मुक़दमे दर्ज़ करवाने के आरोप लग रहे है लेकिन जैसा की भारतीय न्याय प्रणाली में शुरू से होता आया है की जैसे ही किसी ताकतवर इंसान के ऊपर आप कोई आरोप लगाने की हिम्मत करोगे तो सारी न्याय प्रणाली पहले शिकायतकर्ता को ही गलत साबित करने में लग जाती है जिनसे जनता को न्याय की उम्मीद होती है वही शिकायतकर्ता को "साम दाम दंड भेद " की नीति में फ़साने लग जाते है और यदि ये सारी नीतिया भी फेल हो जाती है तो आखिर में शिकायतकर्ता को हमेशा के लिए चुप करा देने की चाल चलदी जाती है, लेकिन कुछ केस ऐसे होते है जो की मीडिया में उछाल दिए जाते है और जनता का साथ भी पीड़ित को मिलता है तब कंही जाकर न्याय की एक लौ जलती है लेकिन जरुरी नहीं की तब भी आपको न्याय मिल जाए.

अब बात करते है ऐसे ही एक और गुरु ज अपने आप को क्रांतिकारी, भगवान् , सत्ता परिवर्तन करने वाला और अपने आप को आने वाला प्रधानमत्री भी कभी कभी कहता है, जिसके अनुयायी भी हजारो में है और जो कहता है की मुझे सिर्फ १५ से ३० की उम्र के लड़के लड़किया चाहिए जो की क्रांति कर सके लेकिन साथ ही इस तथाकथित क्रन्तिकारी ने लोगो को कहा है की उन्हें अपना घर बार सबकुछ छोड़ देना चाहिए और अपना जीवन देश की सेवा में लगा देना चाहिए, साथ ही बताया जा रहा है की उक्त बाबा के सम्बन्ध कई सत्ताधारी राज्य और केंद्रीय मंत्रियों से भी है जिसके कारण पुलिस उक्त गुरूजी के खिलाफ कोई भी कार्यवाही नहीं करती

सूत्रों से प्राप्त जानकारी से पता चला है की उक्त क्रन्तिकारी जिसका नाम चंद्रमोहन है और जो परमधाम मेरठ का संस्थापक भी है साथी ही उक्त क्रन्तिकारी के उत्तराखंड में भी आश्रम है जिसमे रहने वाली दो महिलाओ ने उक्त गुरु पर बलात्कार का आरोप भी लगाया और राजपुर  पुलिस  स्टेशन  में 23-08-2019 F.I.R नंबर - 0131 देहरादून उत्तराखंड, देहरादून में सहस्त्रधारा पुलिस स्टेशन में रजिस्टर्ड हुई लेकिन कछुआ गति से चली ये जांच आजतक भी बिना किसी ठोस कार्यवाही के फाइनल रिपोर्ट की कोई भी सबूत नहीं मिला कह कर बंद कर दी गयी है

पीड़िता से जब अजेयभारत ने बात की तो उन्होंने बताया की उक्त आश्रम में पहले cctv लगे थे लेकिन जब महिला पुलिस उन्हें अपने साथ जाँच के लिए लेकर गयी तो आश्रम से सभी cctv गायब कर दिए गए पीड़िता के भाई ने बताया की हम शुरू से ही कह रहे थे की स्थानीय पुलिस उक्त बाबा के प्रभाव में है और इसकी जांच CBI से या फिर किसी अन्य राज्य की पुलिस से करानी चाहिए लेकिन किसी ने भी हमारी बात नहीं सुनी हमने PMO से लेकर  सभी को इस बलात्कारी गुरु की शिकायत की है

लेकिन आजतक किसी ने भी हमारी सहायता नहीं की कुछ अन्य लोगो ने बताया की हम जब उक्त बलात्कारी और ढोंगी क्रन्तिकारी के बहकावे में आकर उसे क्रांति के नाम पर लाखो रुपयों का चंदा दे चुके है और कुछ लोग अपनी जमीन तक बेचकर उसके साथ इस झूठे मिशन में बहककर काम कर रहे है जब तक हमें समझ आता है की ये सब एक फरेब है तब तक बहुत देर हो चुकी होती है और यदि कोई भी इसके खिलाफ कोई आवाज उठाता है तो ये उसपर झूठे केस लगवा देता है, इसने ना जाने कितने भोलेभाले युवक युवतियों और नाबालिगों का शारीरिक मानसिक शोषण किया है ये तो अगर किसी स्वतंत्र जांच एजेंसी से जांच करवाई जाये तो सारा दूध का दूध और पानी का पानी हो जायेगा.


उन्होंने बताया की 2005 में उक्त बलात्कारी ने अपनी पत्नी और एक सेवक की भी हत्या करवा दी थी लेकिन उसमे भी स्थानीय पुलिस के साथ मिलकर इसने मालखाने से सारे सबूत गायब करवा दिए और केस को कमजोर करवा दिया जिससे की ये आजतक पुलिस के शिकंजे में नहीं फसा है, हम अजेयभारत के माध्यम से अपील करते है की हमें न्याय दिलाया जाए और इस केस की जांच CBI से करवाई जाए ताकि ये कथित क्रांतिकारी जो की वास्तव में बलात्कारी है को जेल की सलाखों के पीछे भेजा जाये.

Post a Comment

0 Comments