सरकारी विभाग उत्पन्न होने वाले मलबे को नगर निगम द्वारा निर्धारित स्थानों पर ही डालें



निर्धारित स्थानों की सूची गूगल कोर्डिनेट्स सहित नगर निगम गुरूग्राम की वैबसाईट पर है उपलब्ध

गुरूग्राम: ऐसे सभी सरकारी विभाग जो निर्माण गतिविधियों से जुड़े हुए हैं तथा उनके द्वारा की जाने वाली निर्माण एवं तोडफ़ोड़ गतिविधियों से मलबा उत्पन्न होता है, वे उक्त मलबे को नगर निगम गुरूग्राम द्वारा निर्धारित स्थानों पर ही पहुंचाएं। निर्धारित स्थानों के अलावा, मलबा डालना गलत है।

नगर निगम गुरूग्राम द्वारा मलबे को डालने के लिए निगम क्षेत्र में 16 स्थान निर्धारित किए हुए हैं। इनमें सीएंडडी वेस्ट प्लांट बसई, जेल रोड़ नियर पटवारी ऑफिस, ऑटो चौक इंडस्ट्रियल एरिया, बेरी चौक नियर लघु सचिवालय, नियर पब्लिक टॉयलेट उद्योग विहार, नियर गणपति फाइनैंशियर सर्विस सैक्टर-22, छिप्पी कॉलोनी सैक्टर-21, व्यापार सदन महरोली रोड़, गोल्फ कोर्स रोड़, नियर ताऊ देवीलाल बायोडायवर्सिटी पार्क, वजीराबाद गांव रोड़, सैक्टर-44, इंस्टीट्यूशनल एरिया सैक्टर-32, मोहयाल कॉलोनी के नजदीक सैक्टर-39, गोल्फ कोर्स एक्सटैंशन रोड़ सैक्टर-57 तथा निरवाणा सैंट्रल रोड़ सैक्टर-50 की साईटें शामिल हैं। इन साईटों के अलावा अन्य किसी भी स्थान पर मलबा ना डाला जाए। इन साईटों के गूगल कोर्डिनेट्स भी नगर निगम गुरूग्राम की वैबसाईट www.mcg.gov.in पर उपलब्ध हैं।

नगर निगम गुरूग्राम द्वारा गुरूग्राम महानगर विकास प्राधिकरण, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण, एचएसआईआईडीसी, वन विभाग तथा राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण को पूर्व में पत्र लिखकर उनसे संबंधित भूमि पर पड़े सीएंडडी वेस्ट तथा गारबेज को उठाने बारे कहा जा चुका है। पत्र में कहा गया है कि इन विभागों से संबंधित भूमि पर गारबेज तथा सीएंडडी वेस्ट पड़ा हुआ है, जिसके कारण पर्यावरण प्रभावित हो रहा है। विभागों को उनके हर्जे-खर्चे पर सीएंडडी वेस्ट तथा गारबेज उठाने बारे कहा गया है।

पत्र में यह भी कहा गया है कि अगर संबंधित विभाग अपनी जमीनों से सीएंडडी वेस्ट तथा गारबेज नहीं उठाता है, तो नगर निगम गुरूग्राम द्वारा यह कार्य किया जाएगा तथा इस पर आने वाला खर्च संबंधित विभाग को वहन करना होगा। विभागों से यह भी कहा गया है कि भविष्य में उनकी भूमि पर दुबारा से मलबा या कचरा ना डाला जाए, इस बारे में संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया जाए।

Post a Comment

0 Comments