दो दिवसीय जिला स्तरीय उद्यम समागम का फीता काटकर कलक्टर उमरदीन खान ने किया शुभारंम्भ

दो दिवसीय जिला स्तरीय उद्यम समागम का जिला कलक्टर यूडी खान ने फीता काटकर किया शुभारंम्भ

दो दिवसीय जिला स्तरीय उद्यम समागम का फीता काटकर जिला कलक्टर यूडी खान किया शुभारंम्भ
व्यक्ति स्वयं का उद्यम स्थापित कर अन्य लोगों को रोजगार देने वाला बने - जिला कलक्टर उमरदीन खान



(राकेश अग्रवाल, सवांदाता झुंझुनूं )
झुंझुनू, 13 फरवरी, ग्रामीण हाट आबुसर में जिला प्रशासन, जिला उद्योग केन्द्र एवं एमएसएमई के संयुक्त तत्वाधान में कृषि व खाद्य प्रसंस्करण उद्यम विकास के लिए दो दिवसीय जिला स्तरीय उद्यम समागम का जिला कलक्टर उमर दिन खान, सभापति नगमा बानो, जिला परिषद सीईओ रामनिवास जाट ने फीता काट काट एवं दीप प्रज्जवलित कर शुभारंम्भ किया।

       जिला कलक्टर उमरदीन खान ने कहा कि इस तरह उद्यमियों को प्रोत्साहित करने के लिए झुंझुनू जिले में दो दिवसीय उद्यम समागम के माध्यम से लोगों को उद्यम के प्रति जागरूक करना असल मकसद है, इससे उद्यमियों को जानकारी प्राप्त कर संभावित लाभ मिलेगा। उन्होंने देश में बेरोजगारी के बढ़ते स्तर को देखते हुए कहा कि 11 वीं कक्षा से लेकर कॉलेज तक के छात्र-छात्राओं को उद्यम स्थापित करने के लिए सभी शिक्षण संस्थाए प्रेरित करें। आज हर व्यक्ति शिक्षा प्राप्त कर नौकरियों की तैयारियों में लगा हुआ है, उन्होंने कहा कि नौकरी करना अच्छा हैं, परंतु व्यक्ति स्वयं का उद्यम शुरू करकर दूसरे अन्य लोगों को रोजगार देवें, जिससे कि बेरोजगारी के स्तर को कम किया जा सकें।

खान ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना हैं, जिसमें उद्यमों की सरल स्थापना है, जिससे कि सभी वर्गो के व्यक्तियों को रोजगार के नए अवसर देने के लिए बैंको के माध्यम से ब्याज अनुदान युक्त ऋण उपलब्ध करवाया जाएगा। उन्हाेंने कहा कि उद्यम समागम का मुख्य उद्देश्य स्वयं के उद्यम, विनिर्माण, सेवा एवं व्यापार स्थापित करने के लिए विविधकरण, आधुनिकीरण के लिए कम लागत में ऋण उपलब्ध कराकर रोजगार के नवीन अवसरों को सृजन करना है। उन्होंने कहा कि इस तरह की कार्यशाला के माध्यम से आम लोग जागरूक होकर अधिक संख्या मे लाभ प्राप्त करेंगे।खान ने उद्यम समागम में स्थापित जिले के उद्यमियों द्वारा बनाएं हुए उत्पादों की अनेक स्टॉल का निरीक्षण किया।

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रही नगर परिषद सभापति नगमा बानो ने कहा कि जिले के लोग उद्यम स्थापित करने के लिए प्रोत्साहित होंगे, राज्य सरकार द्वारा अनेक योजनाएं चलाई जा रही हैं, जिसकी जानकारी लेकर आम व्यक्ति योजना का लाभ प्राप्त कर सकता है। कार्यक्रम में बतौर विशिष्ट अतिथि जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रामनिवास जाट ने उद्यमों की सरल स्थापना करने के लिए राज्य सरकार द्वारा दिए जा रहे ऋण के बारे में जानकारी दी।

कार्यक्रम में पिलानी, चिड़ावा, झुंझुनू, चिराणा, सिरियासर कलां, नवलगढ़, खाजपुर, बिसाउ सहित विभिन्न जगहों के खाद्य प्रदार्थ बनाने वाली औद्योगिक इकाईयों ने अपने उत्पादों का प्रदर्शन किया। कार्यशाला में लधु उधोग संघ पिलानी के अध्यक्ष महेन्द्र झाझडिया, लधु उधोग संघ चिडावा के धर्मपाल जानू, व्यापार संघ के ताराचंद भोडकीवाला, उद्योग विभाग के उपनिदेशक चिरंजीलाल, सहायक निदेशक केसी मीणा, डी.के. अग्रवाल, सत्यप्रकाश शर्मा, महेन्द्रा फाइनेंस के जितेन्द यादव, सीटीओ उपेश जालान,एक्सईएन जगदीश गढवाल उपस्थित रहे।

इस दौरान उद्योग केन्द्र द्वारा 9 फरवरी को आयोजित निबन्ध एवं चित्रकला प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को पुरस्कार एवं प्रशस्ति पत्र प्रदान किए जाएंगे। निबंध प्रतियोगिता में शहीद कर्नल जेपी जानू के तोहिद कपूर प्रथम, जेके मोदी राबाउमावि की टीना योगी द्वितीय, सेठ शिवदत्तराय उमावि बड़ागांव की आरती ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। इसी प्रकार चित्रकला प्रतियोगिता में सेठ शिवदत्तराय उमावि बड़ागांव ने प्रथम, शहीद कर्नल जेपी जानू राउमावि के विक्रम डिग्रवाल ने द्वितीय एवं करीना बानो ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। दोनों प्रतियोगिताओं में प्रथम को 10 हजार रूपये द्वितीय को 7 हजार 500 रूपये, तृतीय को 5 हजार का नकद इनाम अतिथियाें द्वारा दिया गया।
14 फरवरी को समापन समारोह आयोजित किया जाएगा। इस दौरान जेइएम दिल्ली सूरज शर्मा, महिला अधिकारिता, कृषि, उद्यान, केवीआईसी आदि विभागों के प्रतिनिधियों द्वारा विभागीय योजनाओं की जानकारी प्रदान की जाएगी।


Post a Comment

0 Comments