मंत्री जी के फ़ोन के बाद कलक्टर साहब ने दो घंटे में जारी की एक एक लाख की सहायता स्वीकृति


सीकर- सीकर गैस हादसे को चार दिन हो गए और एभी तक प्रशासन जांच में उलझा रहा, मंत्री जी ने फोन किया तो कलक्टर ने दो घंटे में जारी की स्वीकृति
सीकर गैस हादसे के मृतकों के परिजनों को एक-एक लाख की सहायता राशि ।
एजेन्सियों ने अभी तक नहीं दी जांच रिपोर्ट
सीकर। आपको बतादे की गैस हादसों में मौत के मामले में जिला प्रशासन चार दिन से जांच रिपोर्ट बनाने में उलझा हुआ है। सोमवार दोपहर को शिक्षा राज्य मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा के फोन के बाद जिला प्रशासन हरकत में आया। जिला प्रशासन शेखपुरा मौहल्ला के दोनों मृतकों के आश्रितों को एक-एक लाख रुपए की सहायता राशि स्वीकृत कर दी है। जबकि गैस एजेन्सियों ने अभी तक कोई भी सहायता राशि नहीं दी है। गौरतलब है कि शिक्षा मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने फोन कर कई अधिकारियों को लताड़ लगाई और कहा कि आपकी रिपोर्ट बनती रहेगी पहले मृतकों को सहायता राशि दी जाए। इसके बाद जिला कलक्टर ने दो घंटे में स्वीकृति जारी कर दी।
शिक्षा मंत्री ने डोटासरा ने जिम्मेदारों से पूछा हादसे का कारण
कलक्टर, एडीएम व डीएसओ को आज ही सहायता राशि देने के निर्देश
सीकर। शहर में हुए गैस हादसों से तीन मौतों के बाद भी जिला प्रशासन की संवेदना नहीं जगी है। जिले के ज्यादातर जनप्रतिनिधि व सामजिक संगठनों ने इस मामले में चुप्पी साध रखी है। इस बीच सोमवार को शिक्षा राज्य मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने अधिकारियों को इस मामले की जांच में ढि़लाई बरतने पर फटकार लगाई। शिक्षा मंत्री डोटासरा ने जिला कलक्टर यज्ञमित्र सिंह देव व एडीएम जयप्रकाश को फोन कर मामले की जांच रिपोर्ट नहीं आने का कारण भी पूछा। अधिकारियों ने जल्द सहायता राशि दिलवाने की बात कही तो मंत्री ने कहा कि आपके नियमों की खानापूर्ति होती रहेगी, पहले पीडि़त परिवारों को सहायता राशि दिलाओ। डोटासरा ने अधिकारियों को आज शाम तक ही सहायता राशि पीडि़त परिवारों को दिलाने की बात कही है। शिक्षा मंत्री ने कहा कि कंपनी तो नियमों का हवाला देकर इस तरह के मामलों में टालमटोल करती रहेगी। लेकिन यह तो सबके सामने है कि हादसा गैस सिलेंडर की वजह से हुई है। इसकी जांच में इतना समय लगना ही नहीं चाहिए था। गौरतलब है कि शेखपुरा में सिलेंडर में आग लगने से 17 जने घायल हो गए थे। इनमें से दो जनों की रविवार को मौत हो गई। जबकि एक अन्य हादसे में तीन दिन पहले एक महिला की भी मौत हो चुकी है।

Post a Comment

0 Comments